Saturday, July 24, 2021
Homeदेश-समाजआरिफ, शाहनवाज, शरीफ, आबिद ने एसिड से जलाया... क्योंकि पीड़िता ने रेप केस वापस...

आरिफ, शाहनवाज, शरीफ, आबिद ने एसिड से जलाया… क्योंकि पीड़िता ने रेप केस वापस लेने से किया इनकार

पीड़ित महिला ने रेप का मामला जब कोर्ट से वापस लेने से इनकार कर दिया तो चारों आरोपितों ने उनके ऊपर तेजाब फेंक दिया। पीड़ित महिला 30 फीसदी जल गई हैं और...

देश में महिलाओं के खिलाफ बर्बरता कम होने का नाम नहीं ले रही है। पहले हैदराबाद में महिला के साथ गैंगरेप के बाद उसे जिंदा जला दिया गया, उसके बाद उन्नाव रेप पीड़िता को कोर्ट जाते समय जिंदा जला दिया गया, जिसके कुछ समय बाद महिला ने अस्पताल में दम तोड़ दिया। इन दोनों घटनाओं के बाद देश भर में लोगों का गुस्सा अभी शांत भी नहीं हुआ था कि अब मेरठ में भी रेप पीड़िता पर तेजाब फेंकने का मामला सामने आया है।

पुलिस के अनुसार 30 वर्षीय महिला ने रेप का मामला कोर्ट से वापस लेने से इनकार कर दिया तो चारों आरोपितों ने बुुधवार (दिसंबर 4, 2019) को महिला पर तेजाब फेंक दिया। जानकारी के अनुसार महिला 30 फीसदी जल गई है और उसका मेरठ के अस्पताल में इलाज चल रहा है। शाहपुर स्टेशन के सर्किल ऑफिसर गिरिजा शंकर त्रिपाठी ने बताया कि बुधवार रात को चारों आरोपित महिला के घर में जबरन घुस गए और उस पर तेजाब फेंक दिया, क्योंकि महिला ने आरोपितों के खिलाफ रेप का मामला वापस लेने से इनकार कर दिया।

गिरजा शंकर त्रिपाठी ने बताया कि जिन चार लोगों ने महिला पर तेजाब फेंका है, उनकी पहचान कर ली गई है। इन आरोपितों के नाम आरिफ, शाहनवाज, शरीफ और आबिद है। चारों कसेरवा गाँव के रहने वाले हैं। उन्होंने कहा कि चारों आरोपित फिलहाल फरार हैं, मगर जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा। 

वहीं जब पुलिस से पूछा गया कि आखिर क्यों महिला ने पुलिस से शिकायत की बजाए कोर्ट का दरवाजा खटखटाया तो विभाग के सूत्र ने बताया कि महिला ने पहले पुलिस से इस मामले की शिकायत की थी। लेकिन जाँच के दौरान किसी भी तरह का सबूत नहीं मिलने की वजह से पुलिस ने केस बंद कर दिया था।

सर्किल ऑफिसर गिरिजा शंकर त्रिपाठी का कहना है कि एसिड अटैक मामले में आरोपितों के खिलाफ आईपीसी की धारा 326ए के तहत मामला दर्ज कर लिया है। बता दें कि आईपीसी की धारा 326ए के तहत दोषी को 10 साल की सजा का प्रावधान है। उन्होंने कहा कि इसके अलावा आरोपितों के खिलाफ जिन अलग-अलग धाराओं के तहत एफआईआर दर्ज किया गया है, उसमें धारा 452, धारा 504 और धारा 506 शामिल हैं।

17 साल की लड़की को किडनैप कर 2 महीने तक गैंगरेप… फिर जिंदा जला कर त्रिपुरा में मार डाला

हैदराबाद एनकाउंटर: आरोपित की पत्‍नी ने पति का शव दफनाने से किया इनकार, रख दी ये बड़ी माँग

छेड़छाड़ और गंदी वीडियो बना वायरल करने वाला जमानत पर बाहर आया, आते ही पीड़िता को हंसिये से काटा

समाज एनकाउंटर पर जश्न मनाता है, तो उसका कारण है: उन्नाव की बेटी भी कल मर गई

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NH के बीच आने वाले धार्मिक स्थलों को बचाने से केरल HC का इनकार, निजी मस्जिद बचाने के लिए राज्य सरकार ने दी सलाह

कोल्लम में NH-66 के निर्माण कार्य के बीच में धार्मिक स्थलों के आ जाने के कारण इस याचिका में उन्हें बचाने की माँग की गई थी, लेकिन केरल हाईकोर्ट ने इससे इनकार कर दिया।

कीचड़ मलती ‘गोरी’ पत्रकार या श्मशानों से लाइव रिपोर्टिंग… समाज/मदद के नाम पर शुद्ध धंधा है पत्रकारिता

श्मशानों से लाइव रिपोर्टिंग और जलती चिताओं की तस्वीरें छापकर यह बताने की कोशिश की जाती है कि स्थिति काफी खराब है और सरकार नाकाम है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
110,987FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe