Friday, May 24, 2024
Homeराजनीति'पैसे लेकर टिकट देते हो, मैंने पहले ही कहा था भाग जाएगा': फोन पर...

‘पैसे लेकर टिकट देते हो, मैंने पहले ही कहा था भाग जाएगा’: फोन पर पार्टी को हड़काते दिखे इंदौर कॉन्ग्रेस के अध्यक्ष, कहा – भुगतो खामियाजा

इंदौर कॉन्ग्रेस के कार्यवाहक अध्यक्ष देवेंद्र यादव ने पार्टी पर पैसे लेकर टिकट बेचने का आरोप लगा दिया है।

लोकसभा चुनाव 2024 में मध्य प्रदेश के इंदौर में बीजेपी को चुनौती देने के लिए कॉन्ग्रेस का कोई प्रत्याशी ही मैदान में नहीं है। कॉन्ग्रेस प्रत्याशी अक्षय कांति बम ने नामांकन वापसी के आखिरी दिन पर्चा वापस ले लिया और बीजेपी में शामिल हो गए, जिसके बाद तमाम तरह की चर्चाएँ चल रही हैं। अक्षय कांति बम के नामांकन वापस लेने और भाजपा में शामिल होने से कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं व नेताओं में खासी नाराजगी है और अब उनका गुस्सा खुलकर सामने आ रहा है। इंदौर कॉन्ग्रेस के कार्यवाहक अध्यक्ष देवेंद्र यादव ने पार्टी पर पैसे लेकर टिकट बेचने का आरोप लगा दिया है।

इन्दौर शहर कॉन्ग्रेस कमेटी के कार्यवाहक अध्यक्ष देवेंद्र यादव का किसी बड़े कॉन्ग्रेसी नेता से फोन पर बात करने का वीडियो वायरल हो रहा है। जिसमें देवेंद्र यादव का गुस्सा साफ तौर पर दिख रहा है। देवेंद्र यादव फोन पर बोलते दिख रहे हैं, “मैं शुरू से बोल रहा था, ये नाम वापस ले लेगा। मैंने टिकट ताकत से माँगा था कि इससे अच्छा चुनाव लडूँगा, मगर पैसे को देखते हुए हमारे नेताओं ने उसे टिकट दिया। वह कॉल पर कहते हैं कि क्यों दिया उसको टिकट? क्या किया उसने? क्या योगदान था उसका कॉन्ग्रेस पार्टी में? कौन सा संघर्ष किया उसने।”

इसके बाद वह कहते हैं, “हम आज भी पूरी दमदारी के साथ खड़े हैं यहाँ, मगर वो निकल गया। हम बताते हैं फिर उसको। जमीनी कार्यकर्ताओं को, जो 30 सालों से पार्टी के लिए संघर्ष कर रहे थे। उनको मौका न देकर पैसे वालों को टिकट दिया गया है। पैसे लेकर टिकट दिया गया। पैसा देखकर टिकट दिया गया।” इस वीडियो में वो एक जगह बोलते दिख रहे हैं, “मैं खुद फॉर्म भरने वाला था, लेकिन पार्टी हाईकमान ने अनुमति नहीं दी। मेरा फॉर्म पूरा भरा था। अगर आज मुझे अनुमति दी होती तो आज कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता काम करता।”

चर्चा है कि देवेन्द्र यादव ने सीधे पीसीसी चीफ जीतू पटवारी को फोन लगाया था और उन्हें खरी-खोटी सुनाई। वो जिस समय फोन पर बात कर रहे थे, उस समय वो इंदौर कलेक्ट्रेट के सामने ही खड़े थे। फोन पर वो कहते हैं, “आज भी यहाँ दमदारी से खड़ा हूँ, वो निकल गया। नहीं तो बताते उसको। सब पार्टी की गलती है पार्टी क्यों ऐसे लोगों को टिकट देती है क्यों पैसे देखकर टिकट देती है? अब भुगतो इसका खामियाजा।”

वरिष्ठ पत्रकार डॉ. राकेश पाठक ने ये वीडियो शेयर करते हुए लिखा, “सुनिए इंदौर में कॉन्ग्रेस के कार्यवाहक अध्यक्ष देवेंद्र यादव क्या कह रहे हैं। वे अक्षय कांति बम की नाम वापसी के बाद कलेक्टर ऑफिस के सामने से किसी बड़े नेता से बात कर रहे थे।”

बता दें कि इंदौर से कॉन्ग्रेस के लोकसभा उम्मीदवार अक्षय कांति बम ने नामांकन वापसी के आखिरी दिन अपना नामांकन वापस ले लिया और वो बीजेपी में शामिल हो गए। इसके साथ ही मध्य प्रदेश में खजुराओ के बाद इंदौर ऐसी दूसरी लोकसभा सीट हो गई, जहाँ बीजेपी के सामने कोई गंभीर चुनौती नहीं है। खजुराहो में समाजवादी पार्टी की उम्मीदवार का पर्चा ही खारिज हो गया था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नाम – कृष्णा मोहिनी, जगह – द्वारका, एजेंडा – प्राइड मार्च वाला: Colors के सीरियल में LGBTQIA+ प्रोपेगंडा के लिए बच्चे का इस्तेमाल, लड़का...

सीरियल में जब बच्चा पूछता है कि 'प्राइड मार्च' क्या होता है, तो एक शख्स समझाता है कि वो लड़की पैदा हुई थी लेकिन उसे लड़के जैसा रहना पसंद है तो उसने खुद को लड़का बना दिया।

पहले दोस्ती की, फिर फ्लैट में ले गई… MP अनवारुल अजीम की हत्या में शिलांती रहमान पकड़ी गई, कसाई से कटवाया फिर हल्दी लगाकर...

बांग्लादेशी सांसद की हत्या मामला में वो महिला हिरासत में ले ली गई है जिसने उन्हें हनीट्रैप में फँसाकर फ्लैट में बुलवाया था। महिला का नाम शिलांती रहमान है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -