Wednesday, December 1, 2021
Homeराजनीति'कंगना को जेल में डालो या मेंटल अस्पताल में' - खालिस्तानी वाली बात पर...

‘कंगना को जेल में डालो या मेंटल अस्पताल में’ – खालिस्तानी वाली बात पर शिरोमणि अकाली दल के नेता की शिकायत

"हम इंस्टाग्राम पर उनके आपत्तिजनक पोस्ट से आहत हैं। सरकार को उनकी सुरक्षा और पद्मश्री सम्मान को तुरंत वापस ले लेना चाहिए। या फिर उन्हें किसी मेंटल हॉस्पिटल या जेल में रखा जाना चाहिए।"

बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत के खिलाफ शिरोमणि अकाली दल के नेता और दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा ने शनिवार (20 नवंबर 2021) को आपत्तिजनक टिप्पणी करने का आरोप लगाते हुए शिकायत दर्ज कराई ​है।

तीन कृषि कानूनों को वापस लेने पर कंगना रनौत ने इंस्टाग्राम पर तीखी टिप्पणी की थी। इस पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए सिरसा ने कहा कि अभिनेत्री को या तो जेल में डाल देना चाहिए या फिर मेंटल अस्पताल में भर्ती करा देना चाहिए। उन्होंने एक्ट्रेस पर आरोप लगाया, “कंगना का बयान उनकी घटिया मानसिकता को उजागर करता है। उनका यह कहना कि खालिस्तानी आतंकवादियों के कारण तीन कृषि कानूनों को वापस किया गया, किसानों का अपमान है। वह नफरत फैलाने की फैक्ट्री हैं।”

सिरसा ने ट्विटर पर इस शिकायत को पोस्ट किया है और आरोप लगाया है कि यह इंस्टाग्राम पर अभद्र भाषा के इस्तेमाल, अपमानजनक पोस्ट के लिए दर्ज कराई गई है। मनजिंदर सिंह सिरसा ने सरकार से कंगना के खिलाफ सख्त कार्रवाई की माँग करते हुए कहा, “हम इंस्टाग्राम पर उनके आपत्तिजनक पोस्ट से आहत हैं। सरकार को उनकी सुरक्षा और पद्मश्री सम्मान को तुरंत वापस ले लेना चाहिए। या फिर उन्हें किसी मेंटल हॉस्पिटल या जेल में रखा जाना चाहिए।”

अभिनेत्री कंगना रनौत ने पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी की सराहना करते हुए अपनी इंस्टाग्राम स्टोरी में लिखा, ”उन्होंने खालिस्तानियों के खिलाफ निर्णायक कार्रवाई की थी।” अभिनेत्री ने लिखा, ”खालिस्तानी आतंकवादी आज भले ही सरकार को झुका सकते हैं, लेकिन एक महिला को मत भूलना। एकमात्र महिला प्रधानमंत्री ने इनको अपनी जूती के नीचे कुचल दिया था। भले ही उन्होंने देश को कितनी भी तकलीफ दी हो, उन्होंने अपनी जान की कीमत पर उन्हें मच्छरों की तरफ कुचल दिया था, लेकिन देश के टुकड़े नहीं होने दिए।” ‘क्वीन’ की ​एक्ट्रेस ने आगे लिखा, ”उनकी मृत्यु के दशकों बाद भी उसके नाम से काँपते हैं ये, इनको वैसा ही गुरु चाहिए।”

साभार: कंगना रनौत इंस्टाग्राम स्टोरी

बता दें कि कंगना की अपकमिंग फिल्म ‘इमरजेंसी’ आ रही है, जिसमें उन्होंने इंदिरा गाँधी की भूमिका निभाई है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कभी ज़िंदा जलाया, कभी काट कर टाँगा: ₹60000 करोड़ का नुकसान, हत्या-बलात्कार और हिंसा – ये सब देश को देकर जाएँगे ‘किसान’

'किसान आंदोलन' के कारण देश को 60,000 करोड़ रुपए का घाटा सहना पड़ा। हत्या और बलात्कार की घटनाएँ हुईं। आम लोगों को परेशानी झेलनी पड़ी।

बारबाडोस 400 साल बाद ब्रिटेन से अलग होकर बना 55वाँ गणतंत्र देश: महारानी एलिजाबेथ द्वितीय का शासन पूरी तरह से खत्म

बारबाडोस को कैरिबियाई देशों का सबसे अमीर देश माना जाता है। यह 1966 में आजाद हो गया था, लेकिन तब से यहाँ क्वीन एलीजाबेथ का शासन चलता आ रहा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
140,754FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe