Sunday, June 16, 2024
Homeराजनीतिमहिला सांसद की बेटी 'एनिमल' देख रोने लगी, बीच में ही फिल्म छोड़कर भागी:...

महिला सांसद की बेटी ‘एनिमल’ देख रोने लगी, बीच में ही फिल्म छोड़कर भागी: संसद में बताया, रणबीर कपूर की ‘बहन’ ने भी माना टॉक्सिक है कंटेंट

एनिमल फिल्म में दिखाए गए हिंसक दृश्यों पर कॉन्ग्रेस सांसद रंजीत रंजन ने सवाल उठाए हैं। उन्होंने संसद में बताया कि उनकी बेटी इस फिल्म को देखने के बाद रोने लगी थी। रंजीत के अलावा इस फिल्म में काम करने वाली एक्ट्रेस ने भी फिल्म को टॉक्सिक कहा।

‘एनिमल’ फिल्म में दिखाए गए हिंसक दृश्यों पर कॉन्ग्रेस सांसद रंजीत रंजन ने सवाल उठाए हैं। उन्होंने संसद में बताया कि उनकी बेटी इस फिल्म को देखने के बाद रोने लगी थी। रंजीत के अलावा इस फिल्म में काम करने वाली एक्ट्रेस ने भी फिल्म को ‘टॉक्सिक’ कहा।

छत्तीसगढ़ से कॉन्ग्रेस सांसद रंजीत रंजन ने संसद में ‘युवाओं पर सिनेमा के पड़ते बुरे प्रभाव’ का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि सिनेमा समाज का आईना होता है जिसका युवाओं पर बुरा असर होता है। आजकल कुछ इस तरह की पिक्चरें आ रही हैं जिसमें हिंसा को दिखाया गया है। उन्होंने कबीर सिंह पुष्पा जैसी फिल्मों का जिक्र करते हुए एनिमल पर बात की।

उन्होंने कहा, “मैं आपको कह नहीं पाऊँगी कि मेरी बेटी के साथ बहुत सारी बच्चियाँ कॉलेज में पढ़ती हैं। लेकिन वो आधी पिक्चर में ही उठकर रोती हुई हॉल से बाहर चली आईं।” उन्होंने पूछा कि आखिर क्यों कबीर सिंह और एनिमल जैसी फिल्मों में इतनी हिंसा और महिलाओं के साथ अपमान को जस्टिफाई किया जा रहा है… ये एक सोचनीय विषय है।

रंजन ने कहा, “इन पिक्चरों का, ऐसी हिंसा का, गलत नेगेटिव रोल को हीरो की तरह पेश करने में युवाओं पर काफी असर पड़ता है। 11वीं और 12वीं के बच्चे इनको रोलमॉडल मानने लगे हैं। कई इस तरह की हिंसा हमें समाज में देखने को मिल रही, जो ये उदाहरण पिक्चरों से लेकर आते हैं।”

उन्होंने फिल्म के गाने ‘फड़के गंडासी’ पर भी सवाल उठाए। वह बोलीं- उच्च कोटि का इतिहास है पंजाब का। हरि सिंह नलवा का। फिल्म में एक गाना है कि फड़के गंडासी मारी। ये इतिहास को एक गैंगवॉर में, दो परिवारों की नफरत की लड़ाई में, जिसका बेटा अपने बाप के प्यार के लिए मरता है, वो भी ये पिक्चर जस्टिफाई नहीं कर पाई। वो हॉस्टल, बिल्डिंग में हथियार लेकर मारता है और कोई भी कानून उसको सजा नहीं देता है। ये भी पिक्चर में हम जस्टिफाई कर रहे हैं।

सलोनी बत्रा ने फिल्म को कहा ‘टॉक्सिक’

ऐसे ही सलोनी बत्रा, जिन्होंने फिल्म में रणबीर सिंह की ऑनस्क्रीन बहन का किरदार निभाया है, उन्होंने फिल्म को टॉक्सिक बताते हुए कहा कि वो तो आर्टिस्ट हैं उनका काम है कैरेक्टर को करना लेकिन एक दर्शक के तौर पर यह देखना और तय करना जिम्मेदारी है कि क्या सही है और क्या गलत। अगर वह किरदार कॉलेज में बंदूक चला रहा है, तो इसका मतलब ये नहीं है कि वो सही है। ये एंटरटेनमेंट के लिए एक आर्टिस्ट का विजन है। इस दुनिया में ऐसे किरदार सच में है, लेकिन जैसा मैंने कहा, ये हमारी जिम्मेदारी है कि एक दर्शक के तौर आप इसे घर पर न ले जाए।

सलोनी बत्रा ने कहा, “आप थिएटर्स तक आए और एंटरटेन हुए, सिनेमा का काम यही है। आपको इससे सीख लेने की जरूरत है। आपको इसे घर लेकर जाने की जरूरत नहीं। एक महिला होने के नाते बताऊँ तो अगर कोई मेरे साथ भी ऐसी बात करेगा तो मुझे बुरा लगेगा। लेकिन सच ये है कि ऐसे लोग मौजूद हैं।”

बता दें कि रणबीर कपूर, बॉबी देओल, रश्मिका मंदाना की फिल्म एनिमल सिनेमाघरों में छाई हुई है। फिल्म ने 6 दिन में 300 करोड़ रुपए का बिजनेस कर लिया है। इस फिल्म ने इस वर्ष आई जवान और पठान के रिकॉर्ड को भी तोड़ दिया है। इस फिल्म का निर्देशन कबीर सिंह बनाने वाले संदीप रेड्डी वांगा ने ही किया है। उन्हें इस फिल्म के लिए सराहना और आलोचना दोनों मिल रही है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

भारतीय इंजीनियरों का ‘चमत्कार’, 8वाँ अजूबा, एफिल टॉवर से भी ऊँचा… जिस रियासी में हुआ आतंकी हमला वहीं दुनिया देखेगी भारत की ताकत, जल्द...

ये पुल 15,000 करोड़ रुपए की लागत से बना है। इसमें 30,000 मीट्रिक टन स्टील का इस्तेमाल हुआ है। ये 260 किलोमीटर/घंटे की हवा की रफ़्तार और -40 डिग्री सेल्सियस का तापमान झेल सकता है।

J&K में योग दिवस मनाएँगे PM मोदी, अमरनाथ यात्रा भी होगी शुरू… उच्च-स्तरीय बैठक में अमित शाह का निर्देश – पूरी क्षमता लगाएँ, आतंकियों...

2023 में 4.28 लाख से भी अधिक श्रद्धालुओं ने बाबा अमरनाथ का दर्शन किया था। इस बार ये आँकड़ा 5 लाख होने की उम्मीद है। स्पेशल कार्ड और बीमा कवर दिया जाएगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -