Friday, June 14, 2024
Homeराजनीति'अतीक होता तो बुलडोजर चलवा देते': लखीमपुर खीरी की घटना को ओवैसी ने दिया...

‘अतीक होता तो बुलडोजर चलवा देते’: लखीमपुर खीरी की घटना को ओवैसी ने दिया हिंदू-मुस्लिम का रंग, कहा – ‘…अब्बाजान को हटाओ’

ओवैसी ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए दावा किया कि आशीष मिश्रा को पुलिस कस्टडी में 8-8 बार नाश्ता कराया जा रहा है। उन्होंने ये बयान बलरामपुर में एक जनसभा के दौैरान दिया।

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा पर विपक्ष लगातार राजनीतिक रोटियाँ सेंकने का काम कर रहा है। राहुल गाँधी और प्रियंका गाँधी के सियासी ड्रामे के बाद अब आल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने भी इसमें एँट्री मारी है। ओवैसी ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए दावा किया कि आशीष मिश्रा को पुलिस कस्टडी में 8-8 बार नाश्ता कराया जा रहा है। उन्होंने ये बयान बलरामपुर में एक जनसभा के दौैरान दिया।

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अब्बाजान वाले बयान के जरिए पीएम नरेंद्र मोदी पर कटाक्ष किया और कहा कि लखीमपुर खीरी में किसानों पर गाड़ी चढ़ाकर मारने वाले के पिता अजय मिश्रा को मोदी जी पद से क्यों नहीं हटा रहे हैं। आशीष के अब्बाजान को क्यों नहीं हटाते हैं।

अतीक अहमद को लेकर छलका दर्द

सीएम योगी आदित्यनाथ को संबोधित करते हुए ओवैसी ने कहा कि योगीजी अब्बाजान का नाम अजय है, अगर इसकी जगह अतीक होता तो अब तक आप उसके घर पर बुलडोजर चलवा दिए होते। इससे मामले में आप क्यों चुप हैं ये जनता जानना चाहती है। ओवैसी ने ये भी दावा किया कि यूपी में अब तक जितनी भी सरकारें आईं, उनके लिए मुस्लिमों की कोई अहमियत नहीं रही। मुस्लिमों को अपनी ताकत दिखानी है तो मजलिस को वोट करना ही पड़ेगा। उन्होंने मुस्लिमों से एकजुट होने की अपील की।

ओवैसी ने दावा किया कि लखीमपुर खीरी जैसी बड़ी घटनाएँ बिना ऊपर के आदेश के नहीं हो सकती हैं। आशीष मिश्रा को लेकर ओवैसी ने कहा कि ऐसा लग रहा था कि अपनी ससुराल में गया था। इसके साथ ही उन्होंने बीजेपी पर आशीष को बचाने की कोशिश करने का भी आरोप लगाया।

मजलिस ही मुस्लिमों के लिए एकमात्र विकल्प

असदुद्दीन ओवैसी ने दावा किया है कि उत्तर प्रदेश की जेलों में 27 फीसदी मुस्लिमों को बंद कर दिया गया है। अपनी ही पार्टी के पूर्व विधायक अनवर हाशमी के लिए अखिलेश यादव नहीं बोल रहे हैं। यूपी में हर समाज का नेता है, लेकिन मुस्लिमों के पास कोई नेता ही नहीं है। मजलिस ही आपके लिए एकमात्र विकल्प शेष है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मेलोनी को किया नमस्ते, पोप से गले मिले… इंग्लैंड से सेमीकंडक्टर, यूक्रेन से ‘Black Sea’ और फ्रांस से ‘ब्लू इकोनॉमी’ पर बातचीत, G7 में...

रक्षा, सुरक्षा, तकनीक, AI, ब्लू इकॉनमी और कई अन्य विषयों पर फ्रांस से चर्चा हुई। इंग्लैंड से सेमीकंडक्टर पर भी बात हुई। यूक्रेन से 'ब्लैक सी एक्सपोर्ट कॉरिडोर' पर बातचीत।

हिन्दू देवी-देवताओं के अपमान पर ‘मत देखो’, इस्लामी कुरीति पर सवाल उठाना ‘आपत्तिजनक’: PK और ‘हमारे बारह’ को लेकर सुप्रीम कोर्ट का दोहरा रवैया...

राधा व दुर्गा के साथ 'सेक्सी' शब्द जोड़ने वालों और भगवान शिव को बाथरूम में छिपते हुए दिखाने वालों पर सुप्रीम कोर्ट ने क्या कार्रवाई की थी? इस्लामी कुरीति दिखाने पर भड़क गया सर्वोच्च न्यायालय, हिन्दू धर्म के अपमान पर चूँ तक नहीं किया जाता।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -