Sunday, July 21, 2024
Homeराजनीति7 दिन में डेंगू के 230 मामले: केजरीवाल ने कहा डेंगू की तरह ही...

7 दिन में डेंगू के 230 मामले: केजरीवाल ने कहा डेंगू की तरह ही प्रदूषण को भी हराएँगे

डेंगू के ये आँकड़े दिल्ली सरकार के 10 हफ्ते, 10 बजे, 10 मिनट अभियान के दौरान सामने आया था। केजरीवाल ने मच्छरों से उत्पन्न होने वाली बीमारियों से निजात पाने के लिए 8 सितंबर 2019 को यह अभियान शुरू किया था।

राजधानी दिल्ली में सोमवार (नवंबर 4, 2019) से शुरू हुए ऑड-ईवन स्कीम को लेकर आम आदमी पार्टी के प्रमुख और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दावा किया है कि इस स्कीम से उनकी सरकार प्रदूषण से उसी तरह निजात दिलाएगी, जैसे डेंगू को खत्म किया। AAP प्रमुख ने मीडिया से बात करते हुए कहा, “दिल्ली के लोगों ने सराहनीय काम किया है। उन्होंने डेंगू और प्रदूषण दोनों पर काबू पाया है।”

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि दिल्ली में पिछले पाँच वर्षों की तुलना में इस साल अब तक डेंगू के सबसे कम मामले दर्ज किए गए हैं। साथ ही उन्होंने दिल्लीवासियों से अगले महीने तक सामूहिक प्रयास जारी रखने की अपील भी की। एक अन्य मंत्री गोपाल राय ने दावा किया, “हम प्रदूषण को भी उसी तरह हरा देंगे जैसे हमने डेंगू के मामले में किया है।”

हालाँकि इंडिया टुडे की रिपोर्ट के अनुसार आँकड़ों से पता चलता है कि पिछले हफ्ते डेंगू के 230 से अधिक नए मामले सामने आए थे, जो इस साल अब तक के एक हफ्ते में सबसे ज्यादा है। हाल के आँकड़े बताते हैं कि दिल्ली में 2019 में अब तक मच्छर जनित वायरल बीमारी के 1,069 मामले सामने आ चुके हैं।

दक्षिणी दिल्ली नगर निगम (एसडीएमसी) के अनुसार, वेक्टर जनित बीमारी के कुल 833 मामले दर्ज किए गए। जिसमें से 551 अक्टूबर में, 190 सितंबर में, 52 अगस्त में, 18 जुलाई में, 11 जून में। और बाकी सारे मामले जनवरी और मई के बीच दर्ज किए गए थे। इसी तरह, पिछले आँकड़ों के अनुसार 2108 में 2798 डेंगू के मामले सामने आए और चार मौतें दर्ज हुईं, वहीं 2017 में 4726 मामले दर्ज किए गए, और 10 मौतें भी हुईं।

बता दें कि यह आँकड़ा दिल्ली सरकार द्वारा शुरू किए गए अभियान 10 हफ्ते, 10 बजे, 10 मिनट के दौरान आया था। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मच्छरों से उत्पन्न होने वाली बीमारियों से निजात पाने के लिए 8 सितंबर 2019 को यह अभियान शुरू किया था।

गुरुग्राम के मैक्स अस्पताल में डॉ राजीव डांग ने कहा, “हालाँकि पिछले वर्षों की तुलना में इस वर्ष डेंगू के मामलों में राष्ट्रीय राजधानी में थोड़ी कमी देखी गई है, लेकिन कुल संख्या अभी भी उच्च स्तर पर बनी हुई है। सितंबर में विशेषज्ञों ने आगाह किया था कि दिल्ली में डेंगू, चिकनगुनिया और मलेरिया के मामले बढ़ रहे हैं और आने वाले हफ्तों में स्थिति बदतर हो सकती है।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मध्य प्रदेश और बिहार में भी काँवर यात्रा मार्ग में ढाबों-ठेलों पर लिखा हो मालिक का नाम’: पड़ोसी राज्यों में CM योगी के फैसलों...

रमेश मेंदोला ने कहा कि नाम बताने में दुकानदारों को शर्म नहीं बल्कि गर्व होना चाहिए। हरिभूषण ठाकुर बचौल बोले - विवादों से छुटकारा मिलेगा।

‘लैंड जिहाद और लव जिहाद को बढ़ावा दे रही हेमंत सोरेन की सरकार’: झारखंड में गरजे अमित शाह, कहा – बिगड़ रहा जनसंख्या का...

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन पर 'भूमि जिहाद', 'लव जिहाद' को बढ़ावा देने का आरोप लगाते हुए उन पर तीखा हमला किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -