Saturday, July 24, 2021
Homeराजनीतिभारत नहीं आ सकता कोरोना, CAA से ध्यान भटकाना है मकसद: SP नेता पर...

भारत नहीं आ सकता कोरोना, CAA से ध्यान भटकाना है मकसद: SP नेता पर अफवाह फैलाने का केस दर्ज

दुनियाभर में कोरोना वायरस के कारण अब तक 283,738 लोग प्रभावित हो चुके हैं और मरने वालों की संख्या 11,832 पर पहुँच चुका है। अकेले इटली में मरने वालों की संख्या 4,032 हो चुकी है।

कोरोना वायरस संक्रमण के मामले देश में तेजी से बढ़ते जा रहे हैं। वहीं कुछ लोग ऐसे भी हैं जिन्हें कोरोना महामारी में षड्यंत्र नजर आ रहा है। शाहीन बाग के प्रदर्शनकारी इसे CAA ​से ध्यान हटाने की कवायद बता रहे। समाजवादी पार्टी के एक नेता ने भी इसका समर्थन किया है।

यूपी के आजमगढ़ से सांसद रहे समाजवादी पार्टी के नेता रमाकांत यादव का कहना है कि कोरोना एक छलावा है। NRC, CAA और महँगाई से ध्यान भटकाने के लिए यह मुद्दा उछाला जा रहा है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस का संक्रमण दुनिया में हो सकता है, लेकिन भारत में नहीं हो सकता है। यही नहीं, उनका यह भी कहना है कि देश में एक भी मौत कोरोना से हुई हो तो कोई उन्हें बताए। वे भारत में कोरोना से संक्रमित लोगों को गले लगाने के लिए तैयार हैं।

सपा के पूर्व सांसद रमाकांत यादव के इस बयान को गंभीरता से लेते हुए डीआईजी रेंज, आज़मगढ़, सुभाष चंद्र दुबे के आदेश पर सिधारी थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है। डीआईजी दुबे ने बताया कि जहाँ एक तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत पूरा देश इस महामारी को लेकर गंभीर हैं, सतर्कता बरती जा रही है, वहीं रमाकांत यादव का यह बयान जनता को भ्रमित और गुमराह करने वाला है।

कोरोना वायरस पर किसी भी प्रकार की अफवाह और गुमराह करने वाली सूचना पर सरकार लगातार गंभीरता से निपट रही है। देश में अधिकतर ऐसे लोग लापरवाही बरतते हुए कई लोगों की जान संकट में डालते हुए देखे जा चुके हैं। ऐसा ही एक उदाहरण बॉलीवुड सिंगर कनिका कपूर का भी सामने आया है। लंदन से लौटने के बाद बिना किसी परीक्षण के ही उन्होंने कई पार्टियों में हिस्सा लिया और वहाँ मौजूद तमाम लोगों की जिन्दगी खतरे में डाल दी।

उल्लेखनीय है कि दुनियाभर में कोरोना वायरस के कारण अब तक 283,738 लोग प्रभावित हो चुके हैं और मरने वालों की संख्या 11,832 पर पहुँच चुका है। अकेले इटली में मरने वालों की संख्या 4,032 हो चुकी है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

Searched termsरमाकांत यादव सपा, रमाकांत यादव एफआईआर, रमाकांत यादव कोरोना, कोरोना इटली, इटली में फंसे भारतीय, जनता कर्फ्यू, janta curfew, नवरात्रि पर मोदी के नौ आग्रह, कोरोना बांग्लादेश, कोरोना ईरान, कोरोना भारतीय, कोरोना कर्नाटक, Covid-19, Coronavirus, coronavirus india, coronavirus news, coronavirus symptoms, coronavirus update, कोरोना वायरस, कोरोना वायरस इंडिया, इंडिया ट्रैवल बैन, इंडिया वीजा, कोरोना से मौत, कोरोना से भारत में पहली मौत, corona disater,Covid 19 disater, corona update, कोरोना वायरस अपडेट, कोरोना सार्क, कोरोना मोदी, Coronavirus SAARC, Corona कांग्रेस, कोरोना कांग्रेस, Corona राहुल गांधी, Corona आनंद शर्मा, कोरोना राहुल गांधी, कोरोना आनंद शर्मा, कोरोना से मौत, कोरोना के मरीज, कोरोना दवा, कोरोना टीका, कोरोना इलाज, कोरोना ट्रंप, कोरोना अमेरिका
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NH के बीच आने वाले धार्मिक स्थलों को बचाने से केरल HC का इनकार, निजी मस्जिद बचाने के लिए राज्य सरकार ने दी सलाह

कोल्लम में NH-66 के निर्माण कार्य के बीच में धार्मिक स्थलों के आ जाने के कारण इस याचिका में उन्हें बचाने की माँग की गई थी, लेकिन केरल हाईकोर्ट ने इससे इनकार कर दिया।

कीचड़ मलती ‘गोरी’ पत्रकार या श्मशानों से लाइव रिपोर्टिंग… समाज/मदद के नाम पर शुद्ध धंधा है पत्रकारिता

श्मशानों से लाइव रिपोर्टिंग और जलती चिताओं की तस्वीरें छापकर यह बताने की कोशिश की जाती है कि स्थिति काफी खराब है और सरकार नाकाम है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
110,987FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe