Monday, May 16, 2022
Homeराजनीति'CM के लिए मेरे पति सही विकल्प, राहुल गाँधी को गुमराह किया गया': छलका...

‘CM के लिए मेरे पति सही विकल्प, राहुल गाँधी को गुमराह किया गया’: छलका सिद्धू की पत्नी का दर्द, कॉन्ग्रेस ने पंजाब में चन्नी को बनाया है चेहरा

नवजोत सिंह सिद्धू की पत्नी ने कहा, "किसी को इतने उच्च पद पर चुनने के लिए मेरिट, शिक्षा, ईमानदारी, काम को गिना जाना चाहिए। सिद्धू भले ही मेरे पति है लेकिन मुझे यह कहने में बिलकुल संकोच नहीं है कि सीएम के लिए सही विकल्प मेरे पति हैं।"

पंजाब विधानसभा चुनावों के मद्देनजर कॉन्ग्रेस की ओर से चरणजीत सिंह चन्नी को मुख्यमंत्री का चेहरा बनाए जाने के बाद नवजोत सिंह सिद्धू की पत्नी नवजोत कौर बेहद नाराज हैं। नवजोत कौर ने अपनी नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि किसी को सीएम फेस बनाए जाने से पहले उसकी शिक्षा देखी जानी चाहिए। वह बोलीं कि उनके पति पंजाब सीएम पद के लिए सबसे सही ऑप्शन थे।

जानकारी के मुताबिक कॉन्ग्रेस नेता की पत्नी नवजोत कौर सिद्धू से जब पूछा गया कि क्या राहुल गाँधी को सीएम के लिए निर्णय लेने में गुमराह किया गया था। इस पर सिद्धू की पत्नी ने ‘हाँ’ में जवाब दिया। उन्होंने कहा, “किसी को इतने उच्च पद पर चुनने के लिए मेरिट, शिक्षा, ईमानदारी, काम को गिना जाना चाहिए। सिद्धू भले ही मेरे पति है लेकिन मुझे यह कहने में बिलकुल संकोच नहीं है कि सीएम के लिए सही विकल्प मेरे पति हैं।”

बता दें कि एक तरफ जहाँ नवजोत कौर सिद्धू ने अपने पति को सीएम का चेहरा न बनाने पर नाराजगी जाहिर की। वहीं सिद्धू ने चन्नी को सीएम फेस बनाए जाने पर कहा था कि ये सब हाईकमान को तय करना था, अब उनका जो भी फैसला है, वह उससे सहमत हैं।सिद्धू ने अपने बयान में कहा था, “मैं कॉन्ग्रेस हाईकमान के साथ था, हूँ और रहूँगा।”

जब पत्रकारों ने उनसे थोड़ा और गहराई में पूछा कि वो चन्नी के साथ हैं या हाईकमान के साथ? इस पर भी सिद्धू ने जवाब दिया- “मैं पहले दिन से ही हाईकमान के साथ हूँ। उनके हर फैसले को मानता हूँ। मैं जितना हाईकमान के साथ हूँ, उससे दोगुना पंजाब के लोगों के साथ हूँ।”

मालूम हो कि इससे पहले सीएम के तौर पर चन्नी के नाम का ऐलान होने पर सिद्धू ने इशारों में ही कॉन्ग्रेस को चेतावनी दे डाली थी। उन्होंने खुद को अरबी घोड़ा करार देते हुए कहा था, “मुझे पद की कोई लालसा नहीं है, लेकिन मुझे दर्शनी घोड़ा न बनने देना। फैसला लेने की ताकत देना।” इससे पूर्व चन्नी को ही सीएम पद दिए जाने की खबरों के बीच सिद्धू ने बागी तेवर अपनाते हुए कहा था कि ऊपर वाले तो चाहते हैं कि कोई कमजोर मुख्यमंत्री हो, जिसे वो ता थैया, ता थैया नचा सकें और कहें कि नाच मेरी बुलबुल तुझे पैसा मिलेगा।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘तहखाना नहीं मंदिर का मंडपम कहिए, भव्य है पन्ना पत्थर का शिवलिंग’: सर्वे पर भड़की महबूबा मुफ्ती, बोलीं- ‘इनको मस्जिद में ही मिलते हैं...

"आज ये मस्जिद, कल वो मस्जिद, मैं अपने मुस्लिम भाइयों से बोलती हूँ एक ही बार ये हमें मस्जिदों की लिस्ट बताएँ, जिस पर इनकी नजर है।"

नेपाल बिना तो हमारे राम भी अधूरे हैं: प्रधानमंत्री मोदी ने ‘बुद्ध की धरती’ पर समझाई भारत से दोस्ती की अहमियत, कहा- यही मानवता...

अपनी नेपाल यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किए मायादेवी मंदिर के दर्शन और भारत और नेपाल को एक दूसरे के बिना अधूरा बताया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
186,091FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe