Tuesday, April 16, 2024
Homeदेश-समाजUP: पुलिस मुठभेड़ में मारा गया ₹50,000 का इनामी पन्ना यादव उर्फ डॉक्टर, 3...

UP: पुलिस मुठभेड़ में मारा गया ₹50,000 का इनामी पन्ना यादव उर्फ डॉक्टर, 3 दर्जन से ज्यादा संगीन मामलों में था आरोपित

बहराइच जिले में एक मुठभेड़ में पन्ना यादव के मारे जाने की सूचना दी। पन्ना यादव की पुलिस मुठभेड़ के दौरान पुलिस द्वारा अपने बचाव में की गई फायरिंग में गोली लगने से मृत्यु हो गई। पुलिस के साथ हुई इस मुठभेड़ के दौरान देशी राइफल 315 बोर, एक बंदूक देसी 12 बोर, देसी पिस्टल और........

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर का ₹50000 का इनामी अपराधी पन्ना यादव उर्फ सुमन यादव उर्फ़ ‘डॉक्टर’ बहराइच जिले के हरदी इलाके में एसटीएफ व पुलिस की संयुक्त मुठभेड़ में मारा गया है।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने शुक्रवार (जुलाई 10, 2020) को बहराइच जिले में एक मुठभेड़ में पन्ना यादव के मारे जाने की सूचना दी। पन्ना यादव की पुलिस मुठभेड़ के दौरान पुलिस द्वारा अपने बचाव में की गई फायरिंग में गोली लगने से मृत्यु हो गई। पुलिस के साथ हुई इस मुठभेड़ के दौरान देशी राइफल 315 बोर, एक बंदूक देसी 12 बोर, देसी पिस्टल और तमंचा भी बरामद किए गए।

बहराइच पुलिस द्वारा जारी एक प्रेस नोट के अनुसार, ₹50000 का इनामी बदमाश पन्ना यादव पुत्र समई यादव निवासी मंगलपुर थाना गुलरिया जनपद गोरखपुर, बीती रात बहराइच के थाना हरदी क्षेत्र में अहिरन पुरवा मौजा गलकारा में एसटीएफ एवं हरदी पुलिस के संयुक्त मुठभेड़ में पुलिस द्वारा आत्मरक्षार्थ चलाई गई गोली से गंभीर रूप से घायल हुआ है, जिसे उपचार हेतु PHC से जिला चिकित्सालय रेफर किया गया, जहाँ उसकी मृत्यु हो गई।

हिस्ट्रीशीटर था पन्ना यादव

गौरतलब है कि पन्ना यादव उर्फ़ ‘डॉक्टर’ के खिलाफ़ गोरखपुर जिले के विभिन्न थानों में हत्या, जानलेवा हमला, रेप, लूट आगुंडा एक्ट, आर्म्स एक्ट आदि धाराओं में दर्जनों मुकदमे दर्ज थे। एडीजी (लॉ एंड ऑर्डर) प्रशांत कुमार ने कहा, “पन्ना यादव उर्फ ​​सुमन यादव को हरदी क्षेत्र के अहिरनपुरवा गाँव में एसटीएफ और स्थानीय पुलिस की एक टीम ने घेर लिया जहाँ उसकी मौत हो गई।”

उन्होंने कहा कि पन्ना यादव हत्या, लूट, डकैती, गैंगस्टर एक्ट सहित तीन दर्जन से अधिक संगीन मामलों में वांछित था। उन्होंने कहा कि पन्ना यादव के खिलाफ महराजगंज, गोरखपुर, बाराबंकी, आजमगढ़ और लखीमपुर जिलों में ये मामले दर्ज किए गए थे। एडीजी ने बताया कि पन्ना यादव एक बार गोरखपुर जेल से भी भाग निकला था और एक जेलर की भी पिटाई की थी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सोई रही सरकार, संतों को पीट-पीटकर मार डाला: 4 साल बाद भी न्याय का इंतजार, उद्धव के अड़ंगे से लेकर CBI जाँच तक जानिए...

साल 2020 में पालघर में 400-500 लोगों की भीड़ ने एक अफवाह के चलते साधुओं की पीट-पीटकर निर्मम हत्या कर दी थी। इस मामले में मिशनरियों का हाथ होने का एंगल भी सामने आया था।

‘मोदी की गारंटी’ भी होगी पूरी: 2014 और 2019 में किए इन 10 बड़े वादों को मोदी सरकार ने किया पूरा, पढ़ें- क्यों जनता...

राम मंदिर के निर्माण और अनुच्छेद 370 को निरस्त करने से लेकर नागरिकता संशोधन अधिनियम को अधिसूचित करने तक, भाजपा सरकार को विपक्ष के लगातार कीचड़ उछालने के कारण पथरीली राह पर चलना पड़ा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe