Wednesday, January 26, 2022
Homeराजनीतिघर-घर जरूरत का सामान पहुँचाएगी योगी सरकार, आपूर्ति के काम में लगाए जाएँगे 10000...

घर-घर जरूरत का सामान पहुँचाएगी योगी सरकार, आपूर्ति के काम में लगाए जाएँगे 10000 वाहन

उत्तर प्रदेश में अब तक कोरोना संक्रमण के 32 मामले सामने आ चुके हैं। वहीं पूरे देश में कोरोना के चलते अब तक 11 मौतें हो चुकी हैं, जबकि इससे संक्रमित लोगों की संख्या 562 के पार पहुँच गई है। यही कारण है कि तेज़ी से बढ़ते इस वायरस की रोकथाम के लिए सरकार ने पूरे देश में 21 दिन का लॉकडाउन घोषित किया गया है।

कोरोना वायरस के संक्रमण का प्रसार रोकने के लिए भारत सरकार ने पूरे देश में 21 दिनों के लिए लॉकडाउन की घोषणा की है। इसके बाद लोगों में जरूरी सामानों को घरों में इकट्ठा करने की होड़ सी मच गई थी। यही कारण है कि उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने प्रदेश की जनता के लिए घरों तक जरूरी सामान पहुँचाने की घोषणा की है। मंगलवार देर रात मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आवश्यक वस्तुओं की सप्लाई की चेन को मजबूत कर लिया गया है। हम लोगों ने इसकी पहले से ही तैयारी कर रखी है। उन्होंने प्रदेश की 23 करोड़ जनता को आश्वस्त करते हुए कहा कि सरकार के पास सभी चीजों का पर्याप्त भंडार है। लेकिन खरीददारी के लिए लोग अपने घरों ने बाहर न निकलें।

CM योगी ने लोगों को राहत देते हुए घोषणा की कि बुधवार से सब्जी, फल, दूध, दवा और अन्य आवश्यक वस्तुएँ लोगों के दरवाजे पर पहुँचाया जाएगा। इस काम के लिए सरकार ने करीब दस हजार वाहनों को तैयार किया गया है। इस काम के लिए पीआरवी-112 के वाहन, 108 और 102 सेवा की एंबुलेंस, प्रशासन और खाद्य और रसद विभाग के वाहन और संसाधन का प्रयोग किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने लोगों से अपील करते हुए कहा है कि वे अपने परिवार के आवश्यक वस्तुओं को खरीदने के लिए बाजार न जाएँ और अपने घरों में ही रहें। साथ ही सामाजिक दूरी भी बनाए रखें।

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश में अब तक कोरोना संक्रमण के 32 मामले सामने आ चुके हैं। वहीं पूरे देश में कोरोना के चलते अब तक 11 मौतें हो चुकी हैं, जबकि इससे संक्रमित लोगों की संख्या 562 के पार पहुँच गई है। यही कारण है कि तेज़ी से बढ़ते इस वायरस की रोकथाम के लिए सरकार ने पूरे देश में 21 दिन का लॉकडाउन घोषित किया गया है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इसकी घोषणा करते हुए लोगों से अपील की थी कि देश हित में लोग घरों से बाहर न निकलें।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

माइनस 40 डिग्री हो या 15000 फीट की ऊँचाई… ITBP के हिमवीरों ने तिरंगा फहरा यूँ मनाया 73वाँ गणतंत्र दिवस

सीमाओं की रक्षा में तैनात भारतीय तिब्बत बॉर्डर पुलिस (ITBP) ने लद्दाख और उत्तराखंड की बर्फीली ऊँचाई वाली चोटियों में तिरंगा फहराया।

लाल किला में पेशाब से लेकर महिला पुलिस से बदतमीजी तक: याद कीजिए 26 जनवरी, 2021… जब दिल्ली में खेला गया था हिंसक खेल

आइए, याद करते हैं 26 जनवरी, 2021 (गणतंत्र दिवस) को दिल्ली में क्या-क्या हुआ था। किसान प्रदर्शनकारियों ने हिंसा के दौरान क्या-क्या किया। नेताओं-पत्रकारों ने कैसे उन्हें भड़काया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
153,622FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe