Sunday, October 17, 2021
Homeराजनीति27.5 लाख खातों में ट्रांसफर किए ₹611 करोड़: CM योगी ने दिहाड़ी मजदूरों के...

27.5 लाख खातों में ट्रांसफर किए ₹611 करोड़: CM योगी ने दिहाड़ी मजदूरों के लिए खोला दिल

इससे पहले योगी सरकार ने गरीबों के खाते में 1000-1000 रुपए ट्रांसफर कराए थे और अब ये बड़ी राहत देकर उन्होंने साबित कर दिया है कि लॉकडाउन में केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के साथ प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार दिहाड़ी मजदूरों तथा गरीबों के साथ खड़ी है।

कोरोना लॉकडाउन के कारण बुनियादी जरूरतों की जद्दोजहद से जूझ रहे मजदूरों को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बड़ी सौगात दी है। ताजा खबर के अनुसार सीएम योगी ने मनरेगा के तहत राज्य के 27.5 लाख श्रमिकों के बैंक खातों में सीधे 611 करोड़ रुपए भेजे हैं। इसके अलावा उन्होंने योजना सम्मेलन के माध्यम से कुछ श्रमिकों से बातचीत भी की है। साथ ही उन्हें योजना से अवगत कराया है। इसी दौरान उन्होंने मजदूरों से कहा कि आपको घबराने की कोई जरूरत नहीं है। आप लोगों को तीन महीन का राशन-पानी मुफ्त में दिया जाएगा। राज्य सरकार द्वारा इस राहत की खबर के बाद मजदूरों ने सीएम योगी को धन्यवाद दिया है।

गौरतलब है कि इससे पहले योगी सरकार ने गरीबों के खाते में 1000-1000 रुपए ट्रांसफर कराए थे और अब ये बड़ी राहत देकर उन्होंने साबित कर दिया है कि लॉकडाउन में केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के साथ प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार दिहाड़ी मजदूरों तथा गरीबों के साथ खड़ी है। प्रदेश में सरकार लगातार जनता से अनुरोध कर रही है कि वह पैसे कमाने के लिए घरों से बाहर न निकलें। सरकार की तरफ से प्रति श्रमिक महीना में 2250 रुपया प्रदान किया जा रहा है।

बता दें कि कोरोना वायरस से संक्रमण पर रोक लगाने के प्रयास करने के साथ ही यूपी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पलायन रोकने के लिए अन्य राज्यों से सटी सीमाओं पर विशेष इंतजाम किए हैं। वहीं लॉकडाउन की स्थितियों में अपनी दिहाड़ी के लिए जूझ रहे मजदूरों को बड़ी राहत दी है। इसके अलावा उन्होंने यूपी से बाहर दिल्ली में रह रहे लोगों का ख्याल रखने के लिए राजधानी के सीएम केजरीवाल को पत्र भी लिखा है। उन्होंने केजरीवाल को आश्वासन दिया है कि वो दिल्ली के हर व्यक्ति का ख्याल रखेंगे और उन्हें उम्मीद है कि दिल्ली सरकार भी यूपी प्रवासियों के लिए स्वास्थ्य, सुरक्षा एवं अन्य जरूरतों को मुहैया कराएगी।

खबरों के मुताबिक, उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस से संक्रमण के 82 मामलों के सामने आने के बाद सरकार अब पूरी तरह से हरकत में है। हर तरफ लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराने के साथ सरकार गरीबों को भोजन उपलब्ध कराने के प्रयास में भी लगी है। मेडिकल कॉलेज से लेकर आयुर्विज्ञान संस्थानों में भी मेडिकल किट के साथ अन्य दवा भी उपलब्ध कराई जा रही है। संक्रमितों के साथ संदिग्धों को भी उपचार दिया जा रहा है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

राम ‘छोकरा’, लक्ष्मण ‘लौंडा’ और ‘सॉरी डार्लिंग’ पर नाचते दशरथ: AIIMS वाले शोएब आफ़ताब का रामायण, Unacademy से जुड़ा है

जिस वीडियो को लेकर विवाद है, उसे दिल्ली AIIMS के छात्रों ने शूट किया है। इसमें रामायण का मजाक उड़ाया गया है। शोएब आफताब का NEET में पहला रैंक आया था।

‘जैसा बोया, वैसा काटा’: Scroll की वामपंथी लेखिका जेनेसिया अल्वेस ने बांग्लादेश में हिंदुओं पर हमले को ठहराया सही

बांग्लादेश में हिंदुओं और मंदिरों पर हुए इस्लामी चरमपंथी हमलों को स्क्रॉल की लेखिका एल्वेस ने जायज ठहराया और जैसा बोया वैसा काटा की बात कही।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,261FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe