Tuesday, September 28, 2021
Homeराजनीति'कॉन्ग्रेस की तालिबानी सोच' - तालिबान के समर्थन में कॉन्ग्रेसी MLA इरफान अंसारी पर...

‘कॉन्ग्रेस की तालिबानी सोच’ – तालिबान के समर्थन में कॉन्ग्रेसी MLA इरफान अंसारी पर BJP का पलटवार

इरफान अंसारी का कहना है - "अमेरिकी वहाँ जाकर अफगानिस्तान और तालिबान के साथ ज्यादती कर रहे थे। माँ-बहन, बच्चों तक को तंग कर रहे थे। इसी के खिलाफ यह लड़ाई है।"

अपने बयान को लेकर अक्सर चर्चा में रहने वाले कॉन्ग्रेस विधायक और झारखंड के पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष इरफान अंसारी ने अब तालिबान की तारीफ करके नए विवाद को जन्म दे दिया है। इरफान अंसारी ने कहा कि वहाँ के लोग अब खुश हैं।

इरफान अंसारी का कहना है, “अमेरिकी वहाँ जाकर अफगानिस्तान और तालिबान के साथ ज्यादती कर रहे थे। माँ-बहन, बच्चों तक को तंग कर रहे थे। इसी के खिलाफ यह लड़ाई है। जो कुछ फैलाया जा रहा है, वह गलत है। अगर किसी भी जनता पर जुल्म होगा तो वो उसका समर्थन करेंगे।”

तालीबान की तारीफ करते हुए इरफान अंसारी ने कहा कि उन्होंने अमेरिका को अफगानिस्तान से खदेड़ कर शानदार काम किया है। झारखंड में मानसून सत्र के पहले दिन विधानसभा पहुँचे इरफान ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि तालिबानियों की सराहना की जानी चाहिए क्योंकि उन्होंने अमेरिकियों को अफगानिस्तान से खदेड़ दिया है। जामताड़ा से दूसरी बार विधायक बने अंसारी ने कहा कि अमेरिकी सेना अफगानिस्तान में ज्यादती करती थी।

तालिबानियों का समर्थन करके वो ऐसे संगठन का सपोर्ट कर रहे, जिसे पूरी दुनिया में आंतकवादी माना जाता है – इस सवाल पर इरफान अंसारी ने कहा कि वो आतंकवादी संगठन हैं लेकिन अमेरिकियों को अपने देश से खदेड़कर उन्होंने क्रांतिकारी काम किया है। विधायक के अनुसार ब्रिटिश और अमेरिकी सेना जहाँ भी जाती है, लोगों पर अत्याचार करती है।

हालाँकि बाद में अपने शब्दों को संभालते हुए उन्होंने कहा कि अफगानिस्तान में शांति होनी चाहिए क्योंकि अमेरिकी सैनिक चले गए हैं और ब्रिटिश सेना को खदेड़ दिया गया है। यह भी कहा कि अफगानिस्तान-पाकिस्तान में जो हो रहा है, उससे उन्हें कुछ लेना-देना नहीं है।

इरफान अंसारी के बयान पर पलटवार करते हुए बीजेपी ने कहा कि यह कॉन्ग्रेस की तालिबानी सोच को दर्शाता है। विधानसभा में बीजेपी के मुख्य सचेतक बिरंची नारायण ने कहा कि वह इस तरह की बातें इसलिए कर रहे हैं क्योंकि कॉन्ग्रेस पार्टी तालीबानी मानसिकता से ओतप्रोत है।

बिरंची नारायण के अनुसार इरफान अंसारी ऐसे आतंकवादी संगठन का समर्थन कर रहे हैं, जो औरतों और अल्पसंख्यकों के खिलाफ क्रूरता के लिए जाना जाता है। उन्होंने सवाल उठाया कि जब कई माँ और बहनें और अन्य लोग डर के कारण अफगानिस्तान से भाग रहे हैं… तो क्या अंसारी यहाँ भी ऐसी ही स्थिति देखना चाहते हैं?

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

महंत नरेंद्र गिरि के मौत के दिन बंद थे कमरे के सामने लगे 15 CCTV कैमरे, सुबूत मिटाने की आशंका: रिपोर्ट्स

पूरा मठ सीसीटीवी की निगरानी में है। यहाँ 43 कैमरे लगाए गए हैं। इनमें से 15 सीसीटीवी कैमरे पहली मंजिल पर महंत नरेंद्र गिरि के कमरे के सामने लगाए गए हैं।

अवैध कब्जे हटाने के लिए नैतिक बल जुटाना सरकारों और उनके नेतृत्व के लिए चुनौती: CM योगी और हिमंता ने पेश की मिसाल

तुष्टिकरण का परिणाम यह है कि देश के बहुत बड़े हिस्से पर अवैध कब्जा हो गया है और उसे हटाना केवल सरकारों के लिए कानून व्यवस्था की चुनौती नहीं बल्कि राष्ट्रीय सभ्यता के लिए भी चुनौती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
124,829FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe