राजस्थान में BSP नेताओं को गधे पर घुमाया: कॉन्ग्रेस पर भड़कीं मायावती, कहा- जैसे को तैसा

बसपा कोऑर्डिनेटर रामजी गौतम और प्रदेश प्रभारी सीताराम को नाराज कार्यकर्ताओं ने जयपुर स्थित पार्टी कार्यालय पर मुँह काला कर गधे पर बैठाकर घुमाया। गुस्साए कार्यकर्ताओं ने उनके मुँह पर कालिख पोती और जूते-चप्पल की माला भी पहनाई।

राजस्थान में बसपा नेताओं के साथ बदसलूकी पर पार्टी की सुप्रीमो मायावती भड़क गई हैं। राजस्थान के जयपुर में मंगलवार (अक्टूबर 22, 2019) सुबह बहुजन समाज पार्टी (BSP) के नेशनल कोऑर्डिनेटर का मुँह काला करने और गधे पर बैठाकर घुमाने के मामले की बसपा सुप्रीमो मायावती ने कड़ी निंदा की है। मायावती ने ट्वीट कर कॉन्ग्रेस पार्टी को चेतावनी देते हुए कहा कि लोग ‘जैसे को तैसा’ जवाब दे सकते हैं।

मायावती ने कॉन्ग्रेस पर गलत परंपरा लागू करने का आरोप लगाते हुए ट्वीट किया कि कॉन्ग्रेस पार्टी ने पहले राजस्थान में बसपा विधायकों को तोड़ा और अब मूवमेन्ट को अघात पहुँचाने के लिए वहाँ के वरिष्ठ लोगों पर हमला करवा रही है, जो अति-निन्दनीय व शर्मनाक है। कॉन्ग्रेस अम्बेडकरवादी मूवमेन्ट के खिलाफ काफी गलत परम्परा डाल रही है, जिसका जैसे को तैसा जवाब लोग दे सकते हैं। इसलिए कॉन्ग्रेस पार्टी को अपनी ऐसी घिनौनी हरकतों से बाज़ आ जाना चाहिए।

बता दें कि मंगलवार सुबह जयपुर में बसपा कोऑर्डिनेटर रामजी गौतम और प्रदेश प्रभारी सीताराम को बसपा के ही नाराज कार्यकर्ताओं ने जयपुर स्थित पार्टी कार्यालय पर मुँह काला कर गधे पर बैठाकर घुमाया। उन पर टिकट बेचने और पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ धोखाधड़ी करने का आरोप है। गुस्साए कार्यकर्ताओं ने उनके मुँह पर कालिख पोती और जूते-चप्पल की माला भी पहनाई।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

बसपा कार्यकर्ताओं ने इस घटना के दौरान नेशनल कोऑर्डिनेटर के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। रामजी गौतम और सीताराम पर पार्टी से दगाबाजी करने व चुनाव में टिकट बेचने का आरोप है। इसी आरोप के चलते बसपा कार्यकर्ताओं ने उनके साथ ऐसा व्यवहार किया। गुस्साए कार्यकर्ताओं ने उनके मुँह पर कालिख पोत कर उन्हें गधे पर बिठाया और उनका जुलूस निकाला। यह कांड बसपा प्रदेश कार्यालय के सामने हुआ था। बसपा कार्यकर्ताओं ने रामजी गौतम के साथ मारपीट भी की थी।

गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले राजस्थान में बसपा के 6 विधायकों ने कॉन्ग्रेस का हाथ थाम लिया था। जिसके बाद मायावती ने कॉन्ग्रेस पर हॉर्स ट्रेडिंग का आरोप लगाया था। बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा था कि कॉन्ग्रेस ने एक बार फिर यह साबित कर दिया है कि वह एक गैर भरोसेमंद पार्टी है।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

बीएचयू, वीर सावरकर
वीर सावरकर की फोटो को दीवार से उखाड़ कर पहली बेंच पर पटक दिया गया था। फोटो पर स्याही लगी हुई थी। इसके बाद छात्र आक्रोशित हो उठे और धरने पर बैठ गए। छात्रों के आक्रोश को देख कर एचओडी वहाँ पर पहुँचे। उन्होंने तीन सदस्यीय कमिटी गठित कर जाँच का आश्वासन दिया।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

114,578फैंसलाइक करें
23,209फॉलोवर्सफॉलो करें
121,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: