Monday, June 17, 2024
Homeराजनीतिमतदान के दिन लालू की बेटी रोहिणी आचार्य को बूथ से पड़ा था लौटना,...

मतदान के दिन लालू की बेटी रोहिणी आचार्य को बूथ से पड़ा था लौटना, अगली सुबह बिहार के छपरा में गिर गई 1 लाश: खूनी संघर्ष के बाद इंटरनेट बंद

छपरा में जिस बूथ पर हिंसा की घटना घटी है वहाँ सोमवार (20 मई 2024) शाम को मतदान खत्म होने के बाद राजद उम्मीदवार और लालू यादव की बेटी रोहिणी आचार्य पहुँचीं थी। उनके लौटने के बाद वहाँ पर खूब हंगामा मचा। विवाद इतना बढ़ा कि गोलीबारी हो गई।

बिहार के छपरा में चुनावी हिंसा में एक की मौत की खबर आ रही है। रिपोर्टों के अनुसार 21 मई 2024 को बीजेपी और राजद समर्थकों के बीच टकराव हुआ। फायरिंग हुई।

हिंसा की यह घटना उसी इलाके में हुई है, जहाँ के एक बूथ से रोहिणी आचार्य को मतदान के दिन (20 मई) विरोध के बाद लौटना पड़ा था। पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव की बेटी रोहिणी, सारण की सीट से राजद उम्मीदवार हैं। उनका मुकाबला बीजेपी के राजीव प्रताप रुडी से है।

छपरा में हुई हिंसा को लेकर आई जानकारी बताती है कि भाजपा और राजद समर्थकों ने न केवल हाथापाई की बल्कि काँच की बोतल से एक दूसरे पर हमला किया और फायरिंग की गई। घटना में एक की मौत हो गई जबकि दो लोग गंभीर रूप से घायल बताए जा रहे हैं। उन्हें पटना रेफर किया गया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, पूरा मामाल भिखारी ठाकुर चौक का है। इस झड़प के बाद पूरे जिले को हाई अलर्ट कर दिया गया है। अब पुलिस चप्पे-चप्पे पर गश्त कर रही है। स्थिति नियंत्रित रखने के लिए पूरे जिले से 48 घंटे के लिए इंटरनेट बंद कर दिया गया है। वहीं शांति व्यवस्था बनाने के लिए काम हो रहा है। पुलिस एसपी गौरव मंगला ने घटना की जानकारी देते हुए शांति अपील की। साथ ही आरोपित को पकड़ने का आश्वासन दिया।

बता दें कि सारण की लोकसभा सीट की राजद प्रत्याशी एक बूथ पर सोमवार (20 मई 2024) शाम को पहुँचीं थी, लेकिन यहाँ किन्हीं कारणों से इनका विरोध हुआ और बाद में इन्हें बूथ से लौटना पड़ा। इस घटना की अगली सुबह ही मीडिया में खबर आई कि भाजपा और राजद के कार्यकर्ता आपस में भिड़ गए, जिसमें एक की मौत हो गई है वहीं दो बुरी तरह गोली लगने से घायल हैं।

मृतक की पहचान 26 साल के चंदन राय के तौर पर हुई है। वह तेलपा के रहने वाले थे। वहीं घायलों में शंभू राय के 30 वर्षीय पुत्र गुड्डू राय और विदेशी राय के 40 वर्षीय पुत्र मनोज राय भी शामिल हैं। इनका इलाज सदर अस्पताल में चल रहा था। बाद में इन्हें पीएमसीएच रेफर किया गया। इनमें मनोज के जहाँ कमर में गोली लगी हुई है तो वहीं गुड्डू के सिर में गोली लगी है। घटना के बाद पूर्व मंत्री भी इनसे मिलने पहुँचे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पहले उइगर औरतों के साथ एक ही बिस्तर पर सोए, अब मुस्लिमों की AI कैमरों से निगरानी: चीन के दमन की जर्मन मीडिया ने...

चीन में अब भी उइगर मुस्लिमों को लेकर अविश्वास है। तमाम डिटेंशन सेंटरों का खुलासा होने के बाद पता चला है कि अब उइगरों पर AI के जरिए नजर रखी जा रही है।

सेजल, नेहा, पूजा, अनामिका… जरूरी नहीं आपके पड़ोस की लड़की ही हो, ये पाकिस्तान की जासूस भी हो सकती हैं: जानिए कैसे ISI के...

पाकिस्तानी ISI के जासूस भारतीय लड़कियों के नाम से सोशल मीडिया पर आईडी बना देश की सुरक्षा से जुड़े लोगों को हनीट्रैप कर रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -