Tuesday, July 27, 2021
Homeराजनीतितेलंगाना की आदिवासी महिला से मिले शाह, किया सदस्यता अभियान फिर शुरू

तेलंगाना की आदिवासी महिला से मिले शाह, किया सदस्यता अभियान फिर शुरू

बकौल शाह, "एक समय जब हमारी 2 सीटें थी, तो उस समय के प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने ताना मारा था कि भाजपा परिवार नियोजन में मानती है हम दो हमारे दो। तंज कसने वालों को आज विपक्ष का नेता बनने लायक सीटें नहीं मिल रही और हमारी पूर्ण बहुमत की सरकार आज केंद्र में है।"

एक बार फिर भाजपा के सदस्यों में भारी बढ़ोतरी के लिए केंद्रीय गृह मंत्री और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने आज (शनिवार, 6 जुलाई) से एक बार फिर सदस्यता अभियान प्रारम्भ किया। इस बार शुरुआत तेलंगाना से की गई, और शाह ने एक आदिवासी महिला से मुलाकात की।

ट्वीट कर दी जानकारी

ट्वीट कर मुलाकात की जानकारी देते हुए शाह ने लिखा, “रंगारेड्डी, तेलंगाना के ममीडिपल्ली गाँव की श्रीमती जाटवती सोनी नाइक जी के घर गया। उनके स्वागत और उनकी गर्मजोशी ने अभिभूत कर दिया।” उन्होंने मुलाकात की फ़ोटो भी पोस्ट की।

राजीव गाँधी के तंज़ को किया याद

रंगारेड्डी से ही भाजपा के सदस्यता अभियान की शुरुआत करते हुए अमित शाह ने 1984 में तत्कालीन प्रधानमंत्री राजीव गाँधी का भाजपा को मारा गया ताना भी याद किया। बकौल शाह, “एक समय जब हमारी 2 सीटें थी, तो उस समय के प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने ताना मारा था कि भाजपा परिवार नियोजन में मानती है हम दो हमारे दो। तंज कसने वालों को आज विपक्ष का नेता बनने लायक सीटें नहीं मिल रही और हमारी पूर्ण बहुमत की सरकार आज केंद्र में है।”

उन्होंने बूथवार काम करने की भाजपा की रणनीति जारी रखने का भी ऐलान किया, और कमज़ोर बूथों पर अधिकाधिक सदस्य बनाने पर भी ज़ोर दिया। “इस बार सदस्यता हर बूथ को मजबूत बनाने के लिए है। जहाँ हम मजबूत हैं, वहीं सदस्य बनाएँ ऐसा नहीं होना चाहिए। जो बूथ हम हारे हैं, उसे मजबूत करने का लक्ष्य तय करने का काम किया जाना चाहिए।” उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी का संदेश देते हुए कहा कि प्रधानमंत्री ने हर बूथ पर भाजपा को मज़बूत बनाने के अलावा भाजपा को सर्व-स्पर्शीय, सर्व-समावेशी बनाने पर भी जोर दिया है

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कारगिल कमेटी’ पर कॉन्ग्रेस की कुण्डली: लोकतंत्र की सुरक्षा के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा राजनीतिक दृष्टिकोण का न हो मोहताज

हमें ध्यान में रखना होगा कि जिस लोकतंत्र पर हम गर्व करते हैं उसकी सुरक्षा तभी तक संभव है जबतक राष्ट्रीय सुरक्षा का विषय किसी राजनीतिक दृष्टिकोण का मोहताज नहीं है।

असम-मिजोरम बॉर्डर पर भड़की हिंसा, असम के 6 पुलिसकर्मियों की मौत: हस्तक्षेप के दोनों राज्‍यों के CM ने गृहमंत्री से लगाई गुहार

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट कर बताया कि असम-मिज़ोरम सीमा पर तनाव में असम पुलिस के 6 जवानों की जान चली गई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,362FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe