Thursday, June 20, 2024
Homeराजनीति2022 के चुनावों में चाहिए टिकट? ₹11 हजार के साथ टैग करें CV: UP...

2022 के चुनावों में चाहिए टिकट? ₹11 हजार के साथ टैग करें CV: UP में कॉन्ग्रेस का खुला ऑफर

साल 2022 के विधानसभा चुनावों के मद्देनजर 11 हजार रुपए की दानराशि के साथ आवेदन आमंत्रित करने वाली कॉन्ग्रेस का कहना है कि वह पार्दर्शिता के साथ काम कर रहे हैं।

2022 के विधानसभा चुनावों के लिए उत्तर प्रदेश में कॉन्ग्रेस पार्टी ने एक सर्कुलर जारी किया है। ये उन लोगों के लिए है जो आगामी चुनावों में टिकट पाना चाहते हैं। सर्कुलर के मुताबिक, आवेदन करने वालों को अपने आवेदन के साथ साथ 11 हजार रुपए की डोनेशन भी देनी होगी।

14 सितंबर को ये सर्कुलर जारी हुआ था। इस पर उत्तर प्रदेश कॉन्ग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू के हस्ताक्षर भी हैं। इसमें लिखा गया है कि 25 सितंबर तक डिमांड ड्राफ्ट, आरटीजीएस और मनी ऑर्डर के जरिए राशि जमा की जा सकती है। इस संबंध में जिला इकाइयों को भी बताया गया है कि ये दान कैसे जमा किया जाए।

अब इस पूरे मामले में यह स्पष्ट नहीं है कि पार्टी इस राशि को सहयोग राशि के तौर पर ले रही है या फिर अगर आवेदनकर्ता को टिकट नहीं मिली तो उसके पैसे वापस लौटाए जाएँगे।

हालाँकि, आगे यह देखना तो दिलचस्प होगा कि कितने टिकट चाहने वाले अपने सीवी के साथ नकद राशि देते हैं। लेकिन, फिलहाल इस सर्कुलर पर विवाद हो रहा है। लोग पूछ रहे हैं कि क्या इस तरह टिकट के नाम पर दान लेना उचित है।

इस सर्कुलर पर अजय कुमार लल्लू ने सफाई भी दी है। उन्होंने इस निर्णय को सही बताते हुए कहा कि यह योगदान राशि है जो किसी भी संस्था या संगठन को कार्य करने के लिए समर्थन करने के लिए आवश्यक है। उन्होंने कहा, “कॉन्ग्रेस पारदर्शी तरीके से काम कर रही है। हमने इसके लिए एक सर्कुलर जारी किया है।”

बता दें कि उत्तर प्रदेश में कॉन्ग्रेस का दोबारा से आना इस बार भी कई लोगों को मुश्किल लग रहा है। मगर, अजय कुमार लल्लू लगातार दावा कर रहे हैं कि उत्तर प्रदेश में लौटेंगें और उनका इरादा आगे समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी जैसी पार्टियों से मिलने का है। याद दिला दें 2017 में भारतीय जनता पार्टी ने 403 विधानसभा सीटों में से 312 सीटें जीती थी। बसपा को 19 सीटें मिली थी और सपा-कॉन्ग्रेस को मिल कर 54 सीटें हाथ आई थीं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

UGC-NET जून 2024 परीक्षा रद्द, 18 जून को 11.21 लाख छात्रों ने दी थी परीक्षा: साइबर क्राइम सेल से मिला सेंधमारी का इनपुट,...

परीक्षा प्रक्रिया की उच्चतम स्तर की पारदर्शिता और पवित्रता सुनिश्चित करने के लिए भारत सरकार के शिक्षा मंत्रालय ने निर्णय लिया है कि यूजीसी-नेट जून 2024 परीक्षा रद्द की जाए।

मंच से उड़ा रहे थे भगवान राम और माता सीता का मजाक, नीचे से बज रही थी सीटी: एक्शन में IIT बॉम्बे, छात्रों पर...

भगवान का मजाक उड़ाने वाले छात्रों के खिलाफ 1.20 लाख रुपए का जुर्माना लगाया गया। वहीं कुछ छात्रों को हॉस्टल से निलंबित भी किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -