Saturday, April 13, 2024
Homeराजनीतिबंगाल में आएगा हिंदुओं का शासन, घुसपैठियों को राशन- आधार-वोटर कार्ड देकर शासन करती...

बंगाल में आएगा हिंदुओं का शासन, घुसपैठियों को राशन- आधार-वोटर कार्ड देकर शासन करती रही ममता: साध्वी प्रज्ञा

"ममता ऐसी महिला हैं जो विदेशी परंपरा का पालन कर रही हैं। हमारा बंगाल हिंदू राज्य बनेगा, भारत हिंदू राष्ट्र बनेगा। बंगाल अखंड भारत का हिस्सा है ममता इसे अलग करने का प्रयास कर रहीं हैं। जल्द ही बंगाल में बीजेपी और हिंदुओं का शासन आएगा।"

पश्चिम बंगाल में बीजेपी कार्यकर्ताओं पर हमले की खबरों के बीच पार्टी सांसद साध्वी प्रज्ञा ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर तीखा हमला किया है। उन्होंने कहा है कि घुसपैठियों को राशन, आधार और वोटर कार्ड देकर ममता बनर्जी अब तक शासन करती रही हैं। अब सत्ता जाने के डर से वह तिलमिला गई हैं। साध्वी प्रज्ञा ने कहा कि बंगाल में अब भाजपा की सरकार बनेगी और हिंदुओं का शासन आएगा हिंदुओं का शासन आएगा। राज्य में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं।

भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा के काफिले पर हुए हमले को लेकर प्रतिक्रिया देते हुए सांसद साध्वी ने कहा, “मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पागल हो गई हैं और वह तिलमिला इसलिए रही हैं कि उन्हे समझ आ गया है कि यह भारत है, पाकिस्तान नहीं, जिस पर शासन कर रही हैं।” बीजेपी सांसद ने कहा, “ममता ऐसी महिला हैं जो विदेशी परंपरा का पालन कर रही हैं। हमारा बंगाल हिंदू राज्य बनेगा, भारत हिंदू राष्ट्र बनेगा। बंगाल अखंड भारत का हिस्सा है ममता इसे अलग करने का प्रयास कर रहीं हैं। जल्द ही बंगाल में बीजेपी और हिंदुओं का शासन आएगा।”

साध्वी प्रज्ञा ने कहा कि जनसंख्या नियंत्रण कानून उनके लिए होना चहिए जो देश में राष्ट्र विरोधी गतिविधियाँ करते हैं। जिनको राष्ट्र घात करने के लिए ट्रेनिंग दी जाती है उनके लिए कानून बनना चाहिए। इसके अलावा उन्होंने मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह का बिना नाम लिए उन पर निशाना साधते हुए कहा, ”जो लोग राष्ट्र को अपमानित करते हैं, भगवा को आतंकवादी कहते हैं, वे क्षत्रिय नहीं होते। भगवा का अपमान करने वालों, हिंदुत्व का अपमान करने वालों को राजा नहीं कहना चाहिए।”

किसान आंदोलन के नाम पर विपक्ष पार्टियों के नापाक इरादों पर भी उन्होंने सवाल उठाया। साध्वी ने कहा, “देश-विरोधी लोग इसमे शामिल हैं। यह किसान नहीं हैं, बल्कि उनके भेष में वामपंथी और कॉन्ग्रेसी छिपे हुए हैं। ऐसे लोगों को समझना चाहिए कि यह किसान नहीं, अन्य प्रकार के लोग किसानों के भेष में आकर भ्रम फैला रहे हैं। ये लोग राष्ट्र विरोधी हैं।”

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष जेपी नड्डा के काफिले पर हुए हमले के मामले में तीन आईपीएस अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई हुई। तीनों अधिकारियों को डेप्युटेशन पर दिल्ली बुलाया गया था। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने जेपी नड्डा की सुरक्षा में लापरवाही के चलते शनिवार को ये कार्रवाई की।

गुरुवार (दिसंबर 10, 2020) को दक्षिण 24 परगना में एक कार्यक्रम के लिए डायमंड हार्बर की ओर जाते वक़्त बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के काफिले पर हमला हुआ था। इस हमले में बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय की गाड़ी पर ईंट फेंकी गई थी। उन्होंने वीडियो साझा करते हुए पूरी घटना की सूचना दी थी। इस घटना पर कैलाश विजयवर्गीय ने लिखा था, “बंगाल पुलिस को पहले ही राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के कार्यक्रम की जानकारी दी गई थी। लेकिन एक बार फिर बंगाल पुलिस नाकाम रही। सिराकोल बस स्टैंड के पास पुलिस के सामने ही TMC के गुंडों ने हमारे कार्यकर्ताओं को मारा और मेरी गाड़ी पर पथराव किया।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

किसानों को MSP की कानूनी गारंटी देने का कॉन्ग्रेसी वादा हवा-हवाई! वायर के इंटरव्यू में खुली पार्टी की पोल: घोषणा पत्र में जगह मिली,...

कॉन्ग्रेस के पास एमएसपी की गारंटी को लेकर न कोई योजना है और न ही उसके पास कोई आँकड़ा है, जबकि राहुल गाँधी गारंटी देकर बैठे हैं।

जज की टिप्पणी ही नहीं, IMA की मंशा पर भी उठ रहे सवाल: पतंजलि पर सुप्रीम कोर्ट सख्त, ईसाई बनाने वाले पादरियों के ‘इलाज’...

यूजर्स पूछ रहे हैं कि जैसी सख्ती पतंजलि पर दिखाई जा रही है, वैसी उन ईसाई पादरियों पर क्यों नहीं, जो दावा करते हैं कि तमाम बीमारी ठीक करेंगे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe