Sunday, October 17, 2021
Homeराजनीतिहार दिखते ही EVM का रोना शुरू: कॉन्ग्रेसी नेता के साथ-साथ बिहार की 'केजरीवाल'...

हार दिखते ही EVM का रोना शुरू: कॉन्ग्रेसी नेता के साथ-साथ बिहार की ‘केजरीवाल’ ने BJP पर साधा निशाना

कॉन्ग्रेस नेता उदित राज ने EVM हैक को सही बताने के लिए पूरे चुनाव को मंगल ग्रह और चांद तक से जोड़ दिया। बिहारी 'केजरीवाल' पुष्पम प्रिया ने तो यहाँ तक कह दिया कि प्लूरल्स पार्टी के वोट को भाजपा ने अपने हिस्से कर लिया।

बिहार चुनाव में मतगणना के दौरान आँकड़ों में हुई उलट फेर ने दोबारा से ईवीएम को ‘हैक’ करवा दिया है। एनडीए को दोपहर होते-होते सीटों में बढ़त क्या मिली, ट्विटर पर ईवीएम के ऊपर इल्जाम लगने शुरू हो गए। कॉन्ग्रेस नेता उदित राज ने तो इस ईवीएम हैक को सही बताने के लिए पूरे चुनाव को मंगल ग्रह और चांद तक से जोड़ दिया। वहीं पुष्पम प्रिया ने सीधे तौर पर भाजपा पर इसका आरोप मढ़ा।

उदित राज ने रुझानों में महागठबंधन के पिछड़ते ही लिखा, “जब मंगल ग्रह और चांद की ओर जाते उपक्रम की दिशा को धरती से नियंत्रित किया जा सकता है तो ईवीएम हैक क्यों नहीं की जा सकती? अमेरिका में अगर ईवीएम से चुनाव होता तो क्या ट्रंप हार सकते थे?”

वह ईवीएम से असंतुष्ट हो कर कहते हैं कि ईवीएम से वोटिंग खत्म होनी चाहिए चाहे कॉन्ग्रेस ही क्यों न जीत जाए। अगर धरती से मंगल और चांद की सैटेलाइट को कंट्रोल किया जा सकता है तो फिर ईवीएम क्या है उनके सामने। हरियाणा इलेक्शन में कुछ लड़के ब्लूटूथ के जरिए ईवीएम हैक करते पकड़े गए थे। वह कहते हैं कि उनका मत हर चुनाव के लिए है, सिर्फ बिहार के लिए नहीं है।

डॉ उदित राज की तरह प्लूरल्स पार्टी की पुष्पम प्रिया चौधरी ने भी रुझान बदलने पर ट्विटर पर सीधे तौर पर ईवीएम व भाजपा के ऊपर सारा इल्जाम मढ़ते हुए कहा कि प्लूरल्स पार्टी के वोट को भाजपा ने अपने हिस्से कर लिया। उनके इन ट्विट्स को देखकर लोगों ने जम कर चुटकी ली है।

नवीन शर्मा ने लिखा, “पुष्पम प्रिया को दोनों सीट से जितना वोट मिला है, उससे ज्यादा तो हमारे यहाँ वार्ड पार्षद चुनाव में निर्दलीय उम्मीदवार को मिल जाता है। एक सीट पर- 389। दूसरी सीट पर- 243।

दिवाकर तिवारी लिखते हैं, “हमारे भी चाचा जी खड़े थे, वे चुनाव हार गए हैं। हमने तो कोई सा ब्लेम नहीं लगाया EVM को लेकर। हमारी विचारधारा में कहीं ना कहीं कमी है। ”

इसी प्रकार नेटिजन्स पहले डॉ उदित राज की हिंदी सुधारते हुए लिखते हैं कि उपक्रम नहीं होता उपग्रह होता है। एक यूजर लिखता है कि आरक्षण लागू कर दिया जाए तो ईवीएम भी हैक किया जा सकता है।

एक महिला यूजर लिखती हैं, “आप कॉन्ग्रेस द्वारा हैक हो गए, इसका मतलब यह तो नहीं है कि सब कुछ हैक हो सकता है?“

यहाँ बता दें कि दोपहर 2:30 बजे तक सभी विधानसभा चुनावों पर रुझान आ चुका है। एनडीए को इसमें 127 सीटें मिली हैं, वही महागठबंधन को 106 सीटे मिली हैं। लोजपा 3 पर है और अन्य 7 सीटों पर हैं।

पार्टी के लिहाज से देखें तो भाजपा इस समय सभी पार्टियों से सबसे आगे चल रही है। दूसरे नंबर पर राजद है। तीसरे में जदयू और फिर आखिर में कॉन्ग्रेस। कुछ देर में नतीजे साफ हो जाएँगे, तभी पता चल पाएगा कि बिहार में अगले 5 साल के लिए किस सरकार का शासन रहेगा।

इस बीच ईवीएम पर लगाए जा रहे इल्जामों पर चुनाव आयोग का बयान आया है। आयोग ने कहा है, “इस बात को कहने की जरूरत नहीं है कि अब तक वोटों की गिनती बिल्कुल गड़बड़ रहित रही है। बिहार में लगभग 1 करोड़ से अधिक मतों की गणना की गई है यानी अभी और भी कवर किया जाना शेष है।”

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बेअदबी करने वालों को यही सज़ा मिलेगी, हम गुरु की फौज और आदि ग्रन्थ ही हमारा कानून’: हथियारबंद निहंगों को दलित की हत्या पर...

हथियारबंद निहंग सिखों ने खुद को गुरू ग्रंथ साहिब की सेना बताया। साथ ही कहा कि गुरु की फौजें किसानों और पुलिस के बीच की दीवार हैं।

सरकारी नौकरी से निकाला गया सैयद अली शाह गिलानी का पोता, J&K में रिसर्च ऑफिसर बन कर बैठा था: आतंकियों के समर्थन का आरोप

अलगाववादी नेता रहे सैयद अली शाह गिलानी के पोते अनीस-उल-इस्लाम को जम्मू कश्मीर में सरकारी नौकरी से निकाल बाहर किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,107FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe