Wednesday, August 4, 2021
Homeराजनीतिसिर्फ 8 महीने में योगी सरकार ने दिया 26 लाख से अधिक लोगों को...

सिर्फ 8 महीने में योगी सरकार ने दिया 26 लाख से अधिक लोगों को रोजगार, लॉकडाउन में बनाई योजना साबित हुई कारगर

योगी सरकार के निर्देश पर कार्य योजना तैयार की गई और उसी पर अमल करते हुए 8 महीनों में आत्मनिर्भर पैकेज के जरिए 6,65,740 नई इकाइयों में 26,62,960 लोगों को रोजगार मिला। इनमें से 2,57,348 श्रमिक ऐसे हैं, जिन्हें पहले से चल रही इकाइयों में ही रोजगार दिया गया।

लॉकडाउन के दौरान जब लगभग हर राज्य की सरकारें राजस्व की समस्या पर हताश हो रही थीं उस समय यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार वाकई आपदा में अवसर खोजने के लिए प्रयासरत थी। अब उन्हीं कोशिशों का नतीजा है कि सरकार ने मात्र 8 माह में 26 लाख 62 हजार 960 लोगों को रोजगार मुहैया करवाने में सफलता पाई है।

राज्य सरकार के प्रवक्ता ने बताया है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की एक जिला-एक उत्पाद (ओडीओपी) योजना रोजगार मुहैया कराने में गेम चेंजर साबित हुई। उन्होंने कहा कि देश और प्रदेश में लॉकडाउन लागू होते ही छोटे-बड़े सभी उद्योग तो करीब करीब बंद हो गए थे और श्रमिकों का पलायन भी शुरू हो गया था। 

प्रवक्ता का कहना है कि यही सब देखते हुए बीती 4 मई को सीएम योगी ने अपने आवास पर उच्चाधिकारियों के साथ बैठक की थी और दूसरे प्रदेशों से यूपी लौट रहे मजदूरों व अन्य लोगों के लिए राज्य में ही रोजगार के अवसर प्रदान करने का निर्देश दिया था। 

इसके बाद एक कार्य योजना को तैयार किया गया और उसी पर अमल करते हुए 8 महीनों में आत्मनिर्भर पैकेज के जरिए  6,65,740 नई इकाइयों में 26,62,960 लोगों को रोजगार मिला। इनमें से 2,57,348 श्रमिक ऐसे हैं, जिन्हें पहले से चल रही इकाइयों में ही रोजगार दिया गया।

लाखों श्रमिकों को MSME (सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग) सेक्टर में आत्मनिर्भर पैकेज से सर्वाधिक रोजगार मिला। इतना ही नहीं सीएम के निर्देश पर तैयार किए गए सेवायोजन पोर्टल के जरिए भी 13 दिसंबर तक 5,25,978 लोगों को रोजगार मिला।

बता दें कि उत्तर प्रदेश में रोजगार देने के लिए प्रतिबद्ध योगी आदित्यनाथ सरकार की कोशिशों की तारीफ कुछ दिन पहले सुप्रीम कोर्ट भी कर चुका है। यूपी सरकार ने बीते दिनों 4 साल में लगभग चार लाख लोगों को नौकरी और रोजगार देने का अनोखा रिकॉर्ड भी अपने नाम किया है। और अब सूचना है कि योगी सरकार ने आत्मनिर्भर पैकेज के तहत 4,24,283 पुरानी इकाइयों को 1,092 करोड़ रुपए का लोन देकर पुराने रोजगार बचाए रखा। 

सरकारी प्रवक्ता के अनुसार उत्तर प्रदेश सरकार के इस प्रयास के कारण देशभर में उनकी सराहना हो रही है। कहा जा रहा है कि योगी सरकार ने छोटे उद्योगों से रोजगार देने का बड़ा लक्ष्य साधा है और इसी मॉडल को देश के अन्य राज्यों में भी लागू किया जाना चाहिए।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

5 करोड़ कोविड टीके लगाने वाला पहला राज्य बना उत्तर प्रदेश, 1 दिन में लगे 25 लाख डोज: CM योगी ने लोगों को दी...

उत्तर प्रदेश देश का पहला राज्य बन गया है, जिसने पाँच करोड़ कोरोना वैक्सीनेशन का आँकड़ा पार कर लिया है। सीएम योगी ने बधाई दी।

अ शिगूफा अ डे, मेक्स द सीएम हैप्पी एंड गे: केजरीवाल सरकार का घोषणा प्रधान राजनीतिक दर्शन

अ शिगूफा अ डे, मेक्स द CM हैप्पी एंड गे, एक अंग्रेजी कहावत की इस पैरोडी में केजरीवाल के राजनीतिक दर्शन को एक वाक्य में समेट देने की क्षमता है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,863FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe