मुनव्वर राना की 2 बेटियों के खिलाफ UP पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा, शायर ने योगी सरकार को दी चेतावनी

ठाकुरगंज थाने में दर्ज हुई पहले एफआईआर में दारोगा सेठ पाल सिंह ने मोईनउद्दीन, रसूक अहमद, शबी फातिमा, साफिया, हफीजा और 138 अज्ञात महिलाओं के खिलाफ आईपीसी की धारा 147, 145, 188 और 283 के तहत रिपोर्ट दर्ज की है।

लखनऊ में धारा 144 लागू होने के बाद भी घंटाघर के पास सीएए के ख़िलाफ़ चल रहे प्रदर्शन मामले में पुलिस ने मंगलवार (जनवरी 21, 2019) को 3 मामले दर्ज किए। इनमें उर्दू शायर मुनव्वर राना की दो बेटियों के ख़िलाफ़ भी मुकदमा दर्ज हुआ। जानकारी के अनुसार पुलिस ने सुमैया राना और फौज़िया राना के साथ 100 से ज्यादा महिलाओं को धारा 144 का उल्लंघन करने, लोगों को भड़काने जैसे आरोपों में हिरासत में लिया। जिसके बाद मुनव्वर राना ने मीडिया के सामने आकर सरकार को चेतावनी दी और कहा कि प्रदर्शनकारियों पर पुलिस का रवैया बेहद गलत है।

मुनव्वर राना ने कहा, “एक तरफ तो सरकार तीन तलाक के मामले में कहती है कि ये हमारी बेटियाँ हैं। दूसरी ओर जब वे अपना हक माँग रही हैं, प्रदर्शन कर रही हैं तो कभी उन्हें कंबल नहीं दिया जाता, खाने को छीन लिया जाता है। बच्चे दूध से बिलख रहे हैं।” मुनव्वर राना ने कहा, “मैं सरकार को चेतावनी देते हुए अपना एक शेर फिर से कहता हूँ कि एक आँसू भी हुकूमत के लिए खतरा है, तुमने देखा नहीं आँखों का समंदर होना।”

गौरतलब है कि पुलिस ने इस मामले के संबंध में जिन लोगों खिलाफ तीन मामले दर्ज किए हैं। उनमें से 24 लोग नामजद व 140 अज्ञात हैं। एडीसीपी पश्चिमी विकास चंद्र त्रिपाठी ने बताया कि धारा 144 के चलते प्रदर्शन पूरी तरह असंवैधानिक है। घंटाघर के सामने पिछले चार दिनों से महिलाएँ अपने बच्चों के साथ नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शन कर रही हैं।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

जानकारी के मुताबिक, मंगलवार (जनवरी 21, 2020) को ठाकुरगंज थाने में दर्ज हुई पहले एफआईआर में दारोगा सेठ पाल सिंह ने मोईनउद्दीन, रसूक अहमद, शबी फातिमा, साफिया, हफीजा और 138 अज्ञात महिलाओं के खिलाफ आईपीसी की धारा 147, 145, 188 और 283 के तहत रिपोर्ट दर्ज की है। साथ ही इस एफआईआर में 20 वाहनों का भी जिक्र हैं। जिनके कारण घंटाघर के आसपास जाम लगा।

इस मामले में दूसरी एफआईआर ठाकुरगंज थाने में तैनात दारोगा कैलाश नारायण त्रिवेदी ने लईस हसन और नसरीन जावेद के खिलाफ आईपीसी की धारा 188, 505 1बी के तहत दर्ज करवाई है। वहीं , तीसरी एफआईआर में थाने में तैनात महिला सिपाही ज्योति कुमारी ने शायर मुनव्वर राना की बेटी सुमैय्या राना, फौजिया राना, रुखसाना, शबी फातिमा और 10 अज्ञात महिलाओं के खिलाफ आईपीसी की धारा 147, 145, 188 और 352 के तहत ठाकुरगंज थाने में एफआईआर दर्ज करवाई है।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

मोदी, उद्धव ठाकरे
इस मुलाकात की वजह नहीं बताई गई है। लेकिन, सीएम बनने के बाद दिल्ली की अपनी पहली यात्रा पर उद्धव ऐसे वक्त में आ रहे हैं जब एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार के साथ अनबन की खबरें चर्चा में हैं। इससे महाराष्ट्र में राजनीतिक सरगर्मियॉं अचानक से तेज हो गई हैं।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

153,901फैंसलाइक करें
42,179फॉलोवर्सफॉलो करें
179,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: