रामचंद्र गुहा पर टूट पड़ी गालीबाज ट्रोल स्वाति चतुर्वेदी, राहुल गाँधी के समर्थन में धड़ाधड़ दागे ट्वीट

गुहा ने कहा था कि लोकसभा चुनाव में वायनाड से राहुल गाँधी को चुनकर केरल के लोगों ने विनाशकारी काम किया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सामने राहुल गाँधी का कोई भविष्य नहीं है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कटु आलोचकों में से एक रामचंद्र गुहा ने केरल साहित्य महोत्सव में कॉन्ग्रेस नेता राहुल गाँधी की खिंचाई की। इसके बाद कॉन्ग्रेस के कुछ फुल टाइम गालीबाज ट्रोल पत्रकार मैदान में आकर राहुल गाँधी की ओर से बैटिंग करने लगे। इन्हीं में से एक नाम है स्वाति चतुर्वेदी।

रामचंद्र गुहा के बयान से बौखलाई स्वाति चतुर्वेदी ने अपने ट्विटर अकाउंट से एक के बाद एक जहरीले ट्वीट करने शुरू किए। स्वाति चतुर्वेदी ने रामचंद्र गुहा को रीट्वीट करते हुए लिखा, “मेरे लिए यह विश्वास करना मुश्किल है कि मीडिया सहित किसी को भी मोदी के बारे में कोई भ्रम था। मुझे अभी तक समझ में नहीं आ रहा है कि शिक्षाविद, नीति निर्माता और मीडिया किस तरह से मोदी मिथक में पड़ गए?”

इसके साथ ही स्वाति चतुर्वेदी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक झाँसा देने वाला व्यक्ति बताया है।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

केरल में राहुल गाँधी के चुने जाने को भयावह बताने वाले गुहा के ट्वीट को रीट्वीट करते हुए स्वाति चतुर्वेदी ने लिखा है कि रामचंद्र गुहा राहुल गाँधी के बारे में भ्रमित नजर आ रहे हैं। इसके बाद स्वाति चतुर्वेदी ने राहुल गाँधी की तारीफ करते हुए लिखा है कि आप रामचंद्र गुहा की तरह चाहे राहुल गाँधी से नफरत करें या उनकी आलोचना करिए, लेकिन वह संघ के लिए एक चुनौती की तरह काम कर रहे हैं। जिस तरह से मोदी और आईटी सेल उनके विरुद्ध झूठ से आक्रमण करता है, उनके अंदर बहुत साहस भी है।

स्वाति चतुर्वेदी ने अगले ट्वीट में लिखा कि इससे पहले कि आप राहुल गाँधी को रिटायर होने की सलाह दें, मुझे बताइए कि उन्होंने किस बड़े हत्यारे को पछाड़ा है?

स्वाति चतुर्वेदी इसके बाद रामचंद्र गुहा के मुद्दे को पीछे छोड़कर वापस अपने चिरपरिचित अंदाज में लोगों को ट्वीट में जवाब देती रहीं और उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आरोप लगाते हुए कहा कि उनके CV में सिर्फ 2002 की हत्याओं का ही जिक्र है।

गौरतलब है कि गुहा ने कहा था कि लोकसभा चुनाव में वायनाड से राहुल गाँधी को चुनकर केरल के लोगों ने विनाशकारी काम किया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सामने राहुल गाँधी का कोई भविष्य नहीं है। केरल साहित्य महोत्सव के दूसरे दिन शुक्रवार (17 जनवरी, 2019) को ‘राष्ट्र भक्ति बनाम अंधराष्ट्रीयता’ विषय पर बोल रहे रामचंद्र गुहा के सुर बदले-बदले से रहे। उन्होंने कहा कि ‘खानदान की पाँचवी पीढ़ी’ के राहुल गाँधी के पास भारतीय राजनीति में ‘कठोर परिश्रमी और खुद मुकाम बनाने वाले’ नरेंद्र मोदी के सामने कोई मौका नहीं है।

दरबारी लेखक रामचंद्र गुहा कॉन्ग्रेस की हार से नाराज, माँगा ‘युवराज’ राहुल का इस्तीफा

नींद से जागे ‘उपन्यासकार’ रामचंद्र गुहा, कहा अब तो कॉन्ग्रेस में वंशवाद ख़त्म करो

रामचंद्र गुहा को मुक्का किसने मारा? पुलिस ने धमकी दी या मार दिया? – शशि थरूर के Viral वीडियो का सच

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

मोदी, उद्धव ठाकरे
इस मुलाकात की वजह नहीं बताई गई है। लेकिन, सीएम बनने के बाद दिल्ली की अपनी पहली यात्रा पर उद्धव ऐसे वक्त में आ रहे हैं जब एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार के साथ अनबन की खबरें चर्चा में हैं। इससे महाराष्ट्र में राजनीतिक सरगर्मियॉं अचानक से तेज हो गई हैं।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

153,901फैंसलाइक करें
42,179फॉलोवर्सफॉलो करें
179,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: