Monday, July 26, 2021
Homeराजनीतिसमुदाय विशेष को BJP समर्थक दुकानदारों से सामान न खरीदने की राय देने वाले...

समुदाय विशेष को BJP समर्थक दुकानदारों से सामान न खरीदने की राय देने वाले MLA नाहिद हसन पर FIR

"जो बड़े दुकानदार हैं वे छोटे दुकानदारों को उनके परंपरागत बाजार से हटाना चाहते हैं। यहाँ पर हमारी (मुस्लिमों की) संख्या ज्यादा है और यह हमसे पैसा कमा रहे हैं।"

उत्तर प्रदेश के शामली जिले के कैराना से समाजवादी पार्टी (सपा) के विधायक नाहिद हसन के खिलाफ बीजेपी समर्थकों की दुकानों का बहिष्कार करने की अपील करने को लेकर FIR दर्ज की गई है। पुलिस ने मंगलवार (जुलाई 23, 2019) को यह जानकारी दी।

पुलिस ने कहा कि सोमवार शाम को एक वीडियो वायरल होने के बाद यह प्राथमिकी दर्ज की गई, जिसमें विधायक नाहिद हसन समुदाय विशेष से अपील करते नजर आ रहे हैं। रिपोर्ट्स के अनुसार, पुलिस अधीक्षक अजय कुमार ने कहा कि विवादास्पद वीडियो में, हसन लोगों से कह रहे हैं कि वे कैराना में भाजपा समर्थकों द्वारा चलाई जा रही दुकानों का बहिष्कार करें। कुमार ने कहा कि मामले की जाँच का आदेश दे दिया गया है और जाँच एएसपी राजेश श्रीवास्तव को सौंप दी गई है।

वायरल हो रहे इस वीडियो में MLA नाहिद हसनसमुदाय विशेष को सन्देश देते हुए कह रहे हैं कि उनके जैसे लोगों के सामान खरीदने से ही भाजपाइयों की दुकान और उनका घर चलता है। अगर वो लोग उनकी दुकान से सामान नहीं खरीदेंगे, तो उनकी आर्थिक स्थिति बिगड़ जाएगी। इसलिए वो सभी से अपील करते हैं कि बीजेपी समर्थित दुकानों से सामान लेना बंद करें। साथ ही विधायक ने कैराना के उच्च अधिकारियों पर आरोप लगाते हुए कहा कि वो लोग बीजेपी नेता और बीजेपी समर्थकों के इशारे पर काम कर रहे हैं।

नाहिद हसन वीडियो में यह कहते हुए दिखाई दे रहे हैं कि बाजार में बीजेपी के जो भी लोग हैं उनसे सामान न खरीदें और अगर आप सामान नहीं खरीदोगे तो 15 दिन में उनको पता चल जाएगा।

वीडियो में नाहिद हसन यह भी कह रहे हैं- “कुछ बीजेपी के लोगों ने और बीजेपी दिमाग वाले अधिकारियों ने सराय की भूमि पर मौजूद लोगों को यहाँ से उजाड़ दिया है। उन उजड़े हुए लोगों के लिए मेरी आप सभी से अपील है कि बीजेपी के लोगों से सामान लेना बंद कर दो इनकी तबियत में सुधार आ जाएगा। इन्हें पता चल जाएगा कि जब हम इनसे समान लेते हैं तभी इनका घर चलता है। इनके घर चलने की वजह से आज हम सब पर या जूता बजाया जा रहा है। हमारे जो लोग हैं, थोड़े दिन यहाँ से सामान लेना बंद कर दो।”

इस बारे में जब पीटीआई ने सपा विधायक नाहिद हसन से बात की तो उन्होंने इस बात को स्वीकारा कि यह वीडियो उनका है और यह उनकी निजी राय है। उन्होंने कहा, ‘‘जो छोटे दुकानदार (हिन्दू मुस्लिम दोनों) हैं, वे भाजपा समर्थक दुकानदारों से प्रताड़ित हैं क्योंकि जो बड़े दुकानदार हैं वे छोटे दुकानदारों को उनके परंपरागत बाजार से हटाना चाहते हैं। यहाँ पर हमारी (मुस्लिमों की) संख्या ज्यादा है और यह हमसे पैसा कमा रहे हैं।’’

इस बीच तेलंगाना में बीजेपी के इकलौते विधायक टी राजा सिंह ने सोमवार को नाहिद हसन पर उनकी उस कथित टिप्पणी के लिए निशाना साधा जिसमें उन्होंने जनता से बीजेपी कार्यकर्ताओं के स्वामित्व वाली दुकानों का बहिष्कार करने को कहा है। गोशमहल से बीजेपी विधायक सिंह ने कहा, “मैं उस विधायक को बताना चाहूँगा कि यदि हम भी वही सोच रखें और आपके लोगों की दुकानों का बहिष्कार करें तो आपके लोग भूखे मर जाएँगे और आप लोगों को भीख माँगकर खाना पड़ेगा।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

यूपी के बेस्ट सीएम उम्मीदवार हैं योगी आदित्यनाथ, प्रियंका गाँधी सबसे फिसड्डी, 62% ने कहा ब्राह्मण भाजपा के साथ: सर्वे

इस सर्वे में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सर्वश्रेष्ठ मुख्यमंत्री बताया गया है, जबकि कॉन्ग्रेस की उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गाँधी सबसे निचले पायदान पर रहीं।

असम को पसंद आया विकास का रास्ता, आंदोलन, आतंकवाद और हथियार को छोड़ आगे बढ़ा राज्य: गृहमंत्री अमित शाह

असम में दूसरी बार भाजपा की सरकार बनने का मतलब है कि असम ने आंदोलन, आतंकवाद और हथियार तीनों को हमेशा के लिए छोड़कर विकास के रास्ते पर जाना तय किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,226FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe