Tuesday, July 27, 2021
Homeराजनीतिअमेठी में ज़बरदस्ती हाथ पकड़कर पीठासीन अधिकारी ने कॉन्ग्रेस को डलवाया वोट

अमेठी में ज़बरदस्ती हाथ पकड़कर पीठासीन अधिकारी ने कॉन्ग्रेस को डलवाया वोट

अमेठी सीट से भाजपा प्रत्याशी स्मृति ईरानी ने कॉन्ग्रेस अध्यक्ष और अमेठी सीट से कॉन्ग्रेस उम्मीदवार राहुल गाँंधी पर बूथ कैंपचरिंग करने का आरोप लगाया है। स्मृति ईरानी का आरोप है कि यहाँ पर पीठासीन अधिकारी कॉन्ग्रेस के इशारे पर भाजपा का वोट कॉन्ग्रेस को डलवा रहे हैं।

देश में आज लोकसभा चुनाव के पाँचवें चरण के लिए 7 राज्यों की 51 सीटों पर मतदान हो रहा है। इस बीच एक ख़बर सामने आई है कि एक वृद्ध मतदाता का हाथ ज़बरदस्ती पकड़कर उससे कॉन्ग्रेस को वोट दिलवाया गया। मामला अमेठी के गौरगंज के गूजरटोला बूथ नंबर 316 का है जहाँ पीठासीन अधिकारी ने एक बूढ़ी महिला का हाथ पकड़कर उससे ज़बरदस्ती कॉन्ग्रेस का बटन दबवाया और वोट कॉन्ग्रेस को डलवाया, जबकि उस महिला ने स्पष्ट किया कि वो अपना वोट बीजेपी को देना चाहती थी जिसके लिए वो कमल का बटन दबाना चाहती थी, लेकिन पीठासीन अधिकारी ने उसकी मंशा भाँपते हुए उसका हाथ पकड़ा और पंजे (हाथ) के निशान वाला बटन दबवा दिया।

ये मामला सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है, जिस पर लोगों ने कड़ी आपत्ति दर्ज की है। ट्विटर पर अपना ग़ुस्सा ज़ाहिर करते हुए एक यूज़र ने लिखा, “ये क्या हो रहा देश में। कुछ कानून नाम के कोई चीज है या नही। पूरी गुंडा गर्दी हो रही है।।।”

एक यूज़र ने ट्वीट कर पीठासीन अधिकारी के ऊपर कठोर कार्रवाई करने की माँग की, इसके अलावा पीठासीन अधिकारी को निष्पक्ष चुनाव कराने की बात भी लिखी गई।

ट्विटर पर एक अन्य यूज़र ने इस घटना को गंभीरता से लेते हुए लिखा कि अभी सिस्टम मे बहुत कॉन्ग्रेसी और जातिवादी दीमक लोकतंत्र को कुतरने और चमचई करने में लगे हैं। साथ ही EVM पर हमेशा सवाल उठाने वाली कॉन्ग्रेस को भी आड़े हाथों लेते हुए राहुल गाँधी को शहज़ादा तक कह डाला।

इस घटना से इस बात का अंदाज़ा लगाया जा सकता है कि कॉन्ग्रेस वोट पाने की चाहत में कुछ भी कर गुज़रने पर उतारू है। ये मामला भले ही किसी एक जगह से आया हो लेकिन ऐसा अन्य जगहों पर नहीं होगा, इसकी कोई गारंटी नहीं है।

इस सब के बीच अमेठी सीट से भाजपा प्रत्याशी स्मृति ईरानी ने कॉन्ग्रेस अध्यक्ष और अमेठी सीट से कॉन्ग्रेस उम्मीदवार राहुल गाँंधी पर बूथ कैंपचरिंग करने का आरोप लगाया है। स्मृति ईरानी का आरोप है कि यहाँ पर पीठासीन अधिकारी कॉन्ग्रेस के इशारे पर भाजपा का वोट कॉन्ग्रेस को डलवा रहे हैं। स्मृति ईरानी ने अमेठी ने वीडियो ट्वीट शेयर करते हुए इसकी शिकायत चुनाव आयोग और प्रशासन की है और साथ ही कार्रवाई की माँग की। वीडियो के वायल होने के बाद आला अधिकारी हरकत में आ गए और मामले पर संज्ञान लेते हुए जिला निर्वाचन विभाग ने फौरन पीठासीन अधिकारी को हटा दिया और उनकी जगह पर नए पीठासीन अधिकारी को तैनात किया गया है। गौरीगंज के उप जिला निर्वाचन अधिकारी अमित कुमार सिंह ने बताया कि मामले की जाँच करवाई जाएगी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘राजीव गाँधी थे PM, उत्तर-पूर्व में गिरी थी 41 लाशें’: मोदी सरकार पर तंज कसने के फेर में ‘इतिहासकार’ इरफ़ान हबीब भूले 1985

इतिहासकार व 'बुद्धिजीवी' इरफ़ान हबीब ने असम-मिजोरम विवाद के सहारे मोदी सरकार पर तंज कसा, जिसके बाद लोगों ने उन्हें सही इतिहास की याद दिलाई।

औरतों का चीरहरण, तोड़फोड़, किडनैपिंग, हत्या: बंगाल हिंसा पर NHRC की रिपोर्ट से निकली एक और भयावह कहानी

राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (NHRC) ने 14 जुलाई को बंगाल में चुनाव के बाद हुई हिंसा पर अपनी अंतिम रिपोर्ट कलकत्ता हाईकोर्ट को सौंपी थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,464FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe