Wednesday, May 22, 2024
Homeराजनीति18 विधानसभा सीटों पर हमारा अधिकार, कम से कम 11 टिकट तो लेंगे: गुजरात...

18 विधानसभा सीटों पर हमारा अधिकार, कम से कम 11 टिकट तो लेंगे: गुजरात में कॉन्ग्रेस के मुस्लिम विधायकों ने उठाई माँग, चुनाव से पहले 10% आबादी का वास्ता दिया

कॉन्ग्रेस विधायक शेख ने कहा, “हालत माकूल हैं और मुस्लिम समुदाय का प्रतिनिधित्व बढ़ाया जा सकता है। बीजेपी हमें एक भी टिकट नहीं देती है। आप पार्टी ने इतने उम्मीदवारों की घोषणा की, लेकिन अभी तक किसी भी मुस्लिम उम्मीदवार की घोषणा नहीं की है।"

कॉन्ग्रेस के मुस्लिम विधायकों (Muslim MLAs) ने गुजरात विधानसभा चुनावों (Gujarat Assembly Election) में मुस्लिम आबादी के अनुपात में टिकट की माँग की है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, मुस्लिम समुदाय से ताल्लुक रखने वाले पार्टी के तीन विधायकों ने राज्य की विधानसभा चुनावों में मुस्लिमों के लिए 10 से 11 टिकटों की माँग की है।

बता दें कि पिछले विधानसभा चुनावों में कॉन्ग्रेस ने जिन 7 मुस्लिम उम्मीदवारों को मैदान में उतारा था, उनमें से इमरान यूसुफभाई खेड़ावाला, साबिर काबलीवाला और शेख ग्यासुद्दीन हबीबुद्दीन ने भी जीत हासिल की थी।

देश गुजरात न्यूज ने कॉन्ग्रेस विधायक शेख ग्यासुद्दीन हबीबुद्दीन के हवाले से कहा कि मुस्लिम उम्मीदवारों के लिए 18 टिकट ‘उनका अधिकार’ है, क्योंकि गुजरात में मुस्लिमों की आबादी 10 प्रतिशत है और राज्य में विधानसभा सीटों की कुल संख्या 182 है।

उन्होंने दरियापुर, जमालपुर खड़िया, वाकानेर, सूरत पूर्व, अबदासा, जामनगर पूर्व, ढोलका, मांडवी, वेजलपुर सहित 18 विधानसभा सीटों के लिए टिकटों की माँग की है। हबीबुद्दीन का कहना है कि चुनावों में हर समुदाय को उनका प्रतिनिधित्व मिलता है। इसलिए मुस्लिमों को भी मिलना चाहिए।

शेख हबीबुद्दीन ने कहा, “पूरे गुजरात का मुस्लिम समुदाय जानता है कि यहाँ 182 सीटें हैं और मुस्लिम समुदाय की आबादी 10 फीसदी है। इसे देखते हुए 18 सीटों पर हमारा अधिकार है, लेकिन मुस्लिम समुदाय ने 18 सीटों पर दावा नहीं किया है। हम दरियापुर, जमालपुर खड़िया, वाकानेर, सूरत पूर्व, गोधरा, अहमदाबाद में वेजलपुर, कच्छ, जामनगर पूर्व में ढोलका, अबदासा और मांडवी सहित 10 से 11 सीटों की माँग करते हैं।”

शेख ग्यासुद्दीन हबीबुद्दीन ने आगे कहा, “हम तीन मौजूदा विधायक- इमरान खेड़ावाला, जावेद पीरजादा और मेरे अलावा कॉन्ग्रेस के अन्य वरिष्ठ नेताओं को लगता है कि टिकट वहीं का दिया जाना चाहिए, जहाँ सक्षम उम्मीदवार हों।”

उन्होंने कहा कि पिछले चुनाव के दौरान 7 मुस्लिम उम्मीदवारों को टिकट दिए गए थे, लेकिन उन्हें कम-से-कम 10 सीटें दी जानी चाहिए थीं। शेख ने राज्य में मुस्लिम उम्मीदवारों को एक भी टिकट नहीं देने के लिए भाजपा (BJP) और आम आदमी पार्टी (AAP) पर निशाना साधा।

उन्होंने कहा, “हालत माकूल हैं और मुस्लिम समुदाय का प्रतिनिधित्व बढ़ाया जा सकता है। बीजेपी हमें एक भी टिकट नहीं देती है। आप पार्टी ने इतने उम्मीदवारों की घोषणा की, लेकिन अभी तक किसी भी मुस्लिम उम्मीदवार की घोषणा नहीं की है।”

उन्होंने आगे कहा, “कॉन्ग्रेस हमेशा सभी धर्मों और जातियों को लेकर चलती है, चाहे वह पाटीदार, ब्राह्मण, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, ओबीसी या मुस्लिम हों। हमें विश्वास है कि पार्टी (कॉन्ग्रेस) हमारी माँग पर गंभीरता से विचार करेगी और टिकट देगी। हमें आलाकमान पर भरोसा है।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ध्वस्त कर दिया जाएगा आश्रम, सुरक्षा दीजिए’: ममता बनर्जी के बयान के बाद महंत ने हाईकोर्ट से लगाई गुहार, TMC के खिलाफ सड़क पर...

आचार्य प्रणवानंद महाराज द्वारा सन् 1917 में स्थापित BSS पिछले 107 वर्षों से जनसेवा में संलग्न है। वो बाबा गंभीरनाथ के शिष्य थे, स्वतंत्रता के आंदोलन में भी सक्रिय रहे।

‘ये दुर्घटना नहीं हत्या है’: अनीस और अश्विनी का शव घर पहुँचते ही मची चीख-पुकार, कोर्ट ने पब संचालकों को पुलिस कस्टडी में भेजा

3 लोगों को 24 मई तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया है। इनमें Cosie रेस्टॉरेंट के मालिक प्रह्लाद भुतडा, मैनेजर सचिन काटकर और होटल Blak के मैनेजर संदीप सांगले शामिल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -