Saturday, May 21, 2022
Homeराजनीतिगुजरात के MLA जिग्नेश मेवाणी को असम पुलिस ने किया गिरफ्तार, कॉन्ग्रेस समर्थक नेता...

गुजरात के MLA जिग्नेश मेवाणी को असम पुलिस ने किया गिरफ्तार, कॉन्ग्रेस समर्थक नेता पर आपत्तिजनक ट्वीट को लेकर कार्रवाई

रिपोर्ट के अनुसार मेवानी ने एक ट्वीट में कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नाथूराम गोडसे की विचारधारा में मानते हैं इसलिए वे देश में शांति की अपील नहीं करेंगे। इसको लेकर उनके खिलाफ असम शिकायत दर्ज कराई गई थी।

गुजरात के विवादित विधायक जिग्नेश मेवाणी (Jignesh Mevani) को असम पुलिस ने गिरफ्तार किया है। मेवाणी वडगाम से एमएलए हैं और कॉन्ग्रेस समर्थक हैं। बताया जा रहा है कि यह कार्रवाई उनके आपत्तिजनक ट्वीट को लेकर की गई है। उनके खिलाफ सेक्शन 120बी (आपराधिक साजिश), 153(ए) (दो समुदायों के बीच विद्वेष को बढ़ावा देना), 295(ए), 504 और आईटी एक्ट की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।

मेवाणी को बुधवार (20 अप्रैल 2022) रात करीब 11:30 बजे असम पुलिस ने पालनपुर सर्किट हाउस से गिरफ्तार किया। यहाँ से उन्हें अहमदाबाद ले जाया गया। उन्हें ट्रांजिट रिमांड पर असम पुलिस गुवाहाटी ले जा सकती है। मेवाणी के समर्थकों का आरोप है कि पुलिस की ओर से उन्हें अब तक एफआईआर की कॉपी नहीं दी गई है।

रिपोर्ट के मुताबिक, जिग्नेश मेवाणी के समर्थकों का कहना है कि असम में मेवाणी के खिलाफ एक केस दर्ज किया गया है, जिसको लेकर ये कार्रवाई की गई है। अपनी गिरफ्तारी को लेकर मेवाणी का कहना है कि किसी ट्वीट को लेकर उन पर ये कार्रवाई की गई है। मेवाणी ने कहा, “मैं किसी झूठी शिकायत से नहीं डरता। मैं अपनी लड़ाई जारी रखूँगा।”

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार मेवानी ने एक ट्वीट में कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नाथूराम गोडसे की विचारधारा में मानते हैं इसलिए वे देश में शांति की अपील नहीं करेंगे। इसको लेकर उनके खिलाफ असम शिकायत दर्ज कराई गई थी।

मेवाणी की गिरफ्तारी के बाद गुजरात कॉन्ग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष जगदीश ठाकोर के नेतृत्व में पार्टी के कई नेता अहमदाबाद एयरपोर्ट पहुँच गए। वहाँ कॉन्ग्रेसियों ने असम पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। ठाकोर ने कहा कि आरएसएस पर ट्वीट करने को लेकर मेवाणी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई गई थी। उन्होंने सरकार पर विधायक को डराने-धमकाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि मेवाणी के लिए हमारी लीगल टीम लड़ेगी। उल्लेखनीय है कि जिग्नेश मेवाणी कॉन्ग्रेस में शामिल नहीं हुए हैं। उन्होंने केवल पार्टी को समर्थन देने की बात कही थी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अब कहाँ गायब हो गया ज्ञानवापी ढाँचे में दिखा शिवलिंग? पूर्व महंत ने तस्वीरों से खोले राज़, हनुमान मूर्ति और कमल के फूल भी...

काशी विश्वनाथ मंदिर के पूर्व महंत डॉ कुलपति तिवारी ने ज्ञानवापी विवादित ढाँचे और शिवलिंग को लेकर पुरानी तस्वीरें दिखाते हुए बड़ा दावा किया।

सिखों के जख्म पर नमक छिड़क राजीव गॉंधी को अधीर रंजन चौधरी ने दी श्रद्धांजलि, कॉन्ग्रेस नेता ने लिखा- जब कोई बड़ा पेड़ गिरता...

लोकसभा में कॉन्ग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने राजीव गाँधी की की बरसी पर श्रद्धांजलि देते हुए विवादित ट्वीट कर के फिर उसे डिलीट कर दिया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
187,690FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe