झारखंड में बुझ गई लालू की लालटेन: RJD प्रदेश अध्यक्ष गौतम राणा ने बनाई नई पार्टी

राँची विधानसभा के सभागार में पूरे झारखंड से जुटे पार्टी के महत्वपूर्ण नेताओं और कुछ जिला अध्यक्षों की मौजूदगी में सभागार में मौजूद राजद के सभी नेताओं ने पार्टी से त्यागपत्र दिया। नई पार्टी का नाम रखा गया राष्ट्रीय जनता दल लोकतांत्रिक।

लोकसभा चुनाव में करारी शिकस्त मिलने के बाद बिहार की मुख्य विपक्षी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल (राजद) को बड़ा झटका लगा है। लालू की पार्टी राजद झारखंड में टूट गई है। झारखंड में राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष गौतम सागर राणा ने राजद से अलग होकर पार्टी के सदस्यों के साथ नई पार्टी का गठन किया है और ऐसा तब हुआ जब लालू प्रसाद राँची में ही हैं। वो चारा घोटाले के चार मामलों में राँची के बिरसा मुंडा जेल में सजा काट रहे हैं। नई पार्टी का नाम राष्ट्रीय जनता दल लोकतांत्रिक रखा गया है।

रविवार (जून 23, 2019) को विधानसभा सभागार में पूरे झारखंड से जुटे पार्टी के महत्वपूर्ण नेताओं और कुछ जिला अध्यक्षों की मौजूदगी में तीन प्रस्ताव सर्वसम्मति से पारित हुए। पहले प्रस्ताव में सभागार में मौजूद राजद के सभी नेताओं ने पार्टी से त्यागपत्र दिया। दूसरे प्रस्ताव में नई पार्टी के गठन का प्रस्ताव आया, जिसका नाम रखा गया राष्ट्रीय जनता दल लोकतांत्रिक। तीसरे प्रस्ताव में इस नई पार्टी के केंद्रीय अध्यक्ष के रूप में गौतम सागर राणा का नाम आया।

सभागार में मौजूद सभी लोगों ने इन तीनों प्रस्ताव को सर्वसम्मति से पारित किया। नई पार्टी के गठन के बाद अध्यक्ष गौतम सागर राणा ने पत्रकारों से बात की और कहा, “मैं और झारखंड के राष्ट्रीय जनता दल के 90 फीसदी कार्यकर्ता व नेता लालू प्रसाद यादव से नाराज हैं। अब राष्ट्रीय जनता दल में लोकतंत्र नहीं बचा है, लिहाजा हमने नई पार्टी बनाई है और अब हम खुद झारखंड के लोगों की सेवा करेंगे।” इसके साथ ही उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी ही असली राजद है। हालाँकि, वो लालटेन छाप पर दावा नहीं करेंगे। उनका चुनाव चिह्न अलग होगा। इस बारे में वो जल्द ही चुनाव आयोग को सूचित करेंगे।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

गौतम सागर राणा ने कहा कि जुलाई के पहले सप्ताह में कार्यसमिति की बैठक होगी, जिसमें विधानसभा चुनाव की रणनीति बनेगी। बैठक में तय होगा कि किस दल के साथ गठबंधन करना सही होगा। उन्होंने कहा कि फिलहाल सभी पार्टियाँ उनके संपर्क में हैं, मगर वो अपनी ताकत के दम पर आगे बढ़ेंगे। वहीं झारखंड के वर्तमान राजद अध्यक्ष अभय सिंह ने पार्टी की टूट पर कहा कि दल से निकाले हुए लोगों ने नई पार्टी बनाई है। इससे राजद की सेहत पर कोई असर नहीं पड़ने वाला है। चंद पॉकेट के लोगों के साथ गौतम सागर राणा ने नया दल बनाया है, जिसका कोई असर राजद की सेहत पर नहीं पड़ेगा।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

कमलेश तिवारी हत्याकांड
आपसी दुश्मनी में लोग कई बार क्रूरता की हदें पार कर देते हैं। लेकिन ये दुश्मनी आपसी नहीं थी। ये दुश्मनी तो एक हिंसक विचारधारा और मजहबी उन्माद से सनी हुई उस सोच से उत्पन्न हुई, जहाँ कोई फतवा जारी कर देता है, और लाख लोग किसी की हत्या करने के लिए, बेखौफ तैयार हो जाते हैं।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

107,042फैंसलाइक करें
19,440फॉलोवर्सफॉलो करें
110,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: