Friday, May 31, 2024
Homeराजनीतिदिल्ली का 'बढ़िया स्कूल' देखने केरल से आए ऑफिसर लोग: AAP विधायक का दावा...

दिल्ली का ‘बढ़िया स्कूल’ देखने केरल से आए ऑफिसर लोग: AAP विधायक का दावा फुस्स, वामपंथी सरकार ने निकाली हवा

अरविन्द केजरीवाल ने पंजाब चुनावों में भी दिल्ली मॉडल की काफी चर्चा की थी। केरल देश का सबसे शिक्षित राज्य है। वहाँ से दिल्ली की शिक्षा व्यवस्था से प्रभावित होकर प्रतिनिधिमंडल आना आप पार्टी की सरकार की छवि में चार चाँद लगा रहा था।

केरल सरकार (Kerala Government) ने आप विधायक आतिशी मार्लेना (Atishi Marlena) के उस दावे का खंडन किया है, जिसमें उन्होंने दावा किया था कि केरल के एक प्रतिनिधिमंडल ने दिल्ली के स्कूलों का दौरा किया और यहाँ के स्कूली मॉडल को समझा। 23 अप्रैल 2022 (शनिवार) को आतिशी ने एक ट्वीट कर कहा कि केरल के प्रतिनिधिमंडल ने दिल्ली के कलकाजी स्कूल का दौरा किया और यहाँ के मॉडल को समझकर उसे केरल में लागू करने में रुचि दिखाई। इस दावे को केरल के शिक्षा मंत्री ने गलत बताया है।

साभार – ट्विटर

आतिशी ने अपने ट्वीट में लिखा था, “केरल के अधिकारियों की कालका जी के स्कूल में मेजबानी करना शानदार रहा। वो हमारे शिक्षा मॉडल0 को समझना चाह रहे थे और उसे अपने प्रदेश में लागू करना चाह रहे थे। यह अरविंद केजरीवाल सरकार की विकास के माध्यम से राष्ट्र निर्माण का तरीका है साझेदारी से विकास।

source – Twitter

ठीक यही ट्वीट आम आदमी पार्टी के आधिकारिक हैंडल से भी किया गया। इस ट्वीट में लिखा था, “केरल के सम्मानित लोगों ने दिल्ली के सरकारी स्कूलों का दौरा कर शिक्षा में हुई क्रान्ति देखा। उन्होंने कहा कि उन्होंने सोचा नहीं था कि सुविधाएँ इतनी बेहतरीन होंगी। केजरीवाल सरकार की हैपीनेस क्लासेस से इंप्रेस शिक्षाविदों ने इसे केरल में भी लागू करने की इच्छा जताई।”

अरविन्द केजरीवाल ने पंजाब चुनावों में भी दिल्ली मॉडल की काफी चर्चा की थी। केरल देश का सबसे शिक्षित राज्य है। वहाँ से दिल्ली की शिक्षा व्यवस्था से प्रभावित होकर प्रतिनिधिमंडल आना आप पार्टी की सरकार की छवि में चार चाँद लगा रहा था।

केरल के शिक्षा मंत्री ने किया खंडन

आतिशी और उनकी आम आदमी पार्टी सरकार के इन दावों का केरल सरकार ने खंडन किया है। केरल के शिक्षा मंत्री वी सिवनकुट्टी ने कहा, “केरल के शिक्षा विभाग ने किसी भी व्यक्ति को ‘दिल्ली मॉडल’ के बारे में जानकारी लेने के लिए नहीं भेजा है। पिछले महीने दिल्ली से कुछ अधिकारी केरल के शिक्षा मॉडल को समझने आए थे। हम ये जानना चाह रहे हैं कि आम आदमी पार्टी की विधायक द्वारा किन ‘अधिकारियों’ का स्वागत किया गया?”

Source – Twitter

इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक, केरल के जिन अधिकारियों ने दिल्ली के स्कूल का दौरा किया उनमें CBSE स्कूल मैनेजमेंट एसोसिएशन के क्षेत्रीय सचिव विक्टर टीआई, केरल सहोदया कॉम्प्लेक्स संघ के कोषाध्यक्ष एम दिनेश बाबू एवं अन्य लोग शामिल थे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

200+ रैली और रोडशो, 80 इंटरव्यू… 74 की उम्र में भी देश भर में अंत तक पिच पर टिके रहे PM नरेंद्र मोदी, आधे...

चुनाव प्रचार अभियान की अगुवाई की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने। पूरे चुनाव में वो देश भर की यात्रा करते रहे, जनसभाओं को संबोधित करते रहे।

जहाँ माता कन्याकुमारी के ‘श्रीपाद’, 3 सागरों का होता है मिलन… वहाँ भारत माता के 2 ‘नरेंद्र’ का राष्ट्रीय चिंतन, विकसित भारत की हुंकार

स्वामी विवेकानंद का संन्यासी जीवन से पूर्व का नाम भी नरेंद्र था और भारत के प्रधानमंत्री भी नरेंद्र हैं। जगह भी वही है, शिला भी वही है और चिंतन का विषय भी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -