Friday, October 22, 2021
Homeराजनीति'बेहतर होता काम की बात करते': झारखंड में कोरोना का हाल जानने PM मोदी...

‘बेहतर होता काम की बात करते’: झारखंड में कोरोना का हाल जानने PM मोदी ने किया कॉल, CM हेमंत सोरेन ने की राजनीति

"प्रधानमंत्री जी, मेरे मुख्यमंत्री जी को केवल अपना भ्रष्टाचार, बालू, कोयला, बलात्कार का आरोप, अपने प्रतिनिधि पर हत्या का आरोप ही काम का लगता है।"

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार (मई 6, 2021) को कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों को फोन कॉल कर उनके राज्यों में कोरोना वायरस संक्रमण की स्थिति और उससे निपटने के लिए हो रही प्रयासों पर बात की। प्रधानमंत्री ने गुरुवार (6 मई 2021) को झारखंड, आंध्र प्रदेश, ओडिशा और तेलंगाना के मुख्यमंत्रियों से टेलीफोन पर चर्चा की। लेकिन, झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने पीएम के कॉल पर भी राजनीति की।

हेमंत सोरेन ने ट्विटर पर लिखा, “आज आदरणीय प्रधानमंत्री जी ने फोन किया। उन्होंने सिर्फ अपने मन की बात की। बेहतर होता यदि वे काम की बात करते और काम की बात सुनते।” लोगों ने सोरेन के इस ट्वीट पर नाराजगी भी जताई, क्योंकि प्रधानमंत्री का फोन कॉल राज्य में कोरोना से जुड़ी समस्याओं को जानने-समझने के लिए ही था।

लेकिन, झामुमो के हेमंत सोरेन ने इसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ से जोड़ते हुए मजाक उड़ाया। इससे पहले भी प्रवासी मजदूरों के पलायन से लेकर कई मुद्दों पर हेमंत सोरेन केंद्र सरकार पर निशाना साध चुके हैं। गोड्डा के भाजपा सांसद निशिकांत दुबे ने हेमंत सोरेन को जवाब देते हुए कहा, “प्रधानमंत्री जी, मेरे मुख्यमंत्री जी को केवल अपना भ्रष्टाचार, बालू, कोयला, बलात्कार का आरोप, अपने प्रतिनिधि पर हत्या का आरोप ही काम का लगता है।”

दुबे ने तंज कसते हुए दावा किया कि वैसे भी हेमंत सोरेन को शाम के बाद कुछ याद ही नहीं रहता है। उन्होंने लिखा, “अपने पूरे जीवन कल में मैंने इतना घटिया मानसिकता का मुख्यमंत्री नहीं देखा, जिसको प्रधानमंत्री जी पर भी इतनी हल्की बात बोलने पर शर्म नहीं आती। प्रधानमंत्री जी ने लोगों का हाल पूछा, आप हाल पूछने के लिए प्रधानमंत्री जी पर नीच कमेंट करते हो। तो अपनी नहीं पद की मर्यादा का सम्मान सीखिए।”

हेमंत सोरेन को भाजपा नेताओं ने सलाह दी कि वे झारखंड के सरकारी अस्पतालों में हो रहे भ्रष्टाचार को रोकें। झारखंड में फ़िलहाल कोरोना के 60,633 सक्रिय मामले हैं और अब तक 2,70,089 लोग कोविड-19 से संक्रमित हो चुके हैं। पिछले 1 दिन में यहाँ 6974 नए मामले सामने आए हैं और 133 लोगों की मौत हुई है, जिससे कुल मृतकों का आँकड़ा 3479 पहुँच गया है। झारखंड में असम, पंजाब और जम्मू-कश्मीर से भी कम टेस्टिंग हुई है।

कुछ दिन पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी प्रोटोकॉल का उल्लंघन करते हुए प्रधानमंत्री के साथ हो रही मुख्यमंत्रियों की ‘इन हाउस बैठक’ का लाइव प्रसारण चालू कर दिया था, जिसके लिए उन्हें पीएम मोदी ने बीच बैठक में टोका भी था। वहीं अब हेमंत सोरेन ने उस फोन कॉल पर पीएम मोदी का मजाक बनाया, जो राज्य की जनता के लिए किया गया था। बाद में यही विपक्षी नेता केंद्र पर राज्यों के साथ समन्वय बना कर न चलने का आरोप मढ़ते हैं।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आतंक पर योगी सरकार लगाएगी नकेल: जम्मू-कश्मीर में बंद 26 आतंकियों को भेजा जा रहा यूपी, स्लीपर सेल के जरिए फैला रहे थे आतंकवाद

कश्मीर घाटी की अलग-अलग सेंट्रल जेलों में बंद 26 आतंकियों का पहला ग्रुप उत्तर प्रदेश की आगरा सेंट्रल जेल के लिए रवाना कर दिया गया।

‘बधाई देना भी हराम’: सारा ने अमित शाह को किया बर्थडे विश, आरफा सहित लिबरलों को लगी आग, पटौदी की पोती को बताया ‘डरपोक’

सारा ने गृहमंत्री को बधाई दी लेकिन नाराज हो गईं आरफा खानुम शेरवानी। उन्होंने सारा को डरपोक कहा और पारिवारिक बैकग्राउंड पर कमेंट किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
130,824FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe