Saturday, September 25, 2021
Homeदेश-समाजडैकती के दौरान रेप करता था कदीम खान, विरोध पर कर देता था हत्या:...

डैकती के दौरान रेप करता था कदीम खान, विरोध पर कर देता था हत्या: 200+ मर्डर करने वाला छैमार गिरोह का सरगना गिरफ्तार

इंस्पेक्टर उदय प्रताप सिंह के मुताबिक, 1997 में राजस्थान में इस गिरोह ने 7 लोगों की हत्याएँ की थी, जिनमें 2 बच्चे भी शामिल थे। यह गिरोह जहाँ भी जाता था, वहाँ का फर्जी आधार कार्ड व वोटर कार्ड बनवा लेता है।

उत्तर प्रदेश समेत कई राज्यों में आतंक का पर्याय बन चुके छैमार गिरोह के सरगना फाती उर्फ कदीम उर्फ अशद खान को बुधवार (11 अगस्त 2021) को यूपी एसटीएफ की आगरा इकाई ने टीपी नगर से गिरफ्तार कर लिया। कन्नौज के तिर्वा थाना क्षेत्र के बिनौरा गाँव का रहने वाला अशद खान वर्तमान में हापुड़ के थाना गढ़ के दौतई गाँव में रह रहा था।

छैमार गिरोह दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान, बिहार, मध्य प्रदेश में दर्जनों वारदातों को अंजाम दे चुका है। उसने एसटीएफ को पूछताछ में बताया है कि उसे खुद नहीं मालूम कि उसके कितने नाम हैं औऱ उसने कितनी हत्याएँ की हैं। उसके फाती उर्फ कदीम उर्फ अशद खान उर्फ पहलवान उर्फ बबलू उर्फ मोनिस आदि नाम हैं। एसटीएफ को शुरुआती पूछताछ में पता चला है कि उसके खिलाफ 15 मुकदमे दर्ज हैं। इसमें आधा दर्जन मामले डकैती के दौरान हत्या के हैं। इसके अलावा, उसके 12 नामों का भी पता चला है।

रिपोर्ट के मुताबिक, उसे साल 2016 में एसटीएफ की लखनऊ इकाई ने गिरफ्तार किया था। हालाँकि, बाद में वह फर्जी जमानतदारों के सहारे जेल से बाहर आया और फरार हो गया। उसके खिलाफ उत्तर प्रदेश के जौनपुर में गैंगस्टर एक्ट के तहत केस दर्ज है औऱ उस पर 25,000 रुपए का इनाम भी है।

कैसे देता था वारदात को अंजाम

छैमार गिरोह के सरगना फाती ने एसटीएफ को बताया है कि उसका गिरोह बहुत ही संगठित तरीके से वारदात को अंजाम देता था। जिस भी शहर में उसे डकैती करनी होती थी तो उस इलाके में ये महिलाओं से भिखारी का वेश बनाकर रेकी करवाते थे और बाद में वारदात को अंजाम देते थे।

यह गैंग जिस घर को निशाना बनाता था वहाँ डकैती, हत्या और रेप की वारदात को अंजाम देता था। वारदात को अंजाम देते वक्त अगर कोई विरोध करता था तो ये उसकी हत्या कर देते थे। वारदात के साथ गिरोह राज्य तक बदल देता था। गैंग का सरगना खुद भी कई हत्याएँ कर चुका है।

इंस्पेक्टर उदय प्रताप सिंह के मुताबिक, 1997 में राजस्थान में इस गिरोह ने 7 लोगों की हत्याएँ की थी, जिसमें 2 बच्चे भी शामिल थे। एसटीएफ ने खुलासा किया है कि यह गिरोह अब तक 200 लोगों की हत्याएँ कर चुका है। फाती ने दावा किया है कि वो केवल 15 दिनों में ही अपना गिरोह फिर से तैयार कर सकता है।

छैमार गिरोह दिल्ली, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, मध्य प्रदेश, बिहार, हरियाणा, झारखंड में सैकड़ों वारदातों को अंजाम दे चुका है। इसकी खास बात यह है कि यह गिरोह जहाँ भी जाता है वहाँ का फर्जी आधार कार्ड, वोटर कार्ड बनवा लेता है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

Searched termsRape
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कहीं स्तनपान करते शिशु को छीन कर 2 टुकड़े किए, कहीं बार-बार रेप के बाद मरी माँ की लाश पर खेल रहा था बच्चा’:...

एक शिशु अपनी माता का स्तनपान कर रहा था। मोपला मुस्लिमों ने उस बच्चे को उसकी माता की छाती से छीन कर उसके दो टुकड़े कर दिए।

‘तुम चोटी-तिलक-जनेऊ रखते हो, मंदिर जाते हो, शरीयत में ये नहीं चलेगा’: कुएँ में उतर मोपला ने किया अधमरे हिन्दुओं का नरसंहार

केरल में जिन हिन्दुओं का नरसंहार हुआ, उनमें अधिकतर पिछड़े वर्ग के लोग थे। ये जमींदारों के खिलाफ था, तो कितने मुस्लिम जमींदारों की हत्या हुई?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
124,198FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe