Saturday, June 25, 2022
Homeराजनीति...वो सांसद जिसने किया CAB का समर्थन लेकिन जमात फेडरेशन ने कर दिया निष्कासित

…वो सांसद जिसने किया CAB का समर्थन लेकिन जमात फेडरेशन ने कर दिया निष्कासित

सर्वसम्मति से सब ने फैसला लिया कि मोहम्मद जॉन को राज्यसभा में कैब का समर्थन करने पर उनके पद से निष्कासित किया जाए, क्योंकि ऐसा करके उन्होंने समुदाय का अपमान किया है।

AIADMK राज्यसभा सांसद ए मोहम्मद जॉन को संसद में नागरिकता संशोधन विधेयक का समर्थन करने पर ऑल जमात फेडरेशन से निष्कासित कर दिया गया है। ये फैसला रानीपेत में सोमवार (दिसंबर 16, 2019) की शाम अधिकारियों की बैठक के बाद लिया गया।

फेडरेशन में मोहम्मद जॉन ‘संरक्षक’ के पद पर साल 2010 से आसित थे। लेकिन सोमवार को उन्हें इस पद से यह कहकर हटा दिया गया कि कैब का समर्थन करके उन्होंने समुदाय का अपमान किया है।

ऑल जमात फेडरेशन के सदस्य मोहम्मद हसन और तमिलनाडु के जिलाध्यक्ष मुनेत्र कड़गम ने इस बैठक की जानकारी देते हुए बताया कि सोमवार को हुई बैठक में सर्वसम्मति से सब ने फैसला लिया कि मोहम्मद जॉन को राज्यसभा में कैब का समर्थन करने पर उनके पद से निष्कासित किया जाए, क्योंकि ऐसा करके उन्होंने समुदाय का अपमान किया है।

इसके अलावा मोहम्मद हसन ने ये भी बताया है कि जॉन को उनके पद से हटाने का फैसला राज्य में पूरी जमात और रानीपेत में समुदाय द्वारा बनाए जा रहे दबाव के बाद लिया गया है।

गौरतलब है कि कैब का समर्थन करने के कारण टीएमएमके ने भी मोहम्मद जॉन के ख़िलाफ़ उनके आवास पर प्रदर्शन करने का ऐलान किया है। साथ ही ये भी बताया है कि उनके इस फैसले में IUML,VCK और TVK जैसी स्थानीय पार्टियाँ भी साथ हैं।

जनरल डायर की तरह लोगों पर गोली चलवा रहे अमित शाह: एनसीपी नेता नवाब मलिक

जामिया हिंसा पर FIR: कॉन्ग्रेस का पूर्व MLA आसिफ खान भी था शामिल, दंगाइयों के साथ छात्रों ने भी की पत्थरबाजी

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘द्रौपदी राष्ट्रपति तो पांडव और कौरव कौन हैं?’: राम गोपाल वर्मा के ओछे कमेंट पर हैदराबाद पुलिस ने दर्ज की शिकायत, बीजेपी नेता की...

पुलिस द्वारा एससी / एसटी अधिनियम लागू किया जाना चाहिए और निर्देशक को कड़ी सजा मिलनी चाहिए। पुलिस ने कहा कि कानूनी राय के बाद आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।

बागी विधायक मंगेश कुडालकर के ऑफिस में शिवसैनिकों ने की तोड़फोड़, शिंदे के पोस्टर पर भी पोती कालिख: संजय राउत की धमकी का दिखने...

शिवसेना के बागी गुट के विधायक मंगेश कुडालकर के ऑफिस में हमला। अहमदनगर और नासिक में एकनाथ शिंदे के पोस्टर पर भी पोती कालिख।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
199,160FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe