Wednesday, May 25, 2022
Homeराजनीति'फ्रेंच प्रॉडक्ट्स रखने वाले दुकानदारों के पास नहीं जाएँगे मुस्लिम': कॉन्ग्रेस ने कहा- पैगम्बर...

‘फ्रेंच प्रॉडक्ट्स रखने वाले दुकानदारों के पास नहीं जाएँगे मुस्लिम’: कॉन्ग्रेस ने कहा- पैगम्बर मुहम्मद के खिलाफ कुछ भी बर्दाश्त नहीं

'तेलंगाना कॉन्ग्रेस अल्पसंख्यक सेल' के अध्यक्ष शेख अब्दुला सोहैल ने कई मुस्लिमों के साथ शुक्रवार को एर्रागड्डा के प्रभात नगर स्थित मस्जिद-ए-रहमानिया के पास जुमे की नमाज के बाद विरोध प्रदर्शन किया। उन्होंने फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों पर आरोप लगाया कि उन्होंने अपने बयान में इस्लाम का अपमान किया है।

कॉन्ग्रेस पार्टी ने माँग की है कि तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव फ्रेंच प्रोडक्ट्स को राज्य में प्रतिबंधित करें। ‘तेलंगाना कॉन्ग्रेस अल्पसंख्यक सेल’ के अध्यक्ष शेख अब्दुला सोहैल ने कई मुस्लिमों के साथ शुक्रवार (अक्टूबर 30, 2020) को एर्रागड्डा के प्रभात नगर स्थित मस्जिद-ए-रहमानिया के पास जुमे की नमाज के बाद विरोध प्रदर्शन किया। उन्होंने फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों पर आरोप लगाया कि उन्होंने अपने बयान में इस्लाम का अपमान किया है।

उन्होंने तेलंगाना के मुख्यमंत्री से माँग करते हुए कहा कि वो न सिर्फ फ्रांस के राष्ट्रपति की निंदा करें, बल्कि तेलंगाना में फ्रेंच प्रॉडक्ट्स पर भी सम्पूर्ण पाबन्दी लगाएँ। उन्होंने सभी मुस्लिमों से अपील करते हुए कहा कि वो फ्रेंच प्रॉडक्ट्स का बॉयकॉट करें। कॉन्ग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं ने फ्रांस के राष्ट्रपति के कई पोस्टर भी जलाए। अब्दुल्ला सोहैल ने कहा कि फ्रेंच राष्ट्रपति के बयान को किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जा सकता।

उन्होंने आरोप लगाया कि केंद्र सरकार ने जानबूझ कर भारतीय मुस्लिम समुदाय को भड़काने के लिए फ्रांस के समर्थन के लिए कदम उठाया है। उन्होंने कहा कि अगर पैगम्बर मुहम्मद के खिलाफ कोई कुछ भी बोलता है तो मुस्लिम समुदाय इसे बर्दाश्त नहीं करेगा। उन्होंने कहा कि भारत को किसी भी ऐसे व्यक्ति का संस्था का समर्थन नहीं करना चाहिए, जिसने किसी समुदाय की भावनाओं को भड़काने का काम किया हो।

उन्होंने कहा कि पूरे तेलंगाना, खासकर हैदराबाद के सभी रिटेल व होलसेल व्यापारियों को तुरंत फ्रांस में बने प्रॉडक्ट्स को हटाना चाहिए। साथ ही उन्होंने चेताया कि जो भी दुकानदार फ्रांस में बने प्रॉडक्ट्स को बेचेगा, मुस्लिम समुदाय के लोग वहाँ जाना बंद कर देंगे। उनके साथ कॉन्ग्रेस के कई कार्यकर्ता थे और बड़ी संख्या में मुस्लिम समाज के लोग भी जुटे थे, जिन्होंने फ्रांस के खिलाफ जम कर नारेबाजी की।

बता दें कि गुरुवार (अक्टूबर 29, 2020) को भोपाल में भी हजारों मुस्लिमों की भीड़ सड़क पर उतर आई और प्रदर्शन किया। इस विरोध प्रदर्शन का नेतृत्व कॉन्ग्रेस विधायक आरिफ मसूद ने किया। विरोध प्रदर्शन के दौरान मसूद ने कहा कि अगर उनका बस चलता, तो वे राष्ट्रपति मैक्रों का चेहरा कुचल देते। उन्होंने आगे कहा, “हमारे हाथ बंधे हुए हैं क्योंकि हम कानून के पालन करने वाले नागरिक हैं और हमें हमारे अल्लाह के नबी द्वारा शांति की शिक्षा दी गई है।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आतंकियों ने कश्मीरी अभिनेत्री की गोली मार कर हत्या की, 10 साल का भतीजा भी घायल: यासीन मलिक को सज़ा मिलने के बाद वारदात

जम्मू कश्मीर में आतंकियों ने कश्मीरी अभिनेत्री अमरीना भट्ट की गोली मार कर हत्या कर दी है। ये वारदात केंद्र शासित प्रदेश के चाडूरा इलाके में हुई, बडगाम जिले में स्थित है।

यासीन मलिक के घर के बाहर जमा हुई मुस्लिम भीड़, ‘अल्लाहु अकबर’ नारे के साथ सुरक्षा बलों पर हमला, पत्थरबाजी: श्रीनगर में बढ़ाई गई...

यासीन मलिक को सजा सुनाए जाने के बाद श्रीनगर स्थित उसके घर के बाहर उसके समर्थकों ने अल्लाहु अकबर की नारेबाजी की। पत्थर भी बरसाए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
188,823FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe