Tuesday, November 30, 2021
Homeराजनीतिझारखंड में बुझ गई लालू की लालटेन: RJD प्रदेश अध्यक्ष गौतम राणा ने बनाई...

झारखंड में बुझ गई लालू की लालटेन: RJD प्रदेश अध्यक्ष गौतम राणा ने बनाई नई पार्टी

राँची विधानसभा के सभागार में पूरे झारखंड से जुटे पार्टी के महत्वपूर्ण नेताओं और कुछ जिला अध्यक्षों की मौजूदगी में सभागार में मौजूद राजद के सभी नेताओं ने पार्टी से त्यागपत्र दिया। नई पार्टी का नाम रखा गया राष्ट्रीय जनता दल लोकतांत्रिक।

लोकसभा चुनाव में करारी शिकस्त मिलने के बाद बिहार की मुख्य विपक्षी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल (राजद) को बड़ा झटका लगा है। लालू की पार्टी राजद झारखंड में टूट गई है। झारखंड में राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष गौतम सागर राणा ने राजद से अलग होकर पार्टी के सदस्यों के साथ नई पार्टी का गठन किया है और ऐसा तब हुआ जब लालू प्रसाद राँची में ही हैं। वो चारा घोटाले के चार मामलों में राँची के बिरसा मुंडा जेल में सजा काट रहे हैं। नई पार्टी का नाम राष्ट्रीय जनता दल लोकतांत्रिक रखा गया है।

रविवार (जून 23, 2019) को विधानसभा सभागार में पूरे झारखंड से जुटे पार्टी के महत्वपूर्ण नेताओं और कुछ जिला अध्यक्षों की मौजूदगी में तीन प्रस्ताव सर्वसम्मति से पारित हुए। पहले प्रस्ताव में सभागार में मौजूद राजद के सभी नेताओं ने पार्टी से त्यागपत्र दिया। दूसरे प्रस्ताव में नई पार्टी के गठन का प्रस्ताव आया, जिसका नाम रखा गया राष्ट्रीय जनता दल लोकतांत्रिक। तीसरे प्रस्ताव में इस नई पार्टी के केंद्रीय अध्यक्ष के रूप में गौतम सागर राणा का नाम आया।

सभागार में मौजूद सभी लोगों ने इन तीनों प्रस्ताव को सर्वसम्मति से पारित किया। नई पार्टी के गठन के बाद अध्यक्ष गौतम सागर राणा ने पत्रकारों से बात की और कहा, “मैं और झारखंड के राष्ट्रीय जनता दल के 90 फीसदी कार्यकर्ता व नेता लालू प्रसाद यादव से नाराज हैं। अब राष्ट्रीय जनता दल में लोकतंत्र नहीं बचा है, लिहाजा हमने नई पार्टी बनाई है और अब हम खुद झारखंड के लोगों की सेवा करेंगे।” इसके साथ ही उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी ही असली राजद है। हालाँकि, वो लालटेन छाप पर दावा नहीं करेंगे। उनका चुनाव चिह्न अलग होगा। इस बारे में वो जल्द ही चुनाव आयोग को सूचित करेंगे।

गौतम सागर राणा ने कहा कि जुलाई के पहले सप्ताह में कार्यसमिति की बैठक होगी, जिसमें विधानसभा चुनाव की रणनीति बनेगी। बैठक में तय होगा कि किस दल के साथ गठबंधन करना सही होगा। उन्होंने कहा कि फिलहाल सभी पार्टियाँ उनके संपर्क में हैं, मगर वो अपनी ताकत के दम पर आगे बढ़ेंगे। वहीं झारखंड के वर्तमान राजद अध्यक्ष अभय सिंह ने पार्टी की टूट पर कहा कि दल से निकाले हुए लोगों ने नई पार्टी बनाई है। इससे राजद की सेहत पर कोई असर नहीं पड़ने वाला है। चंद पॉकेट के लोगों के साथ गौतम सागर राणा ने नया दल बनाया है, जिसका कोई असर राजद की सेहत पर नहीं पड़ेगा।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कभी ज़िंदा जलाया, कभी काट कर टाँगा: ₹60000 करोड़ का नुकसान, हत्या-बलात्कार और हिंसा – ये सब देश को देकर जाएँगे ‘किसान’

'किसान आंदोलन' के कारण देश को 60,000 करोड़ रुपए का घाटा सहना पड़ा। हत्या और बलात्कार की घटनाएँ हुईं। आम लोगों को परेशानी झेलनी पड़ी।

बारबाडोस 400 साल बाद ब्रिटेन से अलग होकर बना 55वाँ गणतंत्र देश: महारानी एलिजाबेथ द्वितीय का शासन पूरी तरह से खत्म

बारबाडोस को कैरिबियाई देशों का सबसे अमीर देश माना जाता है। यह 1966 में आजाद हो गया था, लेकिन तब से यहाँ क्वीन एलीजाबेथ का शासन चलता आ रहा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
140,729FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe