Thursday, July 18, 2024
Homeदेश-समाजमहिला को निर्वस्त्र करने के मामले में महिला आयोग ने लिया संज्ञान: गहलोत सरकार...

महिला को निर्वस्त्र करने के मामले में महिला आयोग ने लिया संज्ञान: गहलोत सरकार से 5 दिन के भीतर माँगी जाँच रिपोर्ट, गठित किया इंक्वायरी कमीशन भी

इस मामले में मीडिया रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि पीड़ित महिला का एक युवक से प्रेम प्रसंग चल रहा था। 31 अगस्त को महिला प्रेमी के साथ चली गई थी। महिला के ससुराल वालों को इसकी जानकारी हुई तो उन्होंने दोनों को पकड़ लिया। इसके बाद महिला को निर्वस्त्र कर गाँव में घुमाया।

राजस्थान के प्रतापगढ़ में पति व ससुराल पक्ष के लोगों द्वारा एक गर्भवती महिला को निर्वस्त्र घुमाने के मामले का राष्ट्रीय महिला आयोग ने संज्ञान लिया है। आयोग ने निष्क्रियता दिखाने के लिए राजस्थान पुलिस की निंदा और अशोक गहलोत सरकार से आरोपितों को गिरफ्तार कर 5 दिन के भीतर जाँच रिपोर्ट पेश करने के लिए कहा है। इसके अलावा, मामले की जाँच के लिए एक कमिटी का भी गठन किया है।

राष्ट्रीय महिला आयोग ने एक्स (पूर्व में ट्विटर) पर लिखा है, “महिला आयोग राजस्थान के प्रतापगढ़ में हुई दर्दनाक घटना की कड़ी निंदा करता है। एक महिला के साथ छेड़छाड़ की गई, उसे निर्वस्त्र किया गया और वीडियो बनाया किया गया। दो दिन पहले हुई घटना के बावजूद पुलिस की निष्क्रियता स्वीकार नहीं की जा सकती।”

इस पोस्ट में आगे कहा गया है, “राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने राज्य के डीजीपी को दोषियों को तुरंत गिरफ्तार कर उनके खिलाफ आईपीसी की आवश्यक धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज करने का निर्देश दिया है। हम 5 दिनों के भीतर एक विस्तृत रिपोर्ट की माँग करते हैं।”

अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार, इस मामले की जाँच के लिए महिला आयोग ने वुमेन एक्ट 1990 के सेक्शन 10 के तहत एक जाँच कमिटी का गठन किया है। इस जाँच कमिटी की प्रमुख डेलिना कोंगडुप को बनाया गया है। वहीं स्टेट लीगल सर्विसेज अथॉरिटी राजस्थान की ओर से एक वकील को इस समिति का सदस्य बनाया गया है।

राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने एक्स पर लिखे पोस्ट में कहा, “हमने कल रात संज्ञान लिया है और जाँच के लिए एक टीम भेज रहे हैं। राजस्थान में ऐसी घटनाओं की संख्या बढ़ती जा रही है। राष्ट्रीय महिला आयोग घटनाओं पर संज्ञान ले रही है, लेकिन ऐसा लगता है कि राज्य सरकार इन घटनाओं को कंट्रोल करने के लिए पर्याप्त प्रयास नहीं कर रही है।”

इस मामले में पुलिस ने 21 साल की पीड़ता के पति समेत 7 आरोपितों को गिरफ्तार किया है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस ने 10 लोगों के खिलाफ धारा 294, 354, 365, 67 के तहत मुकदमा दर्ज किया है।

क्या है मामला:

राजस्थान के प्रतापगढ़ जिले के धरियावद थाना क्षेत्र के पहाड़ा गाँव में एक महिला को निर्वस्त्र कर गाँव में घुमाने का मामला सामने आया है। घटना 31 अगस्त की है। वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने मामले का संज्ञान लिया। इस मामले में मीडिया रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि पीड़ित महिला का एक युवक से प्रेम प्रसंग चल रहा था। 31 अगस्त को महिला प्रेमी के साथ चली गई थी।

महिला के ससुराल वालों को इसकी जानकारी हुई तो उन्होंने दोनों को पकड़ लिया। इसके बाद महिला को निर्वस्त्र कर गाँव में घुमाया। इस मामले को लेकर भास्कर ने पुलिस के हवाले से लिखा है कि महिला 31 अगस्त को पड़ोस में रहने वाले एक युवक से मिलने गई थी। जानकारी मिलने पर ससुराल वाले भी वहाँ पहुँच गए। पहले तो उन लोगों ने महिला को पकड़कर उसके साथ मारपीट की। इसके बाद निर्वस्त्र कर गाँव में घुमाया।

घटना के वीडियो भी सामने आए हैं। वायरल वीडियो में महिला चीख रही है। चिल्ला रही है। खुद को छोड़ने के लिए गुहार लगा रही है। लेकिन पति उसके कपड़े उतरता जा रहा है। आसपास खड़े लोग भी उसके इसके लिए उकसाते नजर आ रहे हैं। कुछ लोग पास में खड़े होकर वीडियो बनाते भी दिखाई दे रहे हैं। महिला के पकड़े उतारने के आरोपितों ने उसे गाँव में घुमाया।

इस मामले में प्रतापगढ़ एसपी अमित कुमार ने कहा है कि मामला संज्ञान में आने के बाद पुलिस की 6 टीमों का गठन किया गया है। साथ ही धरियावद थाने में पूर्व में सेवाएँ दे चुके सभी कॉन्स्टेबल से लेकर बड़े अधिकारियों को मौके पर बुलाया गया है। पीड़ित पक्ष द्वारा मुकदमा दर्ज कराया गया। आगे की कार्रवाई की जा रही है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अजमेर दरगाह के सामने ‘सर तन से जुदा’ मामले की जाँच में लापरवाही! कई खामियाँ आईं सामने: कॉन्ग्रेस सरकार ने कराई थी जाँच, खादिम...

सर तन से जुदा नारे लगाने के मामले में अजमेर दरगाह के खादिम गौहर चिश्ती की जाँच में लापरवाही को लेकर कोर्ट ने इंगित किया है।

काँवड़ यात्रा पर किसी भी हमले के लिए मोहम्मद जुबैर होगा जिम्मेदार: यशवीर महाराज ने ‘सेकुलर’-इस्लामी रुदालियों पर बोला हमला, ढाबों मालिकों की सूची...

स्वामी यशवीर महाराज ने 18 जुलाई 2024 को एक वीडियो बयान जारी कर इस्लामिक कट्टरपंथियों और तथाकथित 'सेकुलरों' को आड़े हाथों लिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -