Thursday, January 20, 2022
Homeदेश-समाजयूपी में लव जिहाद आरोपित जुबराईल की संपत्ति कुर्क: हिंदू लड़की को अगवा कर...

यूपी में लव जिहाद आरोपित जुबराईल की संपत्ति कुर्क: हिंदू लड़की को अगवा कर धर्म परिवर्तन कराने का आरोप

पुलिस का कहना है कि मुख्य अभियुक्त जुबराइल की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे है और जल्द ही उसे गिरफ्तार कर पीड़िता को भी बरामद कर लिया जाएगा। फिलहाल, इस मामले में पुलिस की कार्रवाई जारी है।

CM योगी के उत्तर प्रदेश के सीतापुर जिले में नाबालिग लड़की का अपहरण कर धर्म परिवर्तन कराने के मामले में एसीजेएम कोर्ट ने आरोपित की संपत्ति कुर्क करने का आदेश दे दिया है। आदेश मिलते ही शनिवार (जनवरी 09, 2021) को सब डिवीजनल मजिस्ट्रेट की उपस्थिति में घर और जमीन को संलग्न किया गया। इससे पहले पुलिस ने शुक्रवार (जनवरी 08, 2021) को उनकी वैन को जब्त कर लिया था।

लड़की को भगा ले जाने का आरोप

मामला तंबौर थाने का हैं। जानकारी के मुताबिक इसी थाना क्षेत्र में बीती 26 नवंबर की रात एक जुबराईल नामक युवक गाँव की ही 19 वर्षीय हिंदू लड़की को अपने साथ भगा ले गया। युवती के गायब होने की जानकारी होने पर पिता ने थाने पर नामजद तहरीर देते हुए कार्यवाई की माँग की। पिता का आरोप है कि उसकी पुत्री अपने साथ जेवरात और नगदी लेकर जुबराईल के साथ गई हैं। 

पिता का आरोप हैं कि जुबराईल अपने साथियों के सहयोग से उनकी बेटी को बहला-फुसलाकर अपरहण कर भगा ले गया है। पिता का यह भी आरोप हैं कि समुदाय विशेष के युवक द्वारा उसकी बेटी का जबरन धर्म परिवर्तन कराकर उसे अपने साथ ले गया हैं लेकिन पुलिस ने इस मामले में लापरवाही बरती है। 

मामला मीडिया के संज्ञान में आने के बाद पुलिस ने पिता के द्वारा लगाए गए आरोपों और दी गई तहरीर के आधार पर धारा 363, 366 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया और पुलिस ने इस पूरे मामले को लेकर 7 लोगों को हिरासत में लिया था, जिसमें आरोपित युवक का साथ देने के आरोप में युवक के बहनोई उस्मान और भाई इजराइल को पुलिस ने जेल भेज दिया।


पुलिस का कहना है कि मुख्य अभियुक्त जुबराइल की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे है और जल्द ही उसे गिरफ्तार कर पीड़िता को भी बरामद कर लिया जाएगा। फिलहाल, इस मामले में पुलिस की कार्रवाई जारी है।

मुख्य आरोपित जुबराईल की तलाश में पंजाब, राजस्थान, उत्तराखंड और यूपी में बहराइच, लखनऊ, बदायूँ आदि जिलों में पुलिस दौड़ लगाती रही। लेकिन न अपहृत युवती मिली और न ही पुलिस को जुबराईल मिला। अब स्थानीय स्तर पर आरोपित पर नजर रखी जा रही है। 

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नसीरुद्दीन के भाई जमीर उद्दीन शाह ने की हिंदू-मुस्लिम के बीच शांति की वकालत, भड़के इस्लामी कट्टरपंथियों ने उन्हें ट्विटर पर घेरा

जमीर उद्दीन शाह वही व्यक्ति हैं जिन्होंने गोधरा दंगे पर गुजरात की तत्कालीन मोदी सरकार के खिलाफ झूठ फैलाया था।

‘उस समय माहौल बहुत खौफनाक था…’: वे घाव जो आज भी कैराना के हिंदुओं को देते हैं दर्द, जानिए कैसे योगी सरकार बनी सुरक्षा...

योगी सरकार की क्राइम को लेकर जीरो टॉलरेस की नीति ही वह सुरक्षा कवच है जो कैराना के हिंदुओं को भरोसा दिलाती है कि 2017 से पहले का वह दौर नहीं लौटेगा, जिसकी बात करते हुए वे आज भी सहम जाते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
152,380FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe