Tuesday, July 16, 2024
Homeराजनीतिमैं NCP में ही हूँ और रहूँगा, शरद पवार हमारे नेता: अजित पवार ने...

मैं NCP में ही हूँ और रहूँगा, शरद पवार हमारे नेता: अजित पवार ने कहा- BJP और NCP का हो चुका है गठबंधन

अजित पवार कह रहे हैं कि शरद पवार उनके नेता हैं और राज्य में भाजपा-एनसीपी की सरकार बनेगी। ऐसे में, अब ये समझना कठिन हो गया है कि एनसीपी का गठबंधन कॉन्ग्रेस और शिवसेना के साथ है या फिर भाजपा के साथ।

महाराष्ट्र के नव-निर्वाचित उप-मुख्यमंत्री अजित पवार ने साफ़ कर दिया है कि उन्होंने एनसीपी नहीं छोड़ी है। अपने ताज़ा ट्वीट में उन्होंने स्पष्ट कहा है कि उन्होंने न तो पार्टी छोड़ी है और न ही उनका ऐसा कोई इरादा है। अजित ने लिखा कि वो भविष्य में भी एनसीपी में बने रहेंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि उनके चाचा शरद पवार उनके नेता है। बता दें कि शरद पवार एनसीपी के संस्थापक-अध्यक्ष हैं। अजित पवार ने लिखा कि महाराष्ट्र में भाजपा और एनसीपी गठबंधन की सरकार पाँच साल चलेगी।

इससे पहले उन्होंने अपने ट्विटर बायो में ‘डिप्टी सीएम’ लिख कर अपडेट किया। इससे पता चलता है कि भाजपा और अजित सदन में बहुमत साबित करने को लेकर पूरी तरह आश्वस्त हैं। जबकि विरोधी खेमों में अच्छी-ख़ासी हलचल देखने को मिल रही है। उद्धव ठाकरे अपने विधायकों को ढाँढस बँधा रहे हैं कि सरकार शिवसेना की ही बनेगी। उद्धव एनसीपी के विधायकों के होटल में जाकर उन्हें भी आश्वासन दे रहे हैं कि ये गठबंधन लम्बा चलेगा। शरद पवार का कहना है कि उनकी पार्टी के 54 में से लगभग 50 विधायक उनके साथ हैं। वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने सुप्रीम कोर्ट में कहा कि 43 एनसीपी विधायक अजित पवार के साथ हैं।

अजित पवार कह रहे हैं कि शरद पवार उनके नेता हैं और राज्य में भाजपा-एनसीपी की सरकार बनेगी। ऐसे में, अब ये समझना कठिन हो गया है कि एनसीपी का गठबंधन कॉन्ग्रेस और शिवसेना के साथ है या फिर भाजपा के साथ। अजित पवार की मानें तो भाजपा के साथ और शरद पवार की मानें तो कॉन्ग्रेस के साथ। अजित पवार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी धन्यवाद देते हुए कहा है कि अगले 5 सालों तक देवेंद्र फडणवीस के नेतृत्व वाली सरकार चलेगी। अजित ने ट्विटर पर केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले और अन्य नेताओं सहित सभी की शुभकामनाओं का जवाब दिया।

उधर शरद पवार की बेटी सुप्रिया सुले ने उद्धव ठाकरे के बेटे आदित्य ठाकरे और शायद पवार के भाई के पोते रोहित पवार के साथ फोटो डाल कर दिखाया कि दोनों दलों के पास अगली लाइन की लीडरशिप तैयार है। रोहित और आदित्य पहले से ही दोस्त हैं। शरद पवार के भाई के पोते पार्थ हैं, जो अजित पवार के बेटे हैं। उनके दूसरे भाई के पोते रोहित हैं, जिन्होंने हाल ही में विधानसभा चुनाव जीता है। पार्थ लोकसभा चुनाव हार गए थे।

अजित की बगावत के बाद रोहित ने अपने फेसबुक पर प्रोफाइल व कवर फोटो में शरद पवार के साथ वाली तस्वीर लगाई थी। उन्होंने अजित सहित पूरे परिवार की तस्वीर लगा कर उन्हें लौट आने की अपील भी की। रोहित पवार ‘ऑल इंडिया शुगर मिल्स एसोसिएशन’ के अध्यक्ष हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आज भी फैसले की प्रतीक्षा में कन्हैयालाल का परिवार, नूपुर शर्मा पर भी खतरा; पर ‘सर तन से जुदा’ की नारेबाजी वाले हो गए...

रिपोर्ट में यह भी कहा गया था कि गौहर चिश्ती 17 जून 2022 को उदयपुर भी गया था। वहाँ उसने 'सर कलम करने' के नारे लगवाए थे।

किसानों के प्रदर्शन से NHAI का ₹1000 करोड़ का नुकसान, टोल प्लाजा करने पड़े थे फ्री: हरियाणा-पंजाब में रोड हो गईं थी जाम

किसान प्रदर्शन के कारण NHAI को ₹1000 करोड़ से अधिक का नुकसान झेलना पड़ा। यह नुकसान राष्ट्रीय राजमार्ग 44 और 152 पर हुआ है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -