Sunday, May 19, 2024
Homeदेश-समाजराजकोट में सोशल मीडिया पर 'ईशनिंदा' पोस्ट: बातचीत के बहाने बुलाया, 5 हिंदू युवकों...

राजकोट में सोशल मीडिया पर ‘ईशनिंदा’ पोस्ट: बातचीत के बहाने बुलाया, 5 हिंदू युवकों पर मुस्लिम भीड़ का हमला, 12 गिरफ्तार

हाल ही में राज्य के अहमदाबाद शहर के धंधुका तालुका में इस्लामवादियों द्वारा किशन भरवाड नाम के एक हिंदू युवक की बेरहमी से हत्या कर दी गई थी। दरअसल, किशन ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट शेयर किया था, जो मुस्लिमों को आपत्तिजनक लगा।

गुजरात (Gujrat) के राजकोट स्थित भक्तिनगर में सोशल मीडिया साइट फेसबुक पर आपत्तिजनक पोस्ट को ईशनिंदा का मामला बताते हुए उग्र मुस्लिमों की भीड़ ने 5 हिंदुओं पर हमला कर दिया। ने को लेकर दो समुदायों में बवाल हो गया है। इस मामले में गुजरात की पुलिस ने शनिवार (29 जनवरी 2022) को 2 नाबालिग सहित 12 लोगों को गिरफ्तार किया।

मामला तब शुरू हुआ तब सोशल मीडिया पर पोस्ट को लेकर एक पक्ष ने आपत्ति जताई। इसको हटाने को लेकर दूसरे पक्ष से बातचीत करने के लिए बुलाया गया। दूसरे पक्ष से बातचीत के दौरान उस पर हमला कर दिया गया। इस घटना में कई लोग घायल हुए हैं। वहीं कुछ गाड़ियों को भी नुकसान पहुँचाया गया है।

बताया जा रहा है कि बातचीत के लिए बुलाने के बाद मुस्लिमों की एक भीड़ ने हमला कर दिया, जिसमें पाँच हिंदू घायल हो गए हैं।

दरअसल विनय डोडिया नाम के एक युवक ने इंस्टाग्राम पर एक स्टोरी डाली थी, जो कि 24 घंटे में खुद ही हट जाती। इस पोस्ट को इरशाद संधी नाम के एक मुस्लिम युवक ने आपत्ति जताई और इसे हटाने के लिए कहा। इस दौरान इरशाद ने डोडिया के साथ गाली-गलौज करते हुए पोस्ट को तुरंत हटाने की धमकी दी।

बाद में डोडिया को मामले को सुलझाने के लिए बुलाया। डोडिया निश्चित किए गए जगह जिला गार्डेन के पास अपने कुछ सथियों के साथ पहुँचे। बातचीत के दौरान ही वहाँ लगभग 25 मुस्लिम इकट्ठा हो गए और उन लोगों ने डोडिया और उसके साथियों पर हमला कर दिया। इस्लामवादियों की भीड़ ने इस दौरान एक बाइक को आग भी लगा दी।

राजकोट के डीसीपी जोन-1 प्रवीण मीणा ने बताया कि इस दौरान पुलिस की गश्ती वाहन ने भीड़ देखा और कोरोना गाइडलाइन तथा रात्रि कर्फ्यू को लेकर मद्देनजर उन्हें हटाने की कोशिश की। बाद में भक्तिनगर पुलिस थाने से पहुँचे पुलिसकर्मियों ने मामले को शांत कराया।

राजकोट के डीसीपी जोन-1 प्रवीण मीणा का कहना है कि इस संबंध में भक्तिनगर पुलिस स्टेशन में एक मामला दर्ज किया गया है और IPC की धारा 437, 504 और 114 के तहत 12 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने बताया कि इस मामले में 16 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

उन्होंने आगे बताया कि तकरीबन 1.5 महीना पहले उसी ग्रुप में डाला गया एक और सोशल मीडिया पोस्ट आज कल वायरल हो रहा है। एक महीने से अधिक पुरानी पोस्ट के सामने आने के बाद आईपीसी की धारा 160 (भड़काना) के तहत एक और प्राथमिकी दर्ज की गई थी। उन्होंने इसे एहतियाती कार्रवाई बताया है।

बता दें कि हाल ही में राज्य के अहमदाबाद शहर के धंधुका तालुका में इस्लामवादियों द्वारा किशन भरवाड नाम के एक हिंदू युवक की बेरहमी से हत्या कर दी गई थी। दरअसल, किशन ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट शेयर किया था, जो मुस्लिमों को आपत्तिजनक लगा। किशन द्वारा शेयर किए गए वीडियो में पैगंबर मुहम्मद की तस्वीर थी।

इस मामले में दो आरोपितों को गिरफ्तार कर 9 दिन के रिमांड पर लिया गया है। अहमदाबाद में एक और मुस्लिम मौलवी को गिरफ्तार किया गया। आरोपित ने जामनगर के एक अन्य युवक की हत्या की योजना बनाई थी। पुलिस इस मामले में 6 मौलवियों की भूमिका पर संदेह कर रही है। गिरफ्तार किए गए सभी आरोपियों पर गुजरात कंट्रोल ऑफ टेररिज्म एंड ऑर्गनाइज्ड क्राइम एक्ट और यूएपीए एक्ट के तहत मुकदमा चलाया जाएगा। वहीं, इस मामले की जाँच गुजरात ATS करेगी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जिसे वामपंथन रोमिला थापर ने ‘इस्लामी कला’ से जोड़ा, उस मंदिर को तोड़ इब्राहिम शर्की ने बनवाई थी मस्जिद: जानिए अटाला माता मंदिर लेने...

अटाला मस्जिद का निर्माण अटाला माता के मंदिर पर ही हुआ है। इसकी पुष्टि तमाम विद्वानों की पुस्तकें, मौजूदा सबूत भी करते हैं।

रोफिकुल इस्लाम जैसे दलाल कराते हैं भारत में घुसपैठ, फिर भारतीय रेल में सवार हो फैल जाते हैं बांग्लादेशी-रोहिंग्या: 16 महीने में अकेले त्रिपुरा...

त्रिपुरा के अगरतला रेलवे स्टेशन से फिर बांग्लादेशी घुसपैठिए पकड़े गए। ये ट्रेन में सवार होकर चेन्नई जाने की फिराक में थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -