Monday, August 2, 2021
Homeराजनीतिमहाराष्ट्र: उद्धव सरकार के मंत्री ने अपने नितम्बों पर लगी आग की फोटोशॉप वाली...

महाराष्ट्र: उद्धव सरकार के मंत्री ने अपने नितम्बों पर लगी आग की फोटोशॉप वाली फोटो शेयर की, जानिए क्यों

जितेंद्र आव्हाड ने ट्विटर पर इस घटना के बारे में बोलने की जगह अपना ही नितम्बों वाला फोटो शेयर कर दिया। महाराष्ट्र भाजपा के आईटी सेल के सह-संयोजक प्रतीक कार्पे ने पूछा कि क्या मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के पास इतनी हिम्मत है कि वो एनसीपी नेता के ख़िलाफ़ कार्रवाई कर सकें?

महाराष्ट्र के कैबिनेट मंत्री जीतेन्द्र आव्हाड पर बड़ा आरोप लगा है। महाराष्ट्र पुलिस और आव्हाड के गुंडों ने मिल कर एक सिविल इंजीनियर की पिटाई की है। एनसीपी के बड़े नेता जितेंद्र के गुंडों ने महाराष्ट्र पुलिस के कॉन्स्टेबलों के साथ मिल कर इंजीनियर को मारा-पीटा। दरअसल, जितेंद्र ने पीएम मोदी द्वारा रविवार (अप्रैल 5, 2020) को रात 9 बजे 9 मिनट्स के लिए लाइट्स ऑफ करके दिये, मोमबत्ती जलाने के आव्हान का विरोध किया था। आव्हाड ने लोगों से कहा था कि वो पीएम मोदी का बायकाट करें। इंजीनियर ने जितेंद्र के इस बात का विरोध किया, जिसकी उसे ‘सज़ा’ दी गई।

वर्तक नगर पुलिस स्टेशन में इस सम्बन्ध में मामला दर्ज किया गया है। आरोप लगाया गया है कि आव्हाड ने पुलिस का ग़लत इस्तेमाल किया। महाराष्ट्र के विधान पार्षद निरंजन डावखरे ने इस मामले को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के समक्ष उठाया है। बता दें कि महाराष्ट्र में उद्धव के नेतृत्व में शिवसेना, एनसीपी और कॉन्ग्रेस की गठबंधन सरकार चल रही है। एनसीपी नेता सरकार में सबसे ज्यादा हावी हैं और अक्सर नेताओं की गुंडागर्दी की ख़बर आती रहती है।

जितेंद्र आव्हाड ने ट्विटर पर इस घटना के बारे में बोलने की जगह अपना ही नितम्बों वाला फोटो शेयर कर दिया। महाराष्ट्र भाजपा के आईटी सेल के सह-संयोजक प्रतीक कार्पे ने पूछा कि क्या मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के पास इतनी हिम्मत है कि वो एनसीपी नेता के ख़िलाफ़ कार्रवाई कर सकें? इस पर जितेंद्र ने उन्हें वो फोटो दिखाई, जो इंजीनियर अनंत करमुसे ने शेयर की थी। उन्होंने उस पोस्ट का स्क्रीनशॉट दिखा कर ये साबित करने का प्रयास किया कि उनके बॉडीगार्ड्स, गुंडों और पुलिस ने मिल कर जो किया, वो एकदम सही था।

जितेंद्र ने पूछा कि अगर प्रतीक के परिवार के किसी सदस्य की ऐसी तस्वीरें शेयर की जाए तो क्या वो इसका समर्थन करेंगे? उन्होंने कहा कि वो इस तरह की अराजकता का समर्थन नहीं करते। उन्होंने इसके बाद प्रतीक से पूछा कि इस पर उनकी क्या राय है? आरोप है कि जितेंद्र आव्हाड के गुंडों ने इंजीनियर के घर जाकर उन्हें उठाया और फिर पिटाई की। जिस चित्र को लेकर जितेंद्र बौखलाए हुए हैं, वो एडिटेड है। उसमें देखा जा सकता है कि वो माचिस लेकर अपने ही नितम्बों में आग लगा रहे हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मुहर्रम पर यूपी में ना ताजिया ना जुलूस: योगी सरकार ने लगाई रोक, जारी गाइडलाइन पर भड़के मौलाना

उत्तर प्रदेश में डीजीपी ने मुहर्रम को लेकर गाइडलाइन जारी कर दी हैं। इस बार ताजिया का न जुलूस निकलेगा और ना ही कर्बला में मेला लगेगा। दो-तीन की संख्या में लोग ताजिया की मिट्टी ले जाकर कर्बला में ठंडा करेंगे।

हॉकी में टीम इंडिया ने 41 साल बाद दोहराया इतिहास, टोक्यो ओलंपिक के सेमीफाइनल में पहुँची: अब पदक से एक कदम दूर

भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने टोक्यो ओलिंपिक 2020 के सेमीफाइनल में जगह बना ली है। 41 साल बाद टीम सेमीफाइनल में पहुँची है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,544FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe