Wednesday, July 17, 2024
Homeराजनीति'हाथरस दरिंदों के जो भी सिर काट कर लाएगा...' - कॉन्ग्रेसी नेता निजाम मलिक...

‘हाथरस दरिंदों के जो भी सिर काट कर लाएगा…’ – कॉन्ग्रेसी नेता निजाम मलिक का बयान, खुद हो गए गिरफ्तार

“जिन दरिंदों ने बलात्कार किया है, मैं अपने समाज और खुद की तरफ से माँग करता हूँ कि उन्हें फाँसी की सज़ा होनी चाहिए। जो लोग उन अपराधियों का सिर काट कर लाएंगे उन्हें हमारा समाज 1 करोड़ रुपए का इनाम देगा।”

उत्तर प्रदेश के हाथरस में हुई घटना पर प्रतिक्रियाओं का दौर अभी तक जारी है। ताज़ा मामले में कॉन्ग्रेस नेता निजाम मलिक ने विवादित बयान दिया है। उन्होंने हाथरस की घटना पर कहा है कि जो व्यक्ति आरोपितों का सिर कलम करेगा, उसे उनका समुदाय 1 करोड़ रुपए का इनाम देगा। इस बयान के चर्चा में आने के बाद पुलिस ने मामला दर्ज करके कॉन्ग्रेस नेता को गिरफ्तार कर लिया है।

निजाम मलिक कॉन्ग्रेस पार्टी के जिला उपाध्यक्ष हैं। सचिन गुप्ता नाम के यूज़र द्वारा ट्विटर पर साझा किए गए इस वीडियो में निजाम मलिक का बयान साफ़ तौर पर सुना जा सकता है। बयान देते हुए निजाम मलिक ने कहा, “जिन दरिंदों ने बलात्कार किया है, मैं अपने समाज और खुद की तरफ से माँग करता हूँ कि उन्हें फाँसी की सज़ा होनी चाहिए। जो लोग उन अपराधियों का सिर काट कर लाएँगे उन्हें हमारा समाज 1 करोड़ रुपए का इनाम देगा।” 

बयान विवादित होने की वजह से बहुत जल्द सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बन गया। जिसके बाद उत्तर प्रदेश पुलिस तुरंत हरकत में आई और निजाम मलिक को मुंडाखेड़ा चौराहे से गिरफ्तार किया। बुलंदशहर पुलिस के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट करके इस गिरफ्तारी की पुष्टि की। बुलंदशहर पुलिस के ट्वीट में लिखा था, “उक्त संबंध में तत्काल थाना खुर्जानगर पर समुचित धाराओं में अभियोग पंजीकृत कर अभियुक्त को गिरफ्तार कर लिया गया है।”    

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हाथरस मामले की सीबीआई जाँच के आदेश दे चुके हैं। यह फैसला इस मामले की सीबीआई जाँच की माँग के बाद आया था। पीड़िता के पिता ने सीबीआई जाँच की माँग की थी, जिसे यूपी के सीएम ने मान लिया है।

यूपी सीएम दफ्तर की ओर से ट्वीट कर सीबीआई जाँच की जानकारी दी गई थी। यूपी सीएम दफ्तर की ओर से ट्वीट किया गया, “मुख्यमंत्री श्री योगी जी ने सम्पूर्ण हाथरस प्रकरण की जाँच सीबीआई से कराए जाने के आदेश दिए हैं।” इससे पहले, उन्होंने अपराध की जाँच के लिए एक एसआईटी गठित करने का आदेश दिया था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सरकारी नौकरियों में अग्निवीरों को 10% आरक्षण: हरियाणा के CM सैनी का ऐलान- आयुसीमा में भी मिलेगी छूट, बंदूक का लाइसेंस भी मिलेगा

हरियाणा के सीएम सैनी ने कहा कि राज्य में अग्निवीरों को पुलिस भर्ती और माइनिंग गार्ड समेत कई अन्य पदों की भर्ती में 10 फीसदी आरक्षण मिलेगा।

12वीं पास को ₹6000, डिप्लोमा वाले को ₹8000, ग्रेजुएट को ₹10000: क्या है महाराष्ट्र की ‘लाडला भाई योजना’, कैसे और किनको मिलेगा फायदा?

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने 'लाडला भाई योजना' की घोषणा की है। इस लाडला भाई योजना में युवाओं को फैक्ट्रियों में अप्रेंटिसशिप मिलेगी और सरकार की तरफ से उन्हें वजीफा दिया जाएगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -