Friday, July 19, 2024
Homeदेश-समाज'भारत के सभी मुस्लिम पहले हिन्दू थे': बोले नीतीश की पार्टी के MLC गुलाम...

‘भारत के सभी मुस्लिम पहले हिन्दू थे’: बोले नीतीश की पार्टी के MLC गुलाम गौस – दलितों-मुस्लिमों-गरीबों की बात करने वाले इकलौते PM हैं मोदी

उन्होंने दावा किया कि ब्राह्मणवादी व्यवस्था के कारण लोगों ने इस्लाम धर्म को अपनाया, क्योंकि ब्रह्मणवादी नीति से लोग प्रताड़ित होते थे - इसलिए धर्म को छोड़ दिया।

नीतीश कुमार की पार्टी ‘जनता दल यूनाइटेड (JDU)’ के नेता और बिहार विधान परिषद सदस्य (MLC Ghulam Gaus) गुलाम गौस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) की तारीफ की है। उन्होंने कहा है कि पीएम मोदी ने मुस्लिमों के लिए कुछ करने के लिए कहा है इसलिए वह बधाई के पात्र हैं। इसके अलावा उन्होंने कहा कि हिंदुस्तान के सभी मुस्लिम पहले हिंदू थे।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, शनिवार (27 नवंबर 2022) को बिहार की राजधानी पटना में विधान परिषद सभागार में ‘वंचित पसमांदा विमर्श’ कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। इस कार्यक्रम में गुलाम गौस ने कहा, “यदि दलित और पिछड़ों को सुविधाएं दी जाएँगी, तो वह दूसरे धर्म में नहीं जाएँगे। मैं पीएम मोदी को बधाई देता हूँ कि उन्होंने मुस्लिमों के लिए कुछ करने को कहा। आज तक देश के किसी प्रधानमंत्री ने गरीब, पिछड़ा, दलित और मुसलमानों की बात नहीं की।”

इस दौरान उन्होंने यह भी कहा कि हिंदुस्तान के सभी मुस्लिम पहले हिन्दू थे। उन्होंने दावा किया कि ब्राह्मणवादी व्यवस्था के कारण लोगों ने इस्लाम धर्म को अपनाया, क्योंकि ब्रह्मणवादी नीति से लोग प्रताड़ित होते थे – इसलिए धर्म को छोड़ दिया। उन्होंने यह भी कहा कि कुछ लोगों की कुर्सी भले ही खतरे में हो सकती है, लेकिन देश में न तो इस्लाम खतरे में है, न हिंदुत्व खतरे में है और न ही देश खतरे में है।

इसके अलावा, गुलाम गौस ने कॉन्ग्रेस के पूर्व नेता और जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री व राज्यसभा के नेता प्रतिपक्ष रहे गुलाम नबी आजाद पर भी हमला बोला है। उन्होंने कहा है कि गुलाम नबी आजाद तो खानदानी गुलाम हैं और उन्होंने कभी मुस्लिमों के हित की बात नहीं की। ऐसे लोग सिर्फ कुर्सी के लिए जीते हैं। गुलाम नबी आजाद ने कॉन्ग्रेस से इस्तीफा देने के बाद अपनी नई पार्टी बना ली है, जिसे उन्होंने डेमोक्रेटिक आजाद पार्टी नाम दिया है।

बता दें कि बिहार विधानसभा परिषद में हुए इस कार्यक्रम का आयोजन भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री संजय पासवान ने किया था। इस कार्यक्रम में कई राजनीतिक दलों के हिंदू-मुस्लिम समुदाय के एमएलसी और विधायक मौजूद थे।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

1 साल में बढ़े 80 हजार वोटर, जिनमें 70 हजार का मजहब ‘इस्लाम’, क्या याद है आपको मंगलदोई? डेमोग्राफी चेंज के खिलाफ असम के...

असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा ने तथ्यों को आधार बनाते हुए चिंता जाहिर की है कि राज्य 2044 नहीं तो 2051 तक मुस्लिम बहुल हो जाएगा।

5 साल में 123% तक बढ़ गए मुस्लिम वोटर, फैक्ट फाइडिंग रिपोर्ट से सामने आई झारखंड की 10 सीटों की जमीनी हकीकत: बाबूलाल का...

झारखंड की 10 विधानसभा सीटों के कई मुस्लिम बहुल बूथ पर 100% से अधिक वोटर बढ़ गए हैं। यह खुलासा भाजपा की एक रिपोर्ट में हुआ है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -