Thursday, February 29, 2024
Homeराजनीति'TMC= टेररिस्ट मैन्युफैक्चरिंग कंपनी, युवाओं के बीच भी यही धारणा है': BJP ने बंगाल...

‘TMC= टेररिस्ट मैन्युफैक्चरिंग कंपनी, युवाओं के बीच भी यही धारणा है’: BJP ने बंगाल के ‘भाईपो’ की बदजुबानी को बनाया निशाना

ममता बनर्जी की पार्टी फ़िलहाल बगावतों से जूझ रही है। जहाँ 6 जिलों और 35 विधानसभा सीटों पर प्रभाव रखने वाले अधिकारी परिवार के शुभेंदु ने कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया है, वहीं कूच विहार के विधायक मिहिर गोस्वामी भाजपा में चले गए हैं। जटू लाहिड़ी ने भी असंतोष जताया है।

भाजपा ने पश्चिम बंगाल की सत्ताधारी पार्टी तृणमूल कॉन्ग्रेस (TMC) को ‘टेररिस्ट मैन्युफैक्चरिंग कंपनी’ करार दिया है। इधर ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक ने भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष को ‘गुंडा’ और राज्य में पार्टी के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय को ‘बाहरी’ करार दिया। दिलीप घोष ने अभिषेक बनर्जी को ‘बच्चा’ बताया है।

पश्चिम बंगाल में भाजपा के उपाध्यक्ष राजू बनर्जी ने TMC के लिए ‘टेररिस्ट मैन्युफैक्चरिंग कंपनी’ वाला तमगा इस्तेमाल किया। बता दें कि अभिषेक बनर्जी सांसद भी हैं और पार्टी में उन्हें अगला नेतृत्व माना जा रहा है। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव और बंगाल प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय सहित भाजपा के कई बड़े नेताओं को बाहरी बताया।

दिलीप घोष ने उनके आरोपों का जवाब देते हुए कहा, “सभी ने पंचायत चुनाव में देखा है कि कौन गुंडा है। उन्होंने मुझे न केवल एक ठग बताया, बल्कि माफिया भी कहा है। माफिया कौन है, यह आप समझ सकते हैं। उनके काफिले में 25 कारें होती हैं और हर कोई जानता है कि उनके पास क्या-क्या है। वास्तविकता ये है कि उनकी हताशा उच्चतम स्तर पर चली गई है।”

वहीं राजू बनर्जी ने अपने बयान में कहा, “समय के साथ, TMC का अर्थ बदलता रहा है। अब यह टेररिस्ट मैन्युफैक्चरिंग कंपनी (आतंकवादी विनिर्माण कंपनी) बन गई है। युवाओं के बीच भी भी यही धारणा है। तृणमूल कार्यकर्ता भी ऐसा सोचते हैं और इसलिए वे कब्रिस्तानों की दीवारों पर लिख रहे हैं कि TMC 2021 में आ रही है।” हाल ही में कैलाश विजायवर्गीय ने कहा था कि अब TMC की लगाम भाईपो (भतीजे) के साथ में चली गई है, कोई स्वाभिमानी व्यक्ति वहाँ कैसे टिक सकता है?

ममता बनर्जी की पार्टी फ़िलहाल बगावतों से जूझ रही है। जहाँ 6 जिलों और 35 विधानसभा सीटों पर प्रभाव रखने वाले अधिकारी परिवार के शुभेंदु ने कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया है, वहीं कूच विहार के विधायक मिहिर गोस्वामी भाजपा में चले गए हैं। जटू लाहिड़ी ने भी असंतोष जताया है। उन्होंने कहा है, “प्रशांत किशोर को पार्टी में किराए पर रखा गया है। उनकी नियुक्ति होने के बाद से सभी तरफ से नुकसान होना शुरू हो गया है।” 

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

थू-थू होने के बाद TMC ने शाहजहाँ शेख को पार्टी से निकाला, पर केस उसी CID को दी जो संदेशखाली की रिपोर्टिंग करने वाले...

टीएमसी ने शाहजहाँ शेख को पार्टी से छह साल से निलंबित कर दिया है। वहीं, उससे जुड़े मामलों की जाँच बंगाल पुलिस की CID को सौंपा है।

हॉस्टल में बुलाया, नंगा घुमाया, 3 दिनों तक रखा भूखा-प्यासा… टॉयलेट में मिला जिस छात्र का शव उसे टॉर्चर करने का आरोप SFI के...

केरल के वायनाड में वामपंथी संगठन SFI के छात्रों ने एक छात्र को नंगा घुमाया और मारा पीटा, बेइज्जत किया, इसके कारण छात्र ने आत्महत्या कर ली।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
418,000SubscribersSubscribe