Monday, July 26, 2021
Homeराजनीतिरेलवे स्टेशन पहुँच कॉन्ग्रेस विधायक ने किया प्रचार, मजदूरों को पर्चा थमा कहा- सोनिया...

रेलवे स्टेशन पहुँच कॉन्ग्रेस विधायक ने किया प्रचार, मजदूरों को पर्चा थमा कहा- सोनिया गाँधी ने खरीदा है आपका टिकट

कॉन्ग्रेस विधायक ने मजदूरों से कहा, "आपकी टिकट का खर्चा सोनिया गाँधी ने दिया है। कॉन्ग्रेस पार्टी, पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह, प्रधान सुनील जाखड़ आपको घर भेज रहे हैं। इस पैम्फलेट में सब लिखा हुआ है। आराम से ट्रेन में बैठकर पढ़ लेना।"

पूरा देश इस समय कोरोना वायरस महामारी से लड़ रहा है। लाखों प्रवासी मजदूर इस कोरोना संकट में लॉकडाउन के चलते संकट का सामना कर रहे हैं। अलग-अलग राज्यों में फँसे मजदूर अपने घर जाने को बेताब हैं। मजदूरों की समस्या को देखते हुए सरकार ने श्रमिक ट्रेन चलाने का फैसला लिया है, लेकिन इन ट्रेनों में श्रमिकों के टिकट को लेकर राजनीति थमने का नाम नहीं ले रही है।

इस बीच जब कॉन्ग्रेस शासित पंजाब के बठिंडा में रविवार (मई 10, 2020) को जब श्रमिक ट्रेन यात्रियों को लेकर रवाना हो रही थी तो कॉन्ग्रेस के विधायक एक पर्चा तमाम मजदूरों को बाँट रहे थे, जिसमे लिखा था, “आपके टिकट का पैसा सोनिया गाँधी दे रही हैं।”

कॉन्ग्रेस विधायक अमरिंद राजा वारिंग ने रेलवे स्टेशन पर तमाम यात्रियों को यह पर्चा बाँटा। इस दौरान कॉन्ग्रेस के अन्य कार्यकर्ता भी इन यात्रियों को यह पर्चा बाँट कर यह बता रहे थे कि उनके टिकट का पैसा सोनिया गाँधी ने दिया है।

अहम बात यह है कि कॉन्ग्रेस विधायक ने रेलवे स्टेशन पर ट्रेन के रवाना होने से पहले भाषण भी दिया, ताकि वह इसका राजनीतिक लाभ उठा सकें। कॉन्ग्रेस विधायक ने मजदूरों से कहा, “आपकी टिकट का खर्चा सोनिया गाँधी ने दिया है। कॉन्ग्रेस पार्टी, पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह, प्रधान सुनील जाखड़ आपको घर भेज रहे हैं। इस पैम्फलेट में सब लिखा हुआ है। आराम से ट्रेन में बैठकर पढ़ लेना।”

दरअसल, सोनिया गाँधी ने ऐलान किया था कि वह हर जरूरतमंद मजदूर के टिकट का पैसा देंगी, जिसके बाद कॉन्ग्रेस विधायक यह चाहते हैं कि वह इसका अधिक से अधिक राजनीतिक लाभ उठा सके।

गौरतलब है कि पिछले दिनों खबरें सामने आई थीं कि मजदूरों से टिकटों के पैसे लिए गए हैं, उसके बाद कॉन्ग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाँधी ने सभी प्रवासी मजदूरों के टिकट का पैसा का भुगतान करने का ऐलान किया था। हालाँकि केंद्र सरकार का कहना है कि वह 85 फीसदी टिकट का पैसा खुद वहन कर रही है, जबकि 15 फीसदी पैसा ही प्रदेश सरकारों को वहन करना है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पेगासस पर भड़के उदित राज, नंगी तस्वीरें वायरल होने की चिंता: लोगों ने पूछा – ‘फोन में ये सब रखते ही क्यों हैं?’

पूर्व सांसद और खुद को 'सबसे बड़ा दलित नेता' बताने वाले उदित राज ने आशंका जताई कि पेगासस ने कितनों की नंगी तस्वीर भेजी होगी या निजता का उल्लंघन किया होगा।

कारगिल के 22 साल: 16 की उम्र में सेना में हुए शामिल, 20 की उम्र में देश पर मर मिटे

सुनील जंग ने छलनी सीने के बावजूद युद्धभूमि में अपने हाथ से बंदूक नहीं गिरने दी और लगातार दुश्मनों पर वार करते रहे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,222FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe