Sunday, June 16, 2024
Homeविविध विषयमनोरंजन'थाला अजीत' के सामने फीका पड़ा भंसाली-आलिया का ग्लैमर, एक दिन में ₹60 करोड़...

‘थाला अजीत’ के सामने फीका पड़ा भंसाली-आलिया का ग्लैमर, एक दिन में ₹60 करोड़ कमा कर रचा इतिहास: ‘गंगूबाई’ पिछड़ी

इस तरह से अकेले दो दिनों में सिर्फ तमिलनाडु में अजीत कुमार की फिल्म का बॉक्स ऑफिस कलेक्शन 60 करोड़ रुपए के पार पहुँच गया है।

बॉक्स ऑफिस पर जहाँ तमिल सुपरस्टार अजीत कुमार की फिल्म ‘वलिमै’ धूम मचा रही है, वहीं आलिया भट्ट की ‘गंगूबाई काठियावाड़ी’ काफी पीछे छूट गई है। मूवी ट्रेड एनालिस्ट मनोबाला विजयन द्वारा दिए गए आँकड़ों के अनुसार, ‘थाला अजीत’ कहे जाने वाले सुपरस्टार की फिल्म ने पहले ही दिन दुनिया भर में 60 करोड़ रुपए का कारोबार किया। फिल्म के अकेले तमिलनाडु में 36.17 करोड़ रुपए कमाए। आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में इसकी कमाई 1.80 करोड़ रुपए रही।

कर्नाटक में अजीत कुमार की ‘वलिमै’ ने 3.72 करोड़ रुपए का बिजनेस किया। केरल में इसने 1.55 करोड़ रुपए कमाए। भारत के अन्य हिस्सों में उसने 1.04 करोड़ रुपए कमाए हैं। वहीं विदेशों में भी इस फिल्म का बॉक्स ऑफिस कलेक्शन शानदार रहा है। ओवरसीज में फिल्म ने 15.20 करोड़ रुपए कमाए हैं। इस तरह से फिल्म ने पहले दिन कुल 59.48 करोड़ रुपए का कारोबार किया। तमिलनाडु में दूसरे दिन भी फिल्म ने 24.62 करोड़ रुपए कमाए।

इस तरह से अकेले दो दिनों में सिर्फ तमिलनाडु में फिल्म का बॉक्स ऑफिस कलेक्शन 60 करोड़ रुपए के पार पहुँच गया है। आँकड़ों को देखें तो नेट कलेक्शन के मामले में भी 30 करोड़ रुपए की कमाई के साथ ‘वलिमै’ ने रजनीकांत की हाल में आई फिल्म ‘अन्नाथे’ और ‘थलापति’ कहे जाने वाले विजय की 2021 में आई फिल्म ‘मास्टर’ को पछाड़ दिया है। वहीं आलिया भट्ट की ‘गंगूबाई काठियावाड़ी’ को पहले दिन सिर्फ 9-10 करोड़ रुपए के नेट कलेक्शन से संतोष करना पड़ा।

संजय लीला भंसाली की फिल्म पहले से ही विवादों में है। गंगूबाई के डॉयलॉग को कॉपी करते हुए एक बच्ची का वीडियो वायरल होने के बाद कंगना रनौत ने भी इस पर आपत्ति जताई थी। उन्होंने केंद्रीय मंत्री स्मृति इरानी को टैग करते हुए कहा था, “क्या इस बच्ची को किसी सेक्स वर्कर की नकल मुँह में बीड़ी और अश्लील डायलॉग्स के साथ करनी चाहिए? उसकी बॉडी लैंग्वेज देखिए, क्या इस उम्र में उसे इस तरह कामुक दिखाना ठीक है? सैकड़ों अन्य बच्चे हैं जिनका इसी तरह इस्तेमाल किया जा रहा है।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

गलत वीडियो डालने वाले अब नहीं बचेंगे: संसद के अगले सत्र में ‘डिजिटल इंडिया बिल’ ला सकती है मोदी सरकार, डीपफेक पर लगाम की...

नरेंद्र मोदी सरकार आगामी संसद सत्र में डीपफेक वीडियो और यूट्यूब कंटेंट को लेकर डिजिटल इंडिया बिल के नाम से पेश किया जाएगा।

आतंकवाद का बखान, अलगाववाद को खुलेआम बढ़ावा और पाकिस्तानी प्रोपेगेंडा को बढ़ावा : पढ़ें- अरुँधति रॉय का 2010 वो भाषण, जिसकी वजह से UAPA...

अरुँधति रॉय ने इस सेमिनार में 15 मिनट लंबा भाषण दिया था, जिसमें उन्होंने भारत देश के खिलाफ जमकर जहर उगला था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -