नमाज के लिए सड़क जाम, अयोध्या से लौट रहे बजरंगी आगरा में पढ़ने लगे हनुमान चालीसा

नमाज के कारण प्रशासन ने हाईवे पर ट्रैफिक को रोक दिया। इसकी वजह से सड़क पर दोनों ओर बड़ी संख्या में वाहनों की कतार लग गई। बजरंग दल के कार्यकर्ताओं की बस भी जाम में फँस गई थी।

उत्तर प्रदेश के आगरा में सोमवार (अगस्त 12, 2019) को नमाज के लिए सड़क जाम किए जाने से गुस्साए बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने चौराहे पर ही हनुमान चालीसा का पाठ करना शुरू कर दिया। आगरा के अलीगढ़ हाइवे पर स्थित खंदौली कस्बे में ईदगाह के बाहर सड़क पर लोग बकरीद की नमाज अता कर रहे थे। इस दौरान प्रशासन ने ट्रैफिक को रोक दिया था। जिसकी वजह से सड़क पर दोनों ओर बड़ी संख्या में वाहन खड़े हो गए थे। रोके गए ट्रैफिक में बजरंग दल के सदस्‍यों से भरी बस भी फँसी हुई थी।

दैनिक जागरण में प्रकाशित खबर का स्क्रीनशॉट

खबर के मुताबिक, अलीगढ़ के बजरंगदल के 80 पदाधिकारी और कार्यकर्ता अयोध्या में रामलला के दर्शन करने गए थे। सोमवार को बस से आगरा-अलीगढ़ हाईवे से लौट रहे थे। इसी दौरान उनकी बस ट्रैफिक में फँस गई। नमाज खत्म होने के बाद वाहन धीरे-धीरे निकाले जा रहे थे। इसी दौरान चौराहे पर तैनात दारोगा ने बस चालक से अभद्रता कर दी। बस में सवार बजरंग दल के चार पदाधिकारी बात करने गए तो उनसे भी अभद्र व्यवहार किया गया।

इससे गुस्साए कार्यकर्ता हाईवे पर बैठकर हनुमान चालीसा पढ़ने लगे। उनका कहना था कि अगर नमाज के लिए वाहन को रोका जा सकता है तो वे भी रोड पर बैठकर हनुमान चालीसा पढ़ेंगे। करीब 20 मिनट तक हंगामे के बाद सीओ एत्मादपुर अतुल सोनकर के समझाने पर कार्यकर्ता शांत हुए। बस में सवार अलीगढ़ बजरंग दल के गौरक्षा प्रमुख केदार सिंह का कहना था कि पुलिस की अभद्रता पर विरोध दर्ज कराया गया था।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

नितिन गडकरी
गडकरी का यह बयान शिवसेना विधायक दल में बगावत की खबरों के बीच आया है। हालॉंकि शिवसेना का कहना है कि एनसीपी और कॉन्ग्रेस के साथ मिलकर सरकार चलाने के लिए उसने कॉमन मिनिमम प्रोग्राम का ड्राफ्ट तैयार कर लिया है।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

113,096फैंसलाइक करें
22,561फॉलोवर्सफॉलो करें
119,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: