Tuesday, July 16, 2024
Homeविविध विषयमनोरंजनमुंबई पुलिस ने किया कंगना समर्थकों पर लाठी चार्ज, बॉम्बे HC की फटकार, कहा-...

मुंबई पुलिस ने किया कंगना समर्थकों पर लाठी चार्ज, बॉम्बे HC की फटकार, कहा- गलत भावना से की गई कार्रवाई

बॉम्बे हाईकोर्ट ने बीएमसी द्वारा की गई इस कार्रवाई पर रोक लगा दी गई है। हाईकोर्ट ने कहा कि यह तोड़फोड़ गलत इरादों से की गई। बॉम्बे हाईकोर्ट ने इस मामले में कल फिर सुनवाई करेगा।

कंगना रनौत के मुंबई पहुँचते ही मुंबई स्थित उनके ऑफिस के सामने भारी संख्या में उनके समर्थक एकत्रित हुए और उन्होंने कंगना रनौत के खिलाफ की गई कार्रवाई को लेकर शिवसेना प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। रिपब्लिक भारत की रिपोर्ट के अनुसार, मुंबई पुलिस ने कंगना रनौत के इन समर्थकों को हटाने के लिए लाठी चार्ज किया।

रिपोर्ट में कहा गया है कि इस दौरान शिवसेना के खिलाफ नारेबाजी कर रहे कंगना के समर्थकों को जबरन पुलिस वैन में भरकर एक स्थान से दूसरे स्थान पर ले जाया गया। यही नहीं, इस दौरान पुलिस को कई समर्थकों के साथ धक्का-मुक्की और बल का इस्तेमाल करते हुए भी देखा गया।

रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क के रिपोर्टर अनुज कुमार, वीडियो जर्नलिस्ट यशपालजीत सिंह और ओला कैब ड्राइवर प्रदीप दिलीप धनावड़े को भी महाराष्ट्र पुलिस ने गैरकानूनी तरीके से हिरासत में ले लिया।

कंगना रनौत के दफ्तर के बाहर जुटे समर्थकों ने कहा कि उन्हें न्याय चाहिए। ये सभी समर्थक कंगना के साथ सुशांत सिंह राजपूत के लिए भी न्याय माँग रहे हैं और उन्होंने BMC द्वारा की गई तोड़फोड़ को नाजायज ठहराया।

अभिनेत्री कंगना रनौत ने मुंबई पहुँचते ही अपने ध्वस्त किए गए ऑफिस के कुछ वीडियो शेयर करते हुए इसे ‘लोकतंत्र की हत्या’ बताया। साथ ही, BMC की कार्रवाई के बाद वीडियो शेयर करते हुए उन्होंने महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे को चेतावनी दी और कहा कि ‘आज मेरा घर टूटा है, कल आपका घमंड टूटेगा।’

बॉम्बे हाईकोर्ट ने रोक लगाकर BMC को लगाई फटकार

वहीं, बॉम्बे हाईकोर्ट ने बीएमसी द्वारा की गई इस कार्रवाई पर रोक लगा दी गई है। हाईकोर्ट ने कहा कि यह तोड़फोड़ गलत इरादों से की गई। बॉम्बे हाईकोर्ट ने इस मामले में कल फिर सुनवाई करेगा। हाईकोर्ट ने कंगना रनौत के ऑफिस में कथित अवैध निर्माण को गिराने में इतनी जल्दबाजी करने के लिए बीएमसी से जवाब माँगा है। कोर्ट ने कहा कि अगर इस तरह से काम किया गया तो यह शहर रहने लायक नहीं रहेगा। .

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘जम्मू-कश्मीर की पार्टियों ने वोट के लिए आतंक को दिया बढ़ावा’: DGP ने घाटी के सिविल सोसाइटी में PAK के घुसपैठ की खोली पोल,...

जम्मू कश्मीर के DGP RR स्वेन ने कहा है कि एक राजनीतिक पार्टी ने यहाँ आतंक का नेटवर्क बढ़ाया और उनके आका तैयार किए ताकि उन्हें वोट मिल सकें।

कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री DK शिवकुमार को सुप्रीम कोर्ट से झटका, चलती रहेगी आय से अधिक संपत्ति मामले CBI की जाँच: दौलत के 5 साल...

सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री डीके शिवकुमार को आय से अधिक संपत्ति मामले में CBI जाँच से राहत देने से मना कर दिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -