Thursday, June 13, 2024
Homeबड़ी ख़बरत्रिपुरा कॉन्ग्रेस अध्यक्ष की गुंडागर्दी: थाने में घुसकर युवक को जड़ा थप्पड़... लेकिन किस्मत...

त्रिपुरा कॉन्ग्रेस अध्यक्ष की गुंडागर्दी: थाने में घुसकर युवक को जड़ा थप्पड़… लेकिन किस्मत खराब, वीडियो हो गया Viral

प्रद्योत किशोर अपने समर्थकों के साथ पुलिस स्टेशन पहुँचे और आरोपी शख्स को जोरदार तमाचा जड़ दिया। पुलिस स्टेशन में मौजूद पुलिस वालों मे बीच बचाव किया, लेकिन...

त्रिपुरा के कॉन्ग्रेस अध्यक्ष प्रद्योत किशोर देव बर्मन का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें वो थाने में घुसकर एक शख्स को थप्पड़ मारते हुए नजर आ रहे हैं। जानकारी के मुताबिक, जिस शख्स को बर्मन थप्पड़ मारते हुए नजर आ रहे हैं, उसे पुलिस ने गिरफ्तार कर रखा था। इस शख्स पर प्रद्योत देव बर्मन की बहन व त्रिपुरा कॉन्ग्रेस उम्मीदवार प्रज्ञा देव बर्मन के काफिले पर हमला करने का आरोप है। पुलिस आरोपी शख्स को गिरफ्तार कर उससे पूछताछ कर रही है। इस बीच थाने में घुसकर आरोपी शख्स को थप्पड़ मारने का त्रिपुरा के कॉन्ग्रेस अध्यक्ष प्रद्योत देव बर्मन का ये वीडियो सोशल मीडिया पर भी वायरल होने लगा है।

प्रद्योत किशोर को जब आरोपी के गिरफ्तार होने की बात पता चली, तो वो अपने समर्थकों के साथ पुलिस स्टेशन पहुँचे और आरोपी शख्स को जोरदार तमाचा जड़ दिया। पुलिस स्टेशन में मौजूद पुलिस वालों ने बीच बचाव किया, लेकिन प्रद्योत किशोर का पारा सातवें आसमान पर था। वो किसी की भी बात सुनने के लिए तैयार नहीं थे। पुलिस उप महानिरीक्षक अरिंदम नाथ के अनुसार, आरोपी इंडिजिनियस पीपुल्स फ्रंट ऑफ त्रिपुरा (आईपीएफटी) का समर्थक है।

इस मामले पर बात करते हुए भाजपा के वरिष्ठ नेता रतन लाल नाथ ने कहा कि वीडियो में ये साफ-साफ दिखाई दे रहा है कि कैसे प्रद्योत किशोर ने अपने राजनीतिक विरोधियों को डराने-धमकाने की कोशिश की है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि अगर ये इंसान पुलिस स्टेशन के अंदर किसी शख्स के ऊपर हाथ उठा सकता है, तो फिर तो ये कहीं भी किसी की भी हत्या कर सकता है। त्रिपुरा में 23 अप्रैल को तीसरे चरण में मतदान होना है और आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद भी त्रिपुरा कॉन्ग्रेस अध्यक्ष का थाने में घुसकर थप्पड़ मारने की घटना उनको मुश्किल में डाल सकती है।

बता दें कि, प्रज्ञा देव बर्मन त्रिपुरा संसदीय सीट से कॉन्ग्रेस प्रत्याशी हैं और त्रिपुरा ईस्ट से चुनाव लड़ रही हैं। इस मामले में प्रज्ञा का भी बयान सामने आया है। प्रज्ञा ने कहा है कि वो तुलाशिखर में सभा को संबोधित करके लौट रही थी, तभी आईपीएफटी के समर्थकों ने उनके काफिले पर ईंट फेंक कर हमला किया। उन्होंने कहा कि ऐसा लगा था कि इस शख्स के साथ कुछ और लोग भी थे। इसके साथ ही प्रज्ञा ने कहा कि जनता से मिल रहे समर्थन को देखते हुए राजनीतिक ईर्ष्या के तहत उनकी कार पर पथराव करने का प्रयास किया गया।

वहीं, प्रद्योत ने थप्पड़ मारने वाली घटना के बाद कहा, “यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण घटना थी। इस व्यक्ति ने मेरी बहन पर ईंट से हमला किया था, जिससे वह बाल-बाल बचीं। मैं अपने खिलाफ होने वाले हर कार्रवाई के लिए तैयार हूँ, लेकिन मैंने वही किया जो कोई भी भाई या त्रिपुरा का एक जिम्मेदार नागरिक करता।” जबकि आईपीएफटी ने इन आरोपों से इनकार करते हुए कहा कि उसके समर्थकों ने प्रतिद्वंद्वी उम्मीदवार के काफिले पर कोई पत्थरबाजी नहीं की थी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नेता खाएँ मलाई इसलिए कॉन्ग्रेस के साथ AAP, पानी के लिए तरसते आम आदमी को दोनों ने दिखाया ठेंगा: दिल्ली जल संकट में हिमाचल...

दिल्ली सरकार ने कहा है कि टैंकर माफिया तो यमुना के उस पार यानी हरियाणा से ऑपरेट करते हैं, वो दिल्ली सरकार का इलाका ही नहीं है।

पापुआ न्यू गिनी में चली गई 2000 लोगों की जान, भारत ने भेजी करोड़ों की राहत (पानी, भोजन, दवा सब कुछ) सामग्री

प्राकृतिक आपदा के कारण संसाधनों की कमी से जूझ रहे पापुआ न्यू गिनी के एंगा प्रांत को भारत ने बुनियादी जरूरतों के सामान भेजे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -