Saturday, July 13, 2024
Homeराजनीतिकमलनाथ ने भारत को बताया 'हिन्दू राष्ट्र': बागेश्वर धाम वाले बाबा के सामने नतमस्तक...

कमलनाथ ने भारत को बताया ‘हिन्दू राष्ट्र’: बागेश्वर धाम वाले बाबा के सामने नतमस्तक हुए कॉन्ग्रेस के पूर्व CM, कहा – देश में 82% हिन्दू

बागेश्वर धाम के महंत पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री कहा था कि जो भारत में रहता है, वह हर व्यक्ति सनातनी है और जो राम को मानता है तो वह भी सनातनी है।

मध्य प्रदेश में कॉन्ग्रेस के सबसे बड़े नेता कमलनाथ ने हिंदू राष्ट्र को लेकर बड़ा बयान देते हुए कहा कि इस बात पर कोई बहस की बात ही नहीं है कि भारत हिंदू राष्ट्र है या नहीं। कमलनाथ ने हिंदुओं की संख्या का हवाला देते हुए कहा कि जिस देश में 82 प्रतिशत हिंदू हों, क्या वो राष्ट्र कोई अन्य राष्ट्र हो सकता है? हिंदू राष्ट्र की बहस ही बेकार है। बता दें कि कमलनाथ अभी मध्य प्रदेश में हिंदू राष्ट्र की खुलकर बात करने वाले बागेश्वर धाम के धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री की कथा के आयोजक हैं और उनकी धीरेंद्र शास्त्री का स्वागत करते हुए वीडियो सोशल मीडिया भी खूब वायरल हुआ था।

मीडिया ने हिंदू राष्ट्र पर पूछा था सवाल

बता दें कि छिंदवाड़ा में कथा करते हुए बागेश्वर धाम के महंत पंडित धीरेंद्र कृष्ण ने शास्त्री कहा था कि जो भारत में रहता है, वह हर व्यक्ति सनातनी है और जो राम को मानता है तो वह भी सनातनी है। उनके इसी बयान पर मीडिया ने सवाल पूछा था कि क्या आप हिंदू राष्ट्र वाली बात से सहमत हैं?

इसी सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि देश पहले से हिंदू राष्ट्र है। देश में 82 फीसदी हिंदू हैं। हिंदू राष्ट्र बनाने की माँग ही बेईमानी है। उन्होंने कहा कि पहले से यह बात स्थापित है, दुनिया में सबसे ज्यादा हिंदू भारत में। साथ ही पूछा कि क्या ये कहने वाली बात है?

कमलनाथ के बेटे नकुलनाथ भी हैं धीरेंद्र शास्त्री के भक्त

बता दें कि कमलनाथ के बेटे और सांसद नकुलनाथ भी धीरेंद्र शास्त्री के भक्त हैं। उन्होंने धीरेंद्र शास्त्री के छिंदवाड़ा पहुँचने पर स्वागत करते हुए जोरदार वीडियो ट्विटर पर भी शेयर किया था, जिसके बाद उन पर कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं ने जमकर हमला बोला था। नकुलनाथ ने वीडियो के कैप्शन में लिखा है – ‘परम पूज्य पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री जी (श्री बागेश्वर धाम सरकार) का छिन्दवाड़ा हवाई पट्टी पर स्वागत किया।

उन्होंने कहा, “हमारा सौभाग्य है छिन्दवाड़ा की पावन भूमि पर आपके चरण स्पर्श हुए गुरुदेव।” नकुलनाथ ने अभी उस वीडियो को अपनी ट्विटर प्रोफाइल पर पिन भी किया है।

कॉन्ग्रेस नेता और कार्यकर्ता कर रहे विरोध

छिंदवाड़ा में धीरेंद्र शास्त्री के दरबार और कथा के आयोजन का कुछ कॉन्ग्रेस के नेताओं ने भी विरोध किया है। कॉन्ग्रेस के नेता प्रमोद कृष्णम तो धीरेंद्र शास्त्री के स्वागत और आरती उतारे जाने से इतने भड़के कि उन्होंने कह दिया कि इससे महात्मा गाँधी और जवाहर लाल नेहरू की आत्मा को ठेस पहुँचेगी। उन्होंने इस प्रकरण पर वरिष्ठ नेताओं की चुप्पी पर भी सवाल उठाए।

संभल स्थित कल्कि पीठ के महंत प्रमोद कृष्णम प्रियंका गांधी के जबरदस्त समर्थक माने जाते हैं, लेकिन लगता है कि हिंदुओं के पुनर्जन्म वाली मान्यता को वो नहीं मानते। तभी तो, महात्मा गांधी और जवाहर लाल नेहरू की आत्माएं उनके हिसाब से ठेस पहुंचने के लिए यहीं भटक रही हैं। हम इससे आगे क्या ही कहें, समझने वाले समझ ही गए होंगे।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

लैंड जिहाद की जिस ‘मासूमियत’ को देख आगे बढ़ जाते हैं हम, उससे रोज लड़ते हैं प्रीत सिंह सिरोही: दिल्ली को 2000+ मजार-मस्जिद जैसी...

प्रीत सिरोही का कहना है कि वह इन अवैध इमारतों को खाली करवाएँगे। इन खाली हुई जमीनों पर वह स्कूल और अस्पताल बनाने का प्रयास करेंगे।

‘आपातकाल तो उत्तर भारत का मुद्दा है, दक्षिण में तो इंदिरा गाँधी जीत गई थीं’: राजदीप सरदेसाई ने ‘संविधान की हत्या’ को ठहराया जायज

सरदेसाई ने कहा कि आपातकाल के काले दौर में पूरे देश पर अत्याचार करने के बाद भी कॉन्ग्रेस चुनावों में विजयी हुई, जिसका मतलब है कि लोग आगे बढ़ चुके हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -