Monday, October 25, 2021
Homeराजनीतिसोनिया सेना बन चुकी है बाल ठाकरे की शिवसेना, घर तोड़ने वाले गुंडे थे......

सोनिया सेना बन चुकी है बाल ठाकरे की शिवसेना, घर तोड़ने वाले गुंडे थे… सिविक बॉडी मत बोलो उन्हें: कंगना रनौत

BMC ने इस तोड़फोड़ को अंजाम देने में शिवसेना या किसी अन्य राजनीतिक दल के प्रभाव में होने से इनकार किया। कंगना रनौत ने बोला - "जिन गुंडों ने मेरे पीछे मेरा घर तोड़ा उनको सिविक बॉडी मत बोलो, संविधान का इतना बड़ा अपमान मत करो।"

बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत ने बीएमसी द्वारा की गई इस ‘गुंडागर्दी’ को ट्वीट में ‘शिवसेना’ को ‘सोनिया सेना’ बताया है। कंगना रनौत ने कहा कि शिवसेना ने राजनीति के लिए बाल ठाकरे की विचारधारा को त्याग दिया।

बृहन्मुंबई म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन (बीएमसी) ने बुधवार (सितम्बर 09, 2020) को बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत के पाली हिल स्थित कार्यालय को ध्वस्त कर दिया। बीएमसी की इस कार्रवाई को कंगना ने लोकतंत्र की हत्या करार दिया।

कंगना रनौत ने बीएमसी द्वारा की गई तोड़फोड़ की अगली सुबह बृहस्पतिवार (सितम्बर 10, 2020) अपने ट्वीट में लिखा, “जिस विचारधारा पर श्री बाला साहेब ठाकरे ने शिव सेना का निर्माण किया था आज वो सत्ता के लिए उसी विचारधारा को बेच कर शिव सेना से सोनिया सेना बन चुकी है, जिन गुंडों ने मेरे पीछे मेरा घर तोड़ा उनको सिविक बॉडी मत बोलो, संविधान का इतना बड़ा अपमान मत करो।”

बीएमसी टीम ने कल सुबह 11 बजे कंगना के ऑफिस में तोड़फोड़ शुरू की और दो घंटे के भीतर कीमती संपत्ति को बर्बाद कर दिया। कंगना के वकील, रिजवान सिद्दीकी ने सुबह एक याचिका दायर कर अदालत से 11:30 बजे तत्काल सुनवाई करने का अनुरोध किया। अदालत ने याचिका का नोटिस लिया और सुनवाई दोपहर 12:30 बजे के लिए निर्धारित की।

‘मुंबई मिरर’ में प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार, जब अदालत की सुनवाई शुरू हुई, तो यह पता चला कि बीएमसी ने अदालत से अनुरोध करते हुए एक कैविएट दायर की थी कि वह केस के पक्ष को सुने बिना कंगना को कोई राहत न दे।

सुनवाई के दौरान बीएमसी की वकील ने कहा कि उन्हें तोड़फोड़ की कोई जानकारी नहीं

कैविएट एक दिन पहले ही मंगलवार को दायर किया गया था। इसके अलावा, अदालत में पेश हुए बीएमसी वकील ने कहा कि उनके पास इस मामले के बारे में कुछ भी पता नहीं और इससे एक दिन पहले कंगना को भेजे गए नोटिस के बारे में उन्हें कोई जानकारी नहीं थी। यह बयान तब दिया गया, जब कंगना रनौत के ऑफिस में BMC की तोड़फोड़ जारी थी।

जब अदालत ने वकील से बीएमसी कमिश्नर इकबाल चहल को फोन करके उन्हें तोड़फोड़ को रोकने के लिए कहा, तो वकील ने कहा कि उनका संदेश चहल तक पहुँच गया है या नहीं, वह स्पष्ट रूप से नहीं बता सकतीं। जब अदालत के एक सहयोगी ने उसे फोन करने की कोशिश की, तो उसका फोन बंद मिला। उसके दस मिनट के भीतर, बीएमसी वकील ने अदालत को बताया कि तोड़फोड़ को रोकने का उनका संदेश पहुँच चुका है।

अंत में, न्यायमूर्ति एसजे कथावाला और आरआई छागला की खंडपीठ ने बीएमसी के खिलाफ अभिनेत्री कंगना रनौत की याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा कि नागरिक निकाय ने सुनवाई में जानबूझकर देरी की, ताकि यह संपत्ति को ध्वस्त कर सके।

अपने बचाव में, बीएमसी ने इस तोड़फोड़ को अंजाम देने में शिवसेना या किसी अन्य राजनीतिक दल के प्रभाव में होने से इनकार किया। इसमें कहा गया है कि बीएमसी ने वही किया है, जो विभाग को शहर में अवैध निर्माणों पर करना है। यह भी कहा कि उन्होंने पूरी संपत्ति को नहीं गिराया है, लेकिन सिर्फ ‘बढ़ाई गई दीवारें, पार्टीशन और शौचालय स्लैब’ तोड़े गए हैं।

इस तोड़फोड़ पर सुनवाई करते हुए बॉम्बे हाईकोर्ट ने इसे गलत इरादे से की गई कार्रवाई बताया है। हाईकोर्ट ने कहा कि यदि इस तरह के काम किए गए तो यह शहर रहने लायक नहीं रह जाएगा। यहाँ तक कि एनसीपी नेता शरद पवार ने भी इस कार्रवाई को गैरजरूरी बताया है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पहली बार WC में पाकिस्तान से हारी टीम इंडिया, भारत के खिलाफ सबसे बड़ी T20 साझेदारी: Pak का ओपनिंग स्टैंड भी नहीं तोड़ पाए...

151 रनों के स्कोर का पीछे करते हुए पाकिस्तान ने पहले 2 ओवर में ही 18 रन ठोक दिए। सलामी बल्लेबाज बाबर आजम ने 68, मोहम्मद रिजवान ने 79 रन बनाए।

T20 WC में सबसे ज्यादा पचासा लगाने वाले बल्लेबाज बने कोहली, Pak को 152 रनों का टारगेट: अफरीदी की आग उगलती गेंदबाजी

भारत-पाकिस्तान T20 विश्व कप मैच में विराट कोहली ने 45 गेंदों में अपना शानदार अर्धशतक पूरा किया। शाहीन अफरीदी के शिकार बने शीर्ष 3 बल्लेबाज।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
131,522FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe