Wednesday, May 18, 2022
Homeदेश-समाजसिख महिला का इस्लामी धर्मांतरण, उस्मान ने किया निकाह: जम्मू-कश्मीर के बाद अब UP...

सिख महिला का इस्लामी धर्मांतरण, उस्मान ने किया निकाह: जम्मू-कश्मीर के बाद अब UP से सामने आई घटना

इससे पहले यूपी के रामपुर से एक सिख महिला के धर्मांतरण का मामला सामने आया था। महिला के दोनों बेटों का खतना भी करा दिया गया था।

जम्मू-कश्मीर में सिख लड़कियों के अपहरण और जबरन धर्म परिवर्तन का मामला सामने आने के बाद अब उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर से भी ऐसी ही घटना उजागर हुई है। खबर है कि यहाँ पहले एक सिख महिला को डरा-धमकाकर उसका धर्म परिवर्तन करवाया गया और फिर उससे निकाह कर लिया गया। शिकायत दर्ज होने पर एक आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया है, जबकि दूसरे की तलाश जारी है।

मुजफ्फरनगर पुलिस ने इस संबंध में ट्वीट कर बताया है कि मामले में खतौली थाने में मुकदमा दर्ज हुआ है। मामले को उत्तर प्रदेश विधि विरुद्ध धर्मपरिवर्तन अध्यादेश 2020 की धारा 3 और 5 (1) के तहत दर्ज किया गया है। आरोपितों की पहचान उस्मान और नदीम के तौर पर हुई है। पीड़िता की पहचान अमनदीप कौर के तौर पर बताई गई है।

अमनदीप ने शिकायत में बताया है कि खतौली कस्बे के उस्मान ने अपने भाई नदीम के साथ मिलकर फर्जी सर्टिफिकेट तैयार करवाए। बाद में इन्हीं सर्टिफिकेट के आधार पर अमनदीप कौर का नाम जन्नत कुरैशी, पुत्री इकबाल कुरैशी, निवासी खतौली दिखाकर उसके साथ निकाह कर लिया। शिकायत के अनुसार, अमनदीप कौर और उस्मान एक-दूसरे को 2 साल से जानते थे। इस दौरान उस्मान ने शादी का झाँसा देकर पीड़िता का यौन शोषण भी किया।

उस्मान पर ये भी आरोप है कि उसने पीड़िता की 3 लाख रुपए की एफडी तुड़वाकर उससे 2 लाख रुपए उधार लिए और बाद में फर्जी तरीके से 19 मई 2021 को निकाह कर लिया। मामला प्रकाश में उस समय आया जब 21 जून 2021 को उस्मान ने एक अन्य मुस्लिम लड़की से निकाह किया। बाद में अमनदीप ने जब उस्मान से अपने रुपए माँगे और दूसरी शादी के बारे में पूछा तो उसके साथ उस्मान के भाई नदीम ने मारपीट की। इस मामले के उजागर होने के बाद सिख समुदाय में रोष था लेकिन योगी सरकार की ओर से त्वरित कार्रवाई ने माहौल शांत करवा दिया। अब नदीम की तलाश की जा रही है।

हिंदू जागरण मंच ने इस इस मामले में रविवार को प्रदर्शन किया था। संगठन के जिला संयोजक नरेंद्र पंवार का कहना था कि खतौली कस्बे में 2 दिन पूर्व हमीरपुर की दो लड़कियों का धर्म परिवर्तन कराकर मुस्लिम लड़कों द्वारा निकाह करने का मामला सामने आया था और अब फिर एक युवती का धर्म परिवर्तन का मामला सामने आया है। इसे हिन्दू जागरण मंच बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं करेगा।

रामपुर से भी सामने आया था मामला

बता दें कि जम्मू कश्मीर में सिख लड़कियों के जबरन धर्म परिवर्तन के मामले के बीच यूपी से यह सिख महिला से जुड़ा दूसरा मामला आया है। इससे पहले वाले मामले में एक सिख महिला के पति की मौत के बाद महफूज नाम के युवक ने सहारा देने के नाम पर उसका धर्मांतरण कर उसके साथ निकाह किया था। इतना ही नहीं उसके दोनों बेटों का खतना भी करवाया था। मामले में 5 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया था।

महफूज पीड़ित महिला हरजिंदर कौर के पति का दोस्त था। घटना रामपुर जिले के बेरुआ गाँव की थी। इस मामले में सेफनी चौकी के इंचार्ज प्रवीण कटियार की तहरीर पर केस दर्ज किया गया था। पुलिस 12 मई 2021 की रात इस घटना की सूचना मिलने पर जब पहुँची तो एक चरपाई पर हरजिंदर और दूसरे पर उसके दो बेटे लेटे हुए थे जिनका खतना कराया गया था। उसका बड़ा बेटा 12 तो छोटा 10 साल का है।

महिला ने पुलिस को बताया था कि 8 मई 2021 को उसके पति का उत्तराखंड में एक सड़क हादसे में निधन हो गया। इसके बाद सहारा देने के नाम पर उसके पति का दोस्त महफूज उसे अपने गाँव ले आया। यहाँ उसने महिला का धर्म परिवर्तन करा उससे निकाह कर लिया। उसका नाम हरजिंदर कौर से बदलकर गुलिस्ता रख दिया। उसके दोनों बेटों का खतना कराने के बाद एक का नाम फरमान और दूसरे का अनस रख दिया गया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सबा नकवी ने एटॉमिक रिएक्टर को बता दिया शिवलिंग, विरोध होने पर डिलीट कर माँगी माफ़ी: लोग बोल रहे – FIR करो

सबा नकवी ने मजाक उड़ाते हुए कहा कि भाभा एटॉमिक रिसर्च सेंटर में सबसे बड़े शिवलिंग की खोज हुई। व्हाट्सएप्प फॉरवर्ड बता कर किया शेयर।

गुजरात में बुरी तरह फेल हुई AAP की ‘परिवर्तन यात्रा’, पंजाब से बुलाई गाड़ियाँ और लोग: खाली जगह की ओर हाथ हिलाते रहे नेता

AAP नेता और पूर्व पत्रकार इसुदान गढ़वी रैली में हाथ दिखाकर थक चुके थे लेकिन सामने कोई उनकी बात का जवाब नहीं दे रहा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
186,677FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe