Friday, March 5, 2021
Home राजनीति मोदी 2014 Vs मोदी 2019: चुनाव प्रचार और रैली के मामले में 68 साल...

मोदी 2014 Vs मोदी 2019: चुनाव प्रचार और रैली के मामले में 68 साल की उम्र में भी Josh High

पिछले 5 वर्षों में मोदी की लोकप्रियता में और इज़ाफ़ा ही हुआ है। विश्लेषकों का मानना है कि 2019 के मोदी के टक्कर में एक ही व्यक्ति है, और वो हैं 2014 वाले मोदी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस उम्र में भी चुनाव प्रचार के मामले में युवा नेताओं तक को टक्कर दे रहे हैं। प्रधानमंत्री इस वर्ष अपनी रैलियों से ख़ुद को ही चुनौती दे रहे हैं। 17 मई को इस लोकसभा चुनाव के सातों चरणों के चुनाव प्रचार ख़त्म हो जाएँगे और तब तक प्रधानमंत्री कुल 130 रैलियाँ कर चुके होंगे। हालाँकि, नरेंद्र मोदी ने सितम्बर 2013 से मई 10, 2014 तक 425 रैलियाँ की थी। इस वर्ष उन्होंने 28 मार्च को उत्तर प्रदेश स्थित मेरठ में अपनी रैली के साथ चुनाव प्रचार अभियान की शुरुआत की। इस उम्र में भी मोदी एक दिन में औसतन 2 रैलियाँ कर रहे हैं, जिसकी तुलना उनके 2014 के परफॉरमेंस से की जा सकती है। कुछ दिन तो ऐसे होते हैं, जब प्रधानमंत्री मोदी 3 रैलियों को सम्बोधित करते हैं, वो भी 3 अलग-अलग राज्यों में।

जैसे कि अप्रैल का उदाहरण लीजिए। इस दिन पीएम मोदी ने बिहार के फारबिसगंज, पश्चिम बंगाल के दिनाजपुर और उत्तर प्रदेश के एटा में रैलियाँ की, यानी एक दिन में तीन अलग-अलग राज्यों में तीन रैलियाँ। भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने नाम न बताने की शर्त पर हिंदुस्तान टाइम्स को बताया कि प्रधानमंत्री 17 मई तक इस चुनाव में 130 रैलियों को सम्बोधित कर चुके होंगे। एचटी के इस रिपोर्ट के लिखे जाने तक, मोदी के 2019 चुनाव प्रचार अभियान की बात करें तो उन्होंने अबतक 107 रैलियाँ सम्बोधित की हैं और उनके द्वारा 2 दर्जन और रैलियाँ सम्बोधित की जाने की संभावना है। अभी 2 चरणों का लोकसभा चुनाव बाकी है और 5 चरणों का मतदान संपन्न हो चुका है।

नरेंद्र मोदी ने बिहार, पश्चिम बंगाल, उत्तर प्रदेश और हिमाचल प्रदेश में प्रमुख रैलियों को सम्बोधित की। 4 मई को 5वें चरण के लिए चुनाव प्रचार की अंतिम तारीख़ थी और उस दिन प्रधानमंत्री ने बिहार में 1 और उत्तर प्रदेश में 2 रैलियों को सम्बोधित किया। बिहार के वाल्मिकीनगर और उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ और बस्ती में उनकी जनसभाएँ हुईं। उनकी रैलियाँ मार्च में शुरू हुईं लेकिन उन्होंने किसी भी क्षेत्र को नहीं छोड़ा। पश्चिम बंगाल और दक्षिण भारत से लेकर उत्तर-पूर्वी राज्यों तक, मोदी ने हर जगह जनसभाएँ की। बंगाल, बिहार और यूपी में सातों चरणों में चुनाव हो रहे हैं। हिमाचल की 4 सीटों पर 19 मई को अंतिम चरण में चुनाव होंगे।

2014 में मोदी के गहन प्रचार अभियान का कमाल ही था कि भाजपा पिछले 32 वर्षों में अपने दम पर बहुमत पाने वाली पहली पार्टी बनीं। इस बार मोदी के प्रचार अभियान को लेकर 2 से 3 संसदीय क्षेत्रों के कई समूह तैयार किए गए हैं, जहाँ मोदी रैली करते हैं और वहाँ उन सभी संसदीय क्षेत्रों के भाजपा प्रत्याशी मंच पर उपस्थित रहते हैं। भाजपा नेता जीवीएल नरसिम्हा राव का कहना है कि पिछले 5 वर्षों में मोदी की लोकप्रियता में और इज़ाफ़ा ही हुआ है। विश्लेषकों का मानना है कि 2019 के मोदी के टक्कर में एक ही व्यक्ति है, और वो हैं 2014 वाले मोदी।

भारत में जनता हमेशा अपने नायकों को अपने सामने देखना चाहती है, चाहे वो फ़िल्मी हीरो हों या मोदी जैसे लोकप्रिय बड़े नेता। उन्हें टीवी पर देखने और सामने मंच पर देखने में अलग-अलग बातें हैं। नरेंद्र मोदी अपनी एक रैली से किसी भी संसदीय क्षेत्र का चुनावी गणित बदलने की क्षमता रखते हैं और इस उम्र में भी उनका ये अथक प्रयास प्रेरणादायक है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘शिवलिंग पर कंडोम’ से विवादों में आई सायानी घोष TMC कैंडिडेट, ममता बनर्जी ने आसनसोल से उतारा

बंगाल विधानसभा चुनाव के लिए टीएमसी ने उम्मीदवारों का ऐलान कर दिया है। इसमें हिंदूफोबिक ट्वीट के कारण विवादों में रही सायानी घोष का भी नाम है।

‘हिंदू भगाओ, रोहिंग्या-बांग्लादेशी बसाओ पैटर्न का हिस्सा है मालवणी’: 5 साल पहले थे 108 हिंदू परिवार, आज बचे हैं 7

मुंबई बीजेपी के अध्यक्ष मंगल प्रभात लोढ़ा ने महाराष्ट्र विधानसभा में मालवणी में हिंदुओं पर हो रहे अत्याचार का मसला उठाया है।

तापसी की चिंता में डूबे बॉयफ्रेंड भी आए IT जाँच के दायरे में, असली वजह फेर सकती है ‘गैंग’ के सपनों पर पानी

तापसी पन्नू के बॉयफ्रेंड बो के अनुराग कश्यप सहित कई बॉलीवुड हस्तियों के खिलाफ चल रही आयकर विभाग की कार्रवाई से बहुत गहरा संबंध है। एक और मामले से बो का जुड़ाव पता चला है जो उसके परेशानी का वास्तविक कारण है।

केरल गोल्ड तस्करी में CM विजयन और 3 कैबिनेट मंत्री डायरेक्ट शामिल: मुख्य आरोपित स्वप्ना सुरेश ने किया खुलासा

केरल के सोना और डॉलर तस्करी मामले में मुख्य आरोपित स्वप्ना सुरेश ने बेहद चौंकाने वाला खुलासा किया। मुख्यमंत्री पिनराई विजयन खुद ही...

तापसी के बॉयफ्रेंड को PM मोदी के मंत्री ने समझाया देश का कानून, टैक्स मामले में ट्वीट कर बता रहा था परेशानी

“भूमि का कानून सर्वोच्च है और हमें उसका पालन करना चाहिए। यह विषय आपके और मेरे डोमेन से परे है। हमें भारतीय खेलों के सर्वोत्तम हित में अपने पेशेवर कर्तव्यों पर कायम रहना चाहिए।"

33 आरोपित-200 चश्मदीद, रिया चकवर्ती का भी नाम: सुशांत सिंह से जुड़े ड्रग्स मामले में चार्जशीट फाइल

अभिनेता सुशांत सिंह राजूपत की मौत से जुड़े ड्रग्स मामले में नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) ने चार्जशीट दाखिल कर दी है।

प्रचलित ख़बरें

तिरंगे पर थूका, कहा- पेशाब पीओ; PM मोदी के लिए भी आपत्तिजनक बात: भारतीयों पर हमले के Video आए सामने

तिरंगे के अपमान और भारतीयों को प्रताड़ित करने की इस घटना का मास्टरमाइंड खालिस्तानी MP जगमीत सिंह का साढू जोधवीर धालीवाल है।

‘मैं 25 की हूँ पर कभी सेक्स नहीं किया’: योग शिक्षिका से रेप की आरोपित LGBT एक्टिविस्ट ने खुद को बताया था असमर्थ

LGBT एक्टिविस्ट दिव्या दुरेजा पर हाल ही में एक योग शिक्षिका ने बलात्कार का आरोप लगाया है। दिव्या ने एक टेड टॉक के पेनिट्रेटिव सेक्स में असमर्थ बताया था।

16 महीने तक मौलवी ‘रोशन’ ने चेलों के साथ किया गैंगरेप: बेटे की कुर्बानी और 3 करोड़ के सोने से महिला का टूटा भ्रम

मौलवी पर आरोप है कि 16 माह तक इसने और इसके चेले ने एक महिला के साथ दुष्कर्म किया। उससे 45 लाख रुपए लूटे और उसके 10 साल के बेटे को...

अंदर शाहिद-बाहर असलम, दिल्ली दंगों के आरोपित हिंदुओं को तिहाड़ में ही मारने की थी साजिश

हिंदू आरोपितों को मर्करी (पारा) देकर मारने की साजिश रची गई थी। दिल्ली पुलिस ने साजिश का पर्दाफाश करते हुए दो को गिरफ्तार किया है।

‘जाकर मर, मौत की वीडियो भेज दियो’ – 70 मिनट की रिकॉर्डिंग, आत्महत्या से ठीक पहले आरिफ ने आयशा को ऐसे किया था मजबूर

अहमदाबाद पुलिस ने आयशा और आरिफ के बीच हुई बातचीत की कॉल रिकॉर्ड्स को एक्सेस किया। नदी में कूदने से पहले आरिफ से...

BBC के शो में PM नरेंद्र मोदी को माँ की गंदी गाली, अश्लील भाषा का प्रयोग: किसान आंदोलन पर हो रहा था ‘Big Debate’

दिल्ली में चल रहे 'किसान आंदोलन' को लेकर 'BBC एशियन नेटवर्क' के शो में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आपत्तिजनक टिप्पणी (माँ की गाली) की गई।
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

292,301FansLike
81,951FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe