Sunday, October 17, 2021
Homeराजनीतिजम्मू-कश्मीर के राज्यपाल ने कहा- ‘आज तो कुछ नहीं होगा, कल का पता नहीं,...

जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल ने कहा- ‘आज तो कुछ नहीं होगा, कल का पता नहीं, वो मेरे हाथ में नहीं’

कोई कह रहा है- राज्य का विभाजन होगा, कोई कह रहा है कि आर्टिकल 35-A, कोई कह रहा है 370! उन्होंने कहा कि गृहमंत्री अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनसे इस विषय में कोई बात नहीं की है।

आतंकी हमले के मद्देनजर अमरनाथ यात्रा पर जारी हुई एडवायजरी के बाद जम्मू-कश्मीर की राजनीतिक पार्टियों में उथल-पुथल मची हुई है। पीडीपी और नेशनल कॉन्फ्रेंस की ओर से लगातार कहा जा रहा है कि राज्य के लोगों में डर का माहौल पैदा किया जा रहा है। हालाँकि, जम्मू कश्मीर के मौजूदा हालात पर राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने कहा है कि कश्मीर में किसी को डरने की जरूरत नहीं है। राज्यपाल का कहना है कि आतंकी खतरे की वजह से एडवाइजरी जारी की गई थी और इसमें चिंतित होने वाली कोई बात नहीं है।

वहीं, तमाम अटकलों के बीच जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने, न्यूज एजेंसी एएनआई के अनुसार, नेशनल कॉन्फ्रेंस नेता उमर अबदुल्ला और अन्य से बातचीत पर कहा कि सभी को संतुष्ट कर दिया गया है। उन्हें राज्यपाल से जो अपेक्षा थी, वैसा ही किया गया।

सत्यपाल मलिक ने कहा, “जहाँ तक मैं जानता हूँ, ऐसा कोई रुझान नहीं हैं कि जम्मू-कश्मीर में कुछ होने वाला है। मैं आने वाले कल के बारे में नहीं जानता हूँ और ना ही यह मेरे हाथ में है। लेकिन, आज ऐसा कुछ नहीं होगा, तो इसकी चिंता मत करें।”

राज्यपाल मलिक ने एडवायजरी पर कहा कि भक्तों और पर्यटकों की सुरक्षा को देखना हमारी जिम्मेदारी है। बहुत सारे आतंकी एलओसी के पास घुसपैठ के इरादे से बैठे हुए हैं, उनमें से ज्यादातर आत्मघाती हमलावर हैं।

एडवायजरी के सवाल पर राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने कहा कि अगर यहाँ कुछ होता है तो, पूरे देश में माहौल खराब होगा और हम इसी से बचना चाहते थे। उन्होंने जम्मू-कश्मीर को लेकर फैल रही अफवाहों पर कहा, “मैंने दिल्ली में सभी से बात की है और किसी ने भी इस ओर इशारा नहीं किया है। कोई कह रहा है- राज्य का विभाजन होगा, कोई कह रहा है कि आर्टिकल 35-A, कोई कह रहा है 370! उन्होंने कहा कि गृहमंत्री अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनसे इस विषय में कोई बात नहीं की है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

डीजल डाल कर जला दिया दलित लखबीर का शव, चेहरा तक नहीं देखने दिया परिजनों को: ग्रामीणों ने किया बहिष्कार

डीजल डाल कर मोबाइल की रोशनी में दलित लखबीर सिंह के शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया। शव से पॉलीथिन नहीं हटाया गया। परिजन चेहरा तक न देख पाए।

पश्चिम बंगाल में दुर्गा विसर्जन से लौट रहे श्रद्धालुओं पर बम से हमला, कई घायल, पुलिस ने कहा – ‘हमलावरों की अभी तक पहचान...

हमलावर मौके से फरार हो गए। सूचना पाकर पहुँची पुलिस ने लोगों की भीड़ को हटाकर मामला शांत किया और घायलों को अस्पताल भेजा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,199FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe