Saturday, July 31, 2021
Homeराजनीतिदिल्ली में कोरोना काबू करने के लिए अमित शाह ने फिर सँभाला मोर्चा: दिल्ली...

दिल्ली में कोरोना काबू करने के लिए अमित शाह ने फिर सँभाला मोर्चा: दिल्ली पहुँचे डॉक्टर, घर-घर होगा सर्वे

गृह मंत्रालय ने 10 टीमों का गठन किया है। ये 10 टीमें 100 प्राइवेट अस्पतालों का दौरा करेंगी। यह 10 टीमें अस्पतालों में बेड की क्षमता और ICU बेड की जानकारी इकट्ठा करके वहाँ के हालात के बारे में गृह मंत्री को जानकारी देंगी।

देश की राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस को लेकर गृह मंत्रालय एक्शन में आ गया है। 15 नवंबर को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के बीच हुई मीटिंग के फैसलों के मुताबिक संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए तेजी से कदम उठाए जा रहे हैं।

गृह मंत्रालय ने 10 टीमों का गठन किया है। ये 10 टीमें 100 प्राइवेट अस्पतालों का दौरा करेंगी। यह 10 टीमें अस्पतालों में बेड की क्षमता और ICU बेड की जानकारी इकट्ठा करके वहाँ के हालात के बारे में गृह मंत्री को जानकारी देंगी।

गृह मंत्रालय के प्रवक्‍ता ने बुधवार (नवंबर 18, 2020) को ट्विटर पर इन कदमों के बारे में जानकारी दी है। जिनमें ये मुख्य कदम शामिल है:-

हाउस टू हाउस सर्वे की प्लानिंग अडवांस स्टेज पर पहुँच गई है। यह सर्वे 25 नवंबर से शुरू हो सकता है। ICMR और दिल्ली सरकार RT-PCR टेस्ट की संख्या को नवंबर के आखिर तक 60 हजार रोजाना तक बढ़ाने के प्रयास कर रहे हैं। 17 नवंबर तक यह 10 हजार टेस्ट प्रतिदिन है।

मंत्रालय ने बताया कि 45 डॉक्टर और पैरामिलिट्री फोर्स के 160 पैरामेडिक्स पहले ही दिल्ली आ चुके हैं। उनको डीआरडीओ के कोविड-19 हॉस्पिटल और छतरपुर कोविड केयर सेंटर में तैनात किया गया है। बाकी डॉक्टर्स भी कुछ दिनों में आ जाएँगे।

डीआरडीओ 250 आईसीयू बेड्स को ऐड करेगा। पहले से दिल्ली में उसके 250 आईसीयू बेड्स हैं। उधर, डीआरडीओ भी अगले चार-पाँच दिनों में 35 और BIPAP बेड एयरपोर्ट वाले कोविड सेंटर में लगाएगा।

10 बहु-विषयक टीमें बनाई गई हैं। ये दिल्ली के करीब 100 प्राइवेट हॉस्पिटल्स में जाएँगी। वहाँ जाकर देखा जाएगा कि क्या बेड कपेसिटी और टेस्टिंग बढ़ाने का कोई विकल्प मौजूद है। टीमों ने यह काम शुरू कर दिया है।

भारतीय रेलवे करीब 800 बेड वाले ट्रेन कोच देगी। इन्हें शकूर बस्ती रेलवे स्टेशन पर रखा जाएगा।

भारत इलेक्ट्रोनिक्स लिमिटिड (BEL) ने बेंगलुरु से 250 वेंटिलेटर्स भेजे हैं। यह इस हफ्ते के आखिर तक दिल्ली पहुँच जाएँगे। उधर, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने दिल्ली एयरपोर्ट के पास डीआरडीओ कोविड सेंटर को 35 BIPAP मशीन दिए हैं।

बता दें कि गृह मंत्री अमित शाह के निर्देश पर आईसीएमआर दिल्‍ली में कोविड 19 टेस्टिंग के लिए मोबाइल वैन उपलब्‍ध कराने में दिल्‍ली सरकार की मदद कर रहा है। अगले सप्‍ताह से इसके तहत 20000 टेस्‍ट संभव होंगे।

बता दें कि दिल्ली में कोरोना केसों की संख्या दिन प्रति दिन तेजी से बढ़ रही है। मंगलवार को कोरोना के 6,396 नए केस सामने आए थे। राजधानी दिल्ली में अब तक कोरोना के 495,598 केस सामने आ चुके हैं। इसमें से 7,812 लोग वायरस से अपनी जान गँवा चुके हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पेगासस: ‘खोजी’ पत्रकारिता का भ्रमजाल, जबरन बयानबाजी और ‘टाइमिंग’- देश के खिलाफ हर मसाले का प्रयोग

दुनिया भर में कुल जमा 23 स्मार्टफोन में 'संभावित निगरानी' को लेकर ऐसा बड़ा हल्ला मचा दिया गया है, मानो 50 देशों की सरकारें पेगासस के ज़रिए बड़े पैमाने पर अपने नागरिकों की साइबर जासूसी में लगी हों।

पिता ने उधार लेकर करवाई हॉकी की ट्रेनिंग, निधन के बाद अंतिम दर्शन भी छोड़ा: अब ओलंपिक में इतिहास रच दी श्रद्धांजलि

वंदना कटारिया के पिता का सपना था कि भारतीय महिला हॉकी टीम ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीते। बचपन में पिता ने उधार लेकर उन्हें हॉकी की ट्रेनिंग दिलवाई थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,211FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe